पंजाब: भारत-पाक सीमा पर बीएसएफ ने मार गिराए 5 घुसपैठिए

पंजाब: भारत-पाक सीमा पर बीएसएफ ने मार गिराए 5 घुसपैठिए

चंडीगढ़/भाषा। सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) के जवानों ने पंजाब में शनिवार की सुबह भारत पाकिस्तान अंतरराष्ट्रीय सीमा पर पांच घुसपैठियों को ढेर कर दिया। एक वरिष्ठ अधिकारी ने यह जानकारी दी।

अधिकारी ने बताया कि पाकिस्तान से लगती 3,300 किलोमीटर लंबी सीमा पर एक दशक से भी ज्यादा वक्त में एक ही घटना में घुसपैठियों के मारे जाने की यह सर्वाधिक संख्या है। अधिकारी ने बताया कि बल के जवानों ने पंजाब के तरन तारन जिले में अंतरराष्ट्रीय सीमा पर संदिग्ध गतिविधियां देखीं।

उन्होंने बताया कि संदिग्धों से रुकने के लिए कहा गया लेकिन उन्होंने बीएसएफ के जवानों पर गोलियां चलानी शुरू कर दीं। इसके बाद जवानों ने भी जवाबी कार्रवाई की और इसमें पांच घुसपैठिए मारे गए।

बीएसएफ के एक अन्य अधिकारी ने बताया कि घटना सुबह करीब 4:45 बजे ‘डल’ सीमा चौकी के पास हुई, जो जिले के भिखिवंड कस्बे के पास है।

अधिकारियों ने बताया कि बीएसएफ के जवानों ने आधीरात के करीब सीमा पर संदिग्ध गतिविधियां देखीं और इसके बाद घुसपैठियों पर ‘केन्द्रित’ निगरानी की गई, साथ ही घात लगाकर कई हमले किए गए। अंतरराष्ट्रीय सीमा पर बाड़ के ठीक पीछे उनका पता चला।

उन्होंने बताया कि घुसपैठिए रायफल लिए थे और भारत में घुसने के लिए ‘सरकंडे’ अथवा ‘लंबी घास’ का सहारा ले रहे थे।

बीएसएफ ने तस्वीरों वाला एक कोलाज जारी किया है जिसमें दो शव एक के ऊपर एक दिखाई दे रहे हैं, वहीं तीन शव अलग-अलग स्थानों पर घास पर पड़े हैं। तस्वीर में कुछ हथियार और बैग भी दिखाई दे रहे हैं। ये सारे लोग शर्ट अथवा टी-शर्ट और फुल पैंट पहने हैं।

बीएसएफ के दूसरे अधिकारी ने बताया कि एक एके 47 रायफल और दो पिस्तौल बरामद की गईं हैं। क्षेत्र में गहन तलाश चल रही है।

उधर, पाकिस्तानी रेंजरों ने संघर्ष विराम का उल्लंघन करते हुए जम्मू-कश्मीर के कठुआ जिले में अंतरराष्ट्रीय सीमा पर बिना उकसावे के गोलीबारी की और मोर्टार के गोले दागे। अधिकारियों ने बताया कि हीरानगर सेक्टर के करोल मथना इलाके में सीमा चौकी पर संघर्ष विराम के उल्लंघन की घटना शुक्रवार रात साढ़े ग्यारह बजे हुई जिसके बाद सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) ने भी मुंहतोड़ जवाब किया।

उन्होंने बताया कि दोनों ओर से रातभर गोलियां चलीं और शनिवार सुबह 4.40 बजे गोलीबारी बंद हुई। इसमें भारतीय पक्ष में किसी के हताहत होने या किसी तरह के नुकसान की कोई सूचना नहीं है। गोलीबारी से सीमाई इलाकों में रहने वाल लोगों में जरूर दहशत पैदा हो गई और उन्होंने भूमिगत बंकरों में रात गुजारी।

अधिकारियों ने बताया कि बीएसएफ घुसपैठ को रोकने के लिए वहां निर्माण कार्य कर रहा है और इसमें व्यवधान डालने के लिए पाकिस्तान लगातार हीरानगर सेक्टर में अग्रिम चौकियों और गांवों को निशाना बनाता है।

Google News
Tags:

About The Author

Post Comment

Comment List

Advertisement

Latest News