धनशोधन मामले में जम्मू-कश्मीर में ईडी के ताबड़तोड़ छापे, इतनी बड़ी है रकम!

इसमें ‘जम्मू-कश्मीर स्टेट कॉपरेटिव बैंक लिमिटेड’ के पूर्व अध्यक्ष के परिसर पर छापे भी शामिल हैं

धनशोधन मामले में जम्मू-कश्मीर में ईडी के ताबड़तोड़ छापे, इतनी बड़ी है रकम!

काल्पनिक आवासीय सोसाइटी ‘रिवर झेलम कॉपरेटिव हाउसिंग बिल्डिंग सोसाइटी’ के नाम पर फर्जीवाड़ा हुआ था

श्रीनगर/भाषा। प्रवर्तन निदेशालय ने 250 करोड़ रुपये के धनशोधन मामले में बृहस्पतिवार को जम्मू-कश्मीर में छह स्थानों में छापे मारे। अधिकारियों ने यह जानकारी दी।

उन्होंने बताया कि इसमें ‘जम्मू-कश्मीर स्टेट कॉपरेटिव बैंक लिमिटेड’ के पूर्व अध्यक्ष के परिसर पर छापे भी शामिल हैं। इससे पहले अधिकारियों ने कहा था कि यह मामला जम्मू-कश्मीर बैंक से जुड़ा है।

उन्होंने बताया कि काल्पनिक आवासीय सोसाइटी ‘रिवर झेलम कॉपरेटिव हाउसिंग बिल्डिंग सोसाइटी’ के नाम पर फर्जीवाड़ा हुआ था।

अधिकारियों ने बताया कि ईडी के श्रीनगर कार्यालय ने धनशोधन रोकथाम अधिनियम (पीएमएलए) के तहत छापे मारे।

भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो (एसीबी) ने इस मामले में काल्पनिक आवासीय सोसाइटी के अध्यक्ष हिलाल ए मीर, जे-के राज्य सहकारी बैंक लिमिटेड के तत्कालीन अध्यक्ष मोहम्मद शफी डार और अन्य के खिलाफ अगस्त 2020 में आरोप-पत्र दाखिल किया था।

एसीबी की जांच के अनुसार मीर ने सहकारी समितियों के प्रशासन विभाग के सचिव सहकारिता को एक आवेदन दिया था और श्रीनगर के बाहरी इलाके में सैटेलाइट टाउनशिप के निर्माण के लिए 37.5 एकड़ भूमि का कब्जा लेने के वास्ते 300 करोड़ रुपए की वित्तीय सहायता देने के निर्देश जे-के सहकारी बैंक लिमिटेड को देने का अनुरोध किया था।

श्रीनगर में जे-के सहकारी बैंक ने औपचारिकताओं को दरकिनार करते हुए 223 करोड़ रुपए का ऋण मंजूर कर लिया।

जांच में पता चला कि ‘रिवर झेलम कॉपरेटिव हाउसिंग बिल्डिंग सोसाइटी’ जम्मू-कश्मीर सहकारी समितियों के रजिस्ट्रार के पास पंजीकृत ही नहीं है और मीर ने डार और अन्य के साथ मिलकर कर सोसाइटी के नाम पर एक नकली और काल्पनिक पंजीकरण प्रमाणपत्र तैयार कराया और उसके आधार पर ऋण मंजूर करा लिया।

ऋण की राशि भूमि मालिकों के खातों में चली गई लेकिन भूमि बैंक के पास गिरवी ही नहीं रखी गई।

एसीबी की जांच में 223 करोड़ रुपए की हेराफेरी का भी पता लगा और ब्यूरो ने 187 करोड़ रुपए जब्त किए।

Google News

About The Author

Post Comment

Comment List

Advertisement

Latest News

विपक्ष पर मोदी का प्रहार- इस बार तो इन्हें जमानत बचाने के लिए ही बहुत संघर्ष करना पड़ेगा विपक्ष पर मोदी का प्रहार- इस बार तो इन्हें जमानत बचाने के लिए ही बहुत संघर्ष करना पड़ेगा
प्रधानमंत्री ने कहा कि छह दशक के परिवारवाद, भ्रष्टाचार और तुष्टीकरण ने उप्र को विकास में पीछे रखा
प्रधानमंत्री मोदी के कुशल नेतृत्व ने भारत को नई ऊंचाइयों पर पहुंचाया: नड्डा
अगले पांच वर्षों में देश आत्मविश्वास से विकास को नई रफ्तार देगा, यह मोदी की गारंटी: प्रधानमंत्री
मुख्य चुनाव आयुक्त ने तमिलनाडु में लोकसभा चुनाव की तैयारियों की समीक्षा शुरू की
तेलंगाना: बीआरएस विधायक नंदिता की सड़क दुर्घटना में मौत; मुख्यमंत्री, केसीआर ने जताया शोक
अमेरिका की इस निजी कंपनी ने चंद्रमा पर पहला वाणिज्यिक अंतरिक्ष यान उतारकर इतिहास रचा
पश्चिम बंगाल: भाजपा प्रतिनिधिमंडल संदेशखाली का दौरा करेगा