तीन तलाक पर लाइव बहस के दौरान मौलाना और महिला वकील में मारपीट

तीन तलाक पर लाइव बहस के दौरान मौलाना और महिला वकील में मारपीट

Maulana and Lawyer Fight

नई दिल्ली। एक टीवी चैनल के कार्यक्रम में मौलाना और महिला वकील के बीच मारपीट हो गई। यह घटना लाइव डिबेट के दौरान हुई, जिसे देख दर्शक दंग रह गए। जानकारी के अनुसार, स्टूडियो में ‘तीन तलाक’ विषय पर बहस हो रही थी। इस दौरान तर्क-वितर्क से माहौल गर्म हो गया और नौबत मारपीट तक की आ गई।

मौलाना का नाम एजाज अरशद कासमी है। डिबेट में महिला वकील फराह फैज भी मौजूद थीं। बहस में बरेली की निदा ख़ान के खिलाफ फतवे की चर्चा हो रही थी। इस दौरान अचानक माहौल गर्म हो गया और मौलाना व महिला वकील में मारपीट हो गई। इसके बाद पुलिस ने मौलाना को हिरासत में ले लिया है।

अचानक यह सब देख दर्शक हैरान रह गए, क्योंकि गंभीर किस्म के विषय से जुड़ी बहस के दौरान मारपीट की किसी ने आशा नहीं की थी। मौलाना उग्र हो गए तो लोगों को बीच-बचाव के लिए आना पड़ा। इस घटना का वीडियो वायरल हो रहा है और सोशल मीडिया पर लोगों ने अपने अंदाज में इस पर टिप्पणियां कीं।

‘तीन तलाक’ मुस्लिम समाज से जुड़ा एक विवादास्पद विषय है, जिस पर काफी समय से बहस की जा रही है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी इस प्रथा पर चिंता जता चुके हैं। मुस्लिम महिलाएं तीन तलाक और हलाला का विरोध कर रही हैं।

निदा ख़ान तीन तलाक से पीड़ित हैं। जब उन्होंने इसका विरोध किया तो धर्मगुरुओं ने उनके खिलाफ फतवा देकर उनका संपूर्ण बहिष्कार करने की घोषणा कर दी। इसके बाद यह बहस तेज हो गई है ​कि देश में तीन तलाक जैसी प्रथा के खिलाफ एक कठोर कानून की जरूरत है।

ये भी पढ़िए:
झारखंंड में स्वामी अग्निवेश से मारपीट, कपड़े फाड़े, वीडियो वायरल
पाकिस्तान के चुनावों में भी छाए मोदी, हर कहीं हो रहा प्रधानमंत्री का जिक्र
बनने से पहले ही महागठबंधन में टकराव, बसपा बोली- राहुल विदेशी, नहीं बन सकते प्रधानमंत्री

Google News
Tags:

About The Author

Post Comment

Comment List

Advertisement

Latest News

अंजलि हत्याकांड: कर्नाटक के गृह मंत्री ने परिवार को इन्साफ मिलने का भरोसा दिलाया अंजलि हत्याकांड: कर्नाटक के गृह मंत्री ने परिवार को इन्साफ मिलने का भरोसा दिलाया
Photo: DrGParameshwara FB page
तृणकां-कांग्रेस मिलकर घुसपैठियों के कब्जे को कानूनी बनाना चाहती हैं: मोदी
अहमदाबाद: आईएसआईएस के 4 'आतंकवादियों' की गिरफ्तारी के बारे में गुजरात डीजीपी ने दी यह जानकारी
5 महीने चलीं उन फांसियों का रईसी से भी था गहरा संबंध! इजराइली मीडिया ने ​फिर किया जिक्र
ईरानी राष्ट्रपति का निधन, अब कौन संभालेगा मुल्क की बागडोर, कितने दिनों में होगा चुनाव?
बेंगलूरु में रेव पार्टी: केंद्रीय अपराध शाखा ने छापेमारी की तो मिलीं ये चीजें!
ओडिशा को विकास की रफ्तार चाहिए, यह बीजद की ढीली-ढाली नीतियों वाली सरकार नहीं दे सकती: मोदी