राजस्थान: पुलिस का बयान- भीलवाड़ा में हालात काबू में, 2 आरोपी पकड़े गए

हत्याकांड के दोनों मुख्य आरोपी हिरासत में लिए गए हैं

राजस्थान: पुलिस का बयान- भीलवाड़ा में हालात काबू में, 2 आरोपी पकड़े गए

शहर में स्थिति शांतिपूर्ण है

जयपुर/दक्षिण भारत/भाषा। राजस्थान के भीलवाड़ा में एक युवक की हत्या के मामले में दोनों मुख्य आरोपियों को पकड़ लिया गया है, जबकि शहर में हालात शांतिपूर्ण है। पुलिस ने शुक्रवार को यह जानकारी दी।

भीलवाड़ा के पुलिस अधीक्षक आदर्श सिद्धू ने बताया कि बृहस्पतिवार को हुए हत्याकांड के दोनों मुख्य आरोपी हिरासत में लिए गए हैं और शहर में स्थिति शांतिपूर्ण है।

एक बयान के अनुसार, पुलिस महानिरीक्षक रुपिंदर सिंह व अन्य आला अधिकारी हालात पर कड़ी नजर रखे हुए हैं।

उल्लेखनीय है कि भीलवाड़ा शहर में बृहस्पतिवार को पुरानी रंजिश को लेकर अज्ञात बदमाशों द्वारा की गई गोलीबारी में एक मुस्लिम युवक की मौत हो गई जबकि उसका भाई गंभीर रूप से घायल हो गया। घायल को उपचार के लिए उदयपुर रेफर किया गया है।

घटना के बाद शहर में पैदा हुए तनाव को देखते हुए प्रशासन ने 48 घंटे के लिए मोबाइल इंटरनेट सेवा को निलंबित कर दिया।

पुलिस अधिकारियों के अनुसार, मोटरसाइकिल सवार चार बदमाशों ने करीब छह माह पहले के आदर्श तापड़िया हत्या मामले में बदला लेने के लिए दो भाइयों पर गोलीबारी की।

अधिकारियों ने कहा कि शहर के कई स्थानों पर भीड़ के एकत्रित होने के मद्देनजर एहतियातन अतिरिक्त पुलिस बल की तैनाती की गई है।

About The Author

Post Comment

Comment List

Advertisement

Advertisement

Latest News

सीमा विवाद पर कर्नाटक का रुख उचित, ‘अच्छे परिणाम’ के लिए आश्वस्त: बोम्मई सीमा विवाद पर कर्नाटक का रुख उचित, ‘अच्छे परिणाम’ के लिए आश्वस्त: बोम्मई
बोम्मई ने कहा कि महाराष्ट्र का मामला विचार योग्य है या नहीं, यह महत्वपूर्ण है
पाकिस्तान: काबुल जाकर तालिबान का समर्थन करने वाले इमरान के चहेते ले. जनरल का इस्तीफा
कांग्रेस-आप पर नड्डा का हमला: ये चकमा देने वाले लोग, 'फसली बटेरों' से सतर्क रहना है
जब 'टुकड़े-टुकड़े' गैंग वाले गाली देते हैं तो यह तय होता है कि प्रधानमंत्री देश को जोड़ रहे हैं: भाजपा
इजराइली फिल्मकार की टिप्पणी को लेकर क्या बोली कांग्रेस?
पुलवामा हमले के मास्टर-माइंड ने संभाली पाक फौज की कमान
‘द कश्मीर फाइल्स’ को ‘भद्दी’ बताने वाले लापिद को इज़राइली राजदूत ने आड़े हाथों लिया