कर्नाटक में ‘आजादी का अमृत महोत्सव’ के जश्न की शुरुआत

कर्नाटक में ‘आजादी का अमृत महोत्सव’ के जश्न की शुरुआत

बोम्मई ने विधानसभा में यहां ‘हर घर तिरंगा’ कार्यक्रम की शुरुआत की


बेंगलूरु/भाषा। देशभक्ति के जोश के बीच शनिवार को राजधानी बेंगलूरु और कर्नाटक के अन्य हिस्सों में स्वतंत्रता के 75 वें वर्ष के उपलक्ष्य में ‘आजादी का अमृत महोत्सव’ के तीन दिवसीय भव्य समारोह की शुरुआत हुई।

प्रदेश के राज्यपाल थावरचंद गहलोत, मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई, विदेश मंत्री एस जयशंकर और केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण के अलावा कर्नाटक सरकार के कई मंत्रियों और सत्तारूढ़ दल के विधायकों ने 15 अगस्त तक चलने वाले इस उत्सव में हिस्सा लिया।

गहलोत ने जिला मुख्यालय शहर तुमकुरु में राष्ट्रीय मानव पर्यावरण संरक्षण बल (एनएचईपीएफ) की ओर से आयोजित ‘अमृत भारत’ के समापन कार्यक्रम की अध्यक्षता की।

राज्यपाल ने अपने संबोधन में कहा, ‘आजादी का अमृत महोत्सव’ केंद्र सरकार के प्रगतिशील भारत के 75 साल और देश की जनता, संस्कृति और उपलब्धियों के गौरवशाली इतिहास का जश्न मनाने के लिए सरकार की एक पहल है।

उन्होंने मौके पर मौजूद लोगों को संबोधित करते हुये कहा कि यह त्यौहार देश के लोगों को समर्पित है, जिन्होंने न केवल भारत को अपनी विकास यात्रा में आगे लाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है, बल्कि उनमें प्रधानमंत्री मोदी के आत्मनिर्भर भारत के सपने को साकार करने की शक्ति और क्षमता भी है।

उन्होंने स्वतंत्रता सेनानियों के बलिदान और समर्पण को याद रखने के साथ-साथ विशेष उद्देश्य और लक्ष्यों के प्रति हमारी प्रतिबद्धता को मजबूत करने और देश को आकार देने वाले विचारों और आदर्शों पर चलने की आवश्यकता पर जोर दिया।

राज्यपाल ने कहा, ‘मुझे बताया गया है कि राष्ट्रीय मानव पर्यावरण संरक्षण बल पर्यावरण संरक्षण, गायों की सुरक्षा, नैतिक शिक्षा, जैविक खेती को बढ़ावा देने, राष्ट्रवाद और स्वास्थ्य सुविधाओं के लिए लगन से काम कर रहा है। मैं संस्थान के सभी अधिकारियों और सदस्यों को उनके सराहनीय कार्य लिए बधाई देना चाहता हूं।’

बोम्मई ने विधानसभा में यहां ‘हर घर तिरंगा’ कार्यक्रम की शुरुआत की।

मुख्यमंत्री ने अपने भाषण में युवाओं से राष्ट्र निर्माण के लिए तैयार रहने की अपील की। उन्होंने यह भी कहा कि देश पहले आता है और बाकी बाद में आता है।

बोम्मई के साथ कर्नाटक विधानसभा अध्यक्ष विश्वेश्वर हेगड़े कागेरी, राज्य सरकार के मंत्रियों- वी सुनील कुमार, डॉ. के सुधाकर, बी बावसराज, के गोपालैया और मुख्य सचिव वंदिता शर्मा मौजूद थी ।

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने ‘आजादी का अमृत महोत्सव’ के हिस्से के रूप में शहर में ‘हर घर तिरंगा’ अभियान के तहत मोटरसाइकिल रैली में हिस्सा लिया ।

भारतीय जनता पार्टी की कर्नाटक इकाई की ओर से इस कार्यक्रम का आयोजन शांतिनगर में किया गया था।

पूर्व महापौर एम गौतम कुमार और भाजपा कार्यकर्ताओं ने भी इसमें हिस्सा लिया।

रैली में शामिल अन्य लोगों की तरह अपने कंधे पर भगवा दुपट्टा धारण किए हुए सीतारमण खुली जीप पर खड़ी थीं और अपने हाथ में तिरंगा लहरा रही थीं।

केंद्रीय वित्त मंत्री ने भी कई घरों में जाकर लोगों से भारतीय तिरंगे को श्हर घर तिरंगाश् कार्यक्रम के तहत अपने-अपने भवनों पर फहराने की अपील की तथा तिरंगा झंडा वितरित किया।

विदेश मंत्री एस जयशंकर ने हर घर तिरंगा अभियान के बारे में जागरूकता फैलाने के लिए रामनगर जिले में एक श्प्रभात फेरीश् में भाग लिया।

गले में भगवा दुपट्टा पहने कई भाजपा कार्यकर्ताओं के साथ जयशंकर ने कनकपुरा तालुक के हरहल्ली गांव में मार्च निकाला।

रैली के दौरान भारत माता की जय और हर घर तिरंगा जैसे नारे लगाए गए।

Google News
Tags:

About The Author

Post Comment

Comment List

Advertisement

Latest News