राहुल गांधी आलोचना नहीं करते, देश को बदनाम करते हैं: भाजपा

राहुल गांधी ने कर्नाटक में साल 2019 की चुनावी रैली में विवादित टिप्पणी की थी

राहुल गांधी आलोचना नहीं करते, देश को बदनाम करते हैं: भाजपा

'राफेल मामले में भी राहुल गांधी ने अदालत के फैसले पर सवाल उठाया था और फिर माफी मांगी थी'

नई दिल्ली/दक्षिण भारत। वरिष्ठ भाजपा नेता रविशंकर प्रसाद ने गुरुवार को यहां पार्टी मुख्यालय में प्रेसवार्ता के दौरान कांग्रेस और उसके नेता राहुल गांधी पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि राहुल गांधी को सूरत की एक अदालत ने मानहानि के मामले में दो साल की सजा दी है। कांग्रेस पार्टी बहुत कुछ कह रही है, लेकिन ये नहीं बता रही है कि राहुल गांधी ने कहा क्या।

रविशंकर प्रसाद ने कहा कि राहुल गांधी ने कर्नाटक में साल 2019 की चुनावी रैली में कहा था कि सारे चोरों का सरनेम मोदी क्यों होता है। अगर राहुल गांधी को अपनी जिद से लोगों को अपमानित करने का और गाली देने का अधिकार है तो उनकी गाली से पीड़ित लोगों को मानहानि का केस करने का अधिकार है।

रविशंकर प्रसाद ने कहा कि राहुल गांधी ने कहा कि मैं सत्य और अहिंसा में विश्वास रखता हूं। क्या सत्य और अहिंसा में विश्वास करना लोगों को अपमानित करना है? देश को जातिसूचक गाली देना है?

खरगे साहब ने आज कहा कि अदालत के फैसले को बार-बार बदला गया है। कांग्रेस पार्टी अदालत में विश्वास नहीं करती है। क्या यह न्यायपालिका को भी अपनी जेब में रखना चाहती है?

रविशंकर प्रसाद ने कहा कि राफेल मामले में भी राहुल गांधी ने अदालत के फैसले पर सवाल उठाया था और फिर माफी मांगी थी। आलोचना का हम सम्मान करते हैं, लेकिन राहुल गांधी आलोचना नहीं करते हैं। वे देश को बदनाम करते हैं, जनतंत्र को बदनाम करते हैं और देश की जनता को बदनाम करते हैं।

Google News

About The Author

Post Comment

Comment List

Advertisement

Latest News

जमीन से जुड़ाव जरूरी जमीन से जुड़ाव जरूरी
कम-से-कम अगले लोकसभा चुनाव तक तो इनकी चर्चा जारी रहेगी
'हिंदी के साथ हमारे स्वाभिमान और राष्ट्रीय एकता का जुड़ाव है'
यूक्रेन को मिलेगी राहत? शांतिवार्ता के लिए पुतिन ने रखीं ये शर्तें
बीएचईएल को थर्मल पावर प्लांट के लिए दो बैक-टू-बैक ऑर्डर मिले
जी-7 शिखर सम्मेलन: मैक्रों समेत इन नेताओं से मिले मोदी, कई मुद्दों पर हुई चर्चा
येडियुरप्पा के खिलाफ गैर-जमानती वारंट पर बोले कुमारस्वामी- पिछले 4 महीनों में पुलिस विभाग क्या कर रहा था?
ऐसा मैसेज आए तो रहें सावधान, यहां सॉफ्टवेयर इंजीनियर और उसके परिवार ने गंवा दिए 5.14 करोड़ रु.