चक्रवात 'रेमल' के बारे में आई यह बड़ी खबर, यहां रहेगा ज़बर्दस्त असर

नडीआरएफ की एक टीम गोसाबा इलाके में पहले ही तैनात हो चुकी है

चक्रवात 'रेमल' के बारे में आई यह बड़ी खबर, यहां रहेगा ज़बर्दस्त असर

Photo: @Indiametdept X account

नई दिल्ली/दक्षिण भारत। चक्रवात 'रेमल' अगले कुछ घंटों में एक गंभीर चक्रवाती तूफान में तब्दील हो जाएगा और 26 मई की आधी रात के लगभग बांग्लादेश और आस-पास के पश्चिम बंगाल तटों के बीच एक गंभीर चक्रवाती तूफान के रूप में पार हो जाएगा।

पश्चिम बंगाल के दक्षिण 24 परगना के प्रखंड आपदा प्रबंधन पदाधिकारी प्रदीप कुमार ने बताया कि हम चक्रवात 'रेमल' का सामना करने के लिए तैयार हैं। हम 14-ग्राम पंचायत आपदा प्रबंधन नियंत्रण कक्ष के साथ भी समन्वय कर रहे हैं और हम किसी भी स्थिति के लिए तैयार हैं।

उन्होंने बताया कि एनडीआरएफ की एक टीम गोसाबा इलाके में पहले ही तैनात हो चुकी है और कई और स्कूल भवन और 10 फ्लैट सेंटर बचाव केंद्र के लिए तैयार हैं।

भारत मौसम विज्ञान विभाग ने बताया कि उत्तरी बीओबी पर एससीएस रेमल खेपुपारा से लगभग 260 किमी एसएसडब्ल्यू और सागर द्वीप समूह से 240 किमी एसएसई है। चक्रवात केंद्र पर अधिकतम हवा की गति 90-100 किमी प्रति घंटा रहेगी।

Google News

About The Author

Post Comment

Comment List

Advertisement

Latest News

'हिंदी के साथ हमारे स्वाभिमान और राष्ट्रीय एकता का जुड़ाव है' 'हिंदी के साथ हमारे स्वाभिमान और राष्ट्रीय एकता का जुड़ाव है'
राजभाषा के प्रयोग-प्रसार एवं कार्यान्वयन से संबंधित उपलब्धियों को प्रदर्शित करने वाली प्रदर्शनी भी लगाई गई
यूक्रेन को मिलेगी राहत? शांतिवार्ता के लिए पुतिन ने रखीं ये शर्तें
बीएचईएल को थर्मल पावर प्लांट के लिए दो बैक-टू-बैक ऑर्डर मिले
जी-7 शिखर सम्मेलन: मैक्रों समेत इन नेताओं से मिले मोदी, कई मुद्दों पर हुई चर्चा
येडियुरप्पा के खिलाफ गैर-जमानती वारंट पर बोले कुमारस्वामी- पिछले 4 महीनों में पुलिस विभाग क्या कर रहा था?
ऐसा मैसेज आए तो रहें सावधान, यहां सॉफ्टवेयर इंजीनियर और उसके परिवार ने गंवा दिए 5.14 करोड़ रु.
मोदी के नेतृत्व में अंतरराष्ट्रीय मंच पर शानदार प्रदर्शन कर रहा भारत, कांग्रेस को हो रही ईर्ष्या: भाजपा