तीन महीने में गिरेगी सरकार : दिनाकरण

तीन महीने में गिरेगी सरकार : दिनाकरण

न्नई। अखिल भारतीय अन्ना द्रवि़ड मुनेत्र कषगम (अन्नाद्रमुक) के प्रत्याशी टीटीवी दिनाकरण ने रविवार को आरके नगर उपचुनाव में भारी वोटों से जीत हासिल की। इस जीत के बाद उन्होंने राज्य में एक नया ईितहास रच दिया है। दिनाकरण राज्य में विधानसभा उपचुनाव जीतने वाले पहले स्वतंत्र प्रत्याशी बन गए हैं। उन्होंने सत्तारुढ अखिल भारतीय अन्ना द्रवि़ड मुनेत्र कषगम (अन्नाद्रमुक) के उम्मीदवार मधुसूदनन को ४०,७०७ मतों के अंतर से हराया। १० वें राउंड की मतगणना के बाद ही दिनाकरण की जीत तय मानी जा रही थी। आरके नगर का यह नतीजा उप मुख्यमंत्री पन्नीरसेल्वम और मुख्यमंत्री पलानीस्वामी गुट के लिए ब़डा झटका है। करीब दो दशक के इतिहास में पहली बार है जब सत्तारू़ढ पार्टी को आरके नगर सीट गंवानी प़डी है। इसी सीट से पूर्व मुख्यमंत्री जयललिता चुनाव ल़डी थी और विधानसभा पहुंची थी। उनके निधन के कारण ही यह सीट रिक्त हुआ था। राज्य निर्वाचन आयोग की ओर से जारी किए गए आंक़डों के अनुसार दिनाकरण को ८९,०१३ वोट मिले, जबकि उनके प्रतिद्वंदी ­अन्नाद्रमुक के उम्मीदवार मधुसूदनन को ४८,३०६ वोटों से ही संतोष करना प़डा। तीसरे नंबर पर रहे द्रवि़ड मुनेत्र कषगम(द्रमुक) के उम्मीदवार मारुदु गणेश के खाते में २४,६५१ वोट आए। ्यख्रद्मय्·र्ैंद्यह्लय् द्मष्ठ ·र्ैंब्य् त्रर्‍द्म द्बब्र्‍द्मष्ठ द्बष्ठ्र ्यख्द्यष्ठख्र्‍ फ्द्य·र्ैंय्द्यचुनाव परिणाम घोषित होने से पूर्व उपचुनाव में निर्णायक ब़ढत बनाने के बाद दिनाकरण ने मदुरै में पत्रकारों से बातचीत के दौरान कहा कि वह अम्मा (जयललिता) के असली वारिस हैं। उन्होंने दावा कि राज्य की मौजूदा अन्नाद्रमुक सरकार अगले तीन महीने में गिर जाएगी। उन्होंने कहा कि उपचुनाव के नतीजे से पता चलता है कि लोग परिवर्तन चाहते हैं। दिनाकरण के कहा कि आरके नगर सीट से ’’अम्मा’’ चुनाव ल़डती थीं। उपचुनाव में वोटरों के मिजाज से यह साफ हो गया है कि अन्नाद्रमुक और पार्टी के दो पत्तियों के निशान का भविष्य क्या है। मैं आरके नगर की जनता और पार्टी समर्थकों को समर्थन देने के लिए शुक्रिया अदा करता हूं्। मैं निर्दलीय के रूप में जरूर चुनाव मैदान में था, लेकिन अन्नाद्रमुक पार्टी कार्यकर्ता मेरे साथ रहे। ’’अम्मा’’ का आशीर्वाद भी मेरे साथ था। ्य·र्ैंद्भय् ृद्बय् ·र्ैंय् ृफ्ध्र्‍ प्य्यद्यफ् ब्ह्द्मष्ठ ·र्ैंय् ख्रय्प्य्उन्होंने कहा, ’’हम असली अन्नाद्रमुक हैं…. आरके नगर के लोगों ने अम्मा का उत्तराधिकारी चुन लिया है। तमिलनाडु के अविनाशी (तिरुपुर) और अरमानई (कन्याकुमारी) सहित विभिन्न हिस्सों के मेरे हालिया दौरे पर लोगों ने मुझसे कहा था कि प्रेशर कुकर (आरके नगर चुनाव में उनका पार्टी चिह्न) जीतेगा। जनता इस शासन में बदलाव चाहती है। यह पार्टी के संस्थापक एमजी रामचंद्रन (प्यार से एमजीआर के रुप में पुकारे जाने वाले) की ३०वीं पुण्यतिथि पर १.५ करो़ड पार्टी कार्यकर्ताओं की ओर से दिया गया सबसे अच्छा उपहार है।घ्रुद्मय्प् ्यघ़्ब् र्द्बर्‍ख्रप्य्द्य द्बब्ह्वप्झ्रूह्लय्श्च ब्स्चुनाव आयोग द्वारा पलानीस्वामी गुट को अन्नाद्रमुक का चुनाव चिन्ह दिए जाने के बारे में पत्रकारों द्वारा पूछे जाने पर उन्होंने कहा ’’उम्मीदवार महत्वपूर्ण है, चुनाव चिन्ह नहीं। मैंने पहले ही कहा था कि दो पत्ती केवल तभी सफल चिन्ह बना रहेगा जब तक वह एमजीआर और अम्मा (जयललिता) के साथ रहेगा। अगर यह चुनाव चिन्ह एम एन नांबियार और पी एस वीरप्पा को दे दिया जाए तो क्या लोग उसे वोट करेंगे?’’ ज्ञातव्य है कि नांबियार और वीरप्पा गुजरे जमाने के तमिल फिल्मों के खलनायक हैं और एमजीआर की कई फिल्मों में अभिनय किया है।्यख्रद्मय्·र्ैंद्यह्लय् फ्द्बत्र्श्च·र्ैंह्र द्मष्ठ ज्द्ब·र्ैंद्य द्बद्मय्द्भय् ज्प्रद्मदिनाकरण की जीत के बाद उनके समर्थकों ने जमकर जश्न मनाया। जीत के ऐलान के साथ ही उनके समर्थकों ने पटाखो फो़डकर खुशी का इजहार किया। उल्लेखनीय है इस सीट की पर जीत-हार से सिर्फ इस चुनाव में नहीं बल्कि आने वाले चुनावों में सतारू़ढ अन्नाद्रमुक के साथ ही अन्य विपक्षी पार्टियों के भविष्य की दिशा भी तय होने की बात कही जा रही थी। ऐसे में इस सीट से निर्दलीय उम्मीदवार की तौर पर मैदान में उतरे टीटीवी दिनाकरण की ४० हजार से अधिक वोटों से दर्ज की गई इस जीत ने जहां सत्तारू़ढ अन्नाद्रमुक को तग़डा झटका दिया है वहीं दिनाकरण के लिए संभावनाओं के नए द्वारा खोल दिए हैं।

चेन्नई। तमिलनाडु की आरके नगर सीट पर हुए विधानसभा उप चुनाव में भाजपा उम्मीदवार से ज्यादा वोट नोटा को मिला है। मुख्य मुकाबला टीटीवी दिनाकरण और अन्नाद्रमुक के दिग्गज नेता ई म

Google News
Tags:

About The Author

Post Comment

Comment List