न्यूटन ऑस्कर की दौड़ से बाहर

न्यूटन ऑस्कर की दौड़ से बाहर

लॉस एंजिलिस। भारत की ओर से ९०वें एकेडमी अवाडर्स में सर्वश्रेष्ठ विदेशी भाषा की श्रेणी में आधिकारिक रूप से भेजी गई फिल्म न्यूटन ऑस्कर की दौ़ड से बाहर हो गई है। द एकेडमी ऑफ मोशन पिक्चर आटर्स एंड साइंसेज (एएमपीएएएस) ने घोषणा की कि अमित मसुर्कर के निर्देशन वाली गंभीर कॉमेडी फिल्म उन नौ फिल्मों का हिस्सा नहीं है जिन्होंने अगले चरण की वोटिंग में जगह बनाई है।ये नौ फिल्में हैं : ए फैंटेस्टिक वुमैन (चिली), इन द फेड (जर्मनी), ऑन बॉडी एंड सोल (हंगरी), फॉक्सट्रोट (इस्राइल), द इनसल्ट (लेबनान), लवलेस (रूस), फेलिसाइट (सेनेगल), द वूंड (दक्षिण अफ्रीका) और द स्क्वेयर (स्वीडन)। राजकुमार राव और पंकज त्रिपाठी की मुख्य भूमिकाओं वाली हिंदी भाषी इस फिल्म में छत्तीसग़ढ में व्यवस्था के झोल को दिखाया गया है। ऑस्कर अवाडर्स के लिए नामांकनों की घोषणा २३ जनवरी को की जाएगी। अभी तक किसी भी भारतीय फिल्म ने ऑस्कर नहीं जीता है। सर्वश्रेष्ठ विदेशी फिल्म की श्रेणी में अंतिम पांच तक पहुंचने वाली आखिरी भारतीय फिल्म वर्ष २०११ में आशुतोष गोवारिकर की लगान थी। मदर इंडिया (१९५८) और सलाम बॉम्बे (१९८९) ने भी शीर्ष पांच फिल्मों में जगह बनाई थी।

Tags:

About The Author

Post Comment

Comment List

Advertisement

Advertisement

Latest News

एग्जिट पोल: गुजरात की तरह कर्नाटक​ में भी सत्ता में वापसी कर सकेगी भाजपा? बोम्मई ने दिया यह जवाब एग्जिट पोल: गुजरात की तरह कर्नाटक​ में भी सत्ता में वापसी कर सकेगी भाजपा? बोम्मई ने दिया यह जवाब
मुख्यमंत्री ने कहा, बेशक, कर्नाटक में भी अच्छे परिणाम होंगे
कर्नाटक सरकार राज्य के अंदर और बाहर कन्नडिगों के हितों की रक्षा के लिए प्रतिबद्ध: बोम्मई
अफगानिस्तान: सड़क किनारे बम धमाका कर पेट्रोलियम कंपनी के 7 कर्मचारियों को बस समेत उड़ाया
भारतीय अर्थव्यवस्था के लिए अच्छी खबर, विश्व बैंक ने वृद्धि दर अनुमान इतना बढ़ाया
सीमा विवाद: महाराष्ट्र के मंत्रियों के बेलगावी जाने की संभावना नहीं!
बाबरी विध्वंस के तीन दशक बाद अब क्या कहते हैं अयोध्या के लोग?
जनता की प्रतिक्रिया