सपा-कांग्रेस के 'शहजादों' को अपने परिवार के आगे कुछ भी नहीं दिखता: मोदी

प्रधानमंत्री ने उत्तर प्रदेश के प्रयागराज में भाजपा की चुनावी जनसभा को संबोधित किया

सपा-कांग्रेस के 'शहजादों' को अपने परिवार के आगे कुछ भी नहीं दिखता: मोदी

प्रधानमंत्री ने कहा कि सपा सरकार में माफिया गरीबों की जमीनों पर कब्जा करता था

प्रयागराज/दक्षिण भारत। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को उत्तर प्रदेश के प्रयागराज में भाजपा की चुनावी जनसभा को संबोधित करते हुए विपक्ष पर हमला बोला। उन्होंने कहा कि साल 2024 का यह चुनाव तय करेगा कि भारत के भविष्य की त्रिवेणी किधर बहेगी ... आप भी देख रहे हैं कि आज भारत की पहचान कैसे होती है? भारत की पहचान अब एक्सप्रेसवे और आधारभूत ढांचे से होती है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि बड़े-बड़े देश मुझसे कहते हैं कि भारत की डिजिटल टेक्नोलॉजी हमें भी चाहिए। भारत अब दुनिया में अपनी आवाज बुलंद कर रहा है। भारत आज जी20 का आयोजन करवाता है तो पूरी दुनिया हैरान हो जाती है। यही तो प्रयागराज का मिजाज है। यहां के लोग न किसी से दबकर रहते हैं, न किसी से डरकर रहते हैं।

प्रधानमंत्री ने कहा कि सपा-कांग्रेस और इंडि गठबंधन वालों को भारत की तारीफ हजम नहीं होती। कांग्रेस के शहजादे भारत को गाली देने के लिए विदेश जाते हैं। ये इंडि गठबंधन वाले चुनाव भी किस एजेंडे पर लड़ रहे हैं?

इनका एजेंडा है- कश्मीर में अनुच्छेद-370 फिर लगाएंगे। सीएए को रद्द करेंगे। भ्रष्टाचार पर जो कड़े कानून बने हैं, उन्हें रद्द करेंगे।

प्रधानमंत्री ने कहा कि मोदी का मंत्र है- विकास भी, विरासत भी। अभी अयोध्या में भव्य राम मंदिर बना है। अब निषादराज के शृंगवेरपुर का विकास किया जाएगा। शृंगवेरपुर राम वन गमनपथ का प्रमुख तीर्थ बनेगा। क्या सपा-कांग्रेस वाले कभी भी ये काम करेंगे? सपा-कांग्रेस के शहजादों को अपने परिवार के आगे कुछ भी दिखता नहीं है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि प्रयागराज में होने वाले कुंभ का उदाहरण देखिए। सपा-कांग्रेस के समय क्या होता था? भीड़ में भगदड़ मच जाती थी। लोगों को अपनी जान गंवानी पड़ती थी। हर तरफ अव्यवस्था होती थी। उन्हें कुंभ से ज्यादा अपने वोटबैंक की चिंता रही है। अगर कुंभ के लिए ज्यादा कुछ करते दिख गए तो कहीं उनका वोटबैंक बुरा न मान जाए! उन्हें इसका डर रहता था। सपा-कांग्रेस में तुष्टीकरण की प्रतिस्पर्धा होती थी।

प्रधानमंत्री ने कहा कि सपा सरकार में माफिया गरीबों की जमीनों पर कब्जा करता था। अब उनके अवैध महल तोड़कर भाजपा सरकार गरीबों के लिए घर बनवाती है। युवा कभी भूल नहीं सकते, सपा सरकार कैसे आपके सपनों का सौदा करती थी! मेहनत आपकी, योग्यता आपकी, लेकिन नौकरी किसे मिलती थी? नौकरी मिलती थी जाति देखकर, नौकरी मिलती थी घूस देने वालों को।

Google News

About The Author

Post Comment

Comment List

Advertisement

Latest News

जमीन से जुड़ाव जरूरी जमीन से जुड़ाव जरूरी
कम-से-कम अगले लोकसभा चुनाव तक तो इनकी चर्चा जारी रहेगी
'हिंदी के साथ हमारे स्वाभिमान और राष्ट्रीय एकता का जुड़ाव है'
यूक्रेन को मिलेगी राहत? शांतिवार्ता के लिए पुतिन ने रखीं ये शर्तें
बीएचईएल को थर्मल पावर प्लांट के लिए दो बैक-टू-बैक ऑर्डर मिले
जी-7 शिखर सम्मेलन: मैक्रों समेत इन नेताओं से मिले मोदी, कई मुद्दों पर हुई चर्चा
येडियुरप्पा के खिलाफ गैर-जमानती वारंट पर बोले कुमारस्वामी- पिछले 4 महीनों में पुलिस विभाग क्या कर रहा था?
ऐसा मैसेज आए तो रहें सावधान, यहां सॉफ्टवेयर इंजीनियर और उसके परिवार ने गंवा दिए 5.14 करोड़ रु.