मीटर की रीडिंग लेने के बहाने घरों में महिलाओं पर हमला करने वाले को दुष्कर्म-हत्या मामले में सजा-ए-मौत

मीटर की रीडिंग लेने के बहाने घरों में महिलाओं पर हमला करने वाले को दुष्कर्म-हत्या मामले में सजा-ए-मौत

मीटर की रीडिंग लेने के बहाने घरों में महिलाओं पर हमला करने वाले को दुष्कर्म-हत्या मामले में सजा-ए-मौत

प्रतीकात्मक चित्र

बर्धमान/भाषा। पश्चिम बंगाल में कई महिलाओं की हत्या और उन पर यौन हमले करने के आरोपी को पूर्बा बर्धमान जिले के स्कूल में पढ़ने वाली एक लड़की की दुष्कर्म के बाद हत्या के मामले में अदालत ने मौत की सजा सुनाई है।

कल्ना अदालत के अतिरिक्त जिला एवं सत्र न्यायाधीश तपन कुमार मंडल ने व्यक्ति को लड़की के साथ बलात्कार कर उसी हत्या करने का दोषी करार देते हुए उसे मौत की सजा सुनाई है। दोषी कुमारूजामन सरकार साइकिल की चेन से पीड़िताओं का गला दबाने की वजह से ‘चेन’ हत्यारे के रूप में कुख्यात है।

कुमारूजामन सरकार किसी समय छोड़े गए सामानों को बेचने का काम करता था। उस पर अन्य अदालतों में पांच अन्य महिलाओं के यौन उत्पीड़न और हत्या का मामला है जबकि पूर्बा बर्धमान और पड़ोसी हुगली जिले में कम से कम तीन महिलाओं पर जानलेवा हमले करने के आरोप हैं।

इस आदेश के बाद सोमवार को कुमारूजामन के वकील ने कहा कि दोषी करार दिए जाने और सजा को चुनौती देते हुए कलकत्ता उच्च न्यायालय में अपील दायर की जाएगी।

यह कथित ‘सीरियल किलर’ घर में अकेली होने वाली महिलाओं को निशाना बनाता था और इसे पिछले साल पूर्बा बर्धमान जिले के कल्ना से गिरफ्तार किया गया था।

अभियोजन के अनुसार, यह 42 वर्षीय व्यक्ति अच्छे कपड़ों में बिजली मीटर की रीडिंग लेने के बहाने घरों में घुसता था और महिलाओं को अकेला देखकर साइकिल चेन और लोहे की छड़ी से हमला कर देता था।

उन्होंने बताया कि कुछ महिलाएं इसके चंगुल से खुद को मुक्त कराने में सफल रही थीं। इस आरोपी की कोशिश चेन से महिलाओं का गला दबाने और फिर उनके सिर पर लोहे की छड़ से उन्हें मार देने की होती थी। भले ही आरोपी कुछ कीमती सामान चुराकर भी घर से भागता था लेकिन चोरी उसका मकसद नहीं था।

जिला पुलिस सूत्रों के अनुसार, महिलाओं की हत्या करना इसका मुख्य लक्ष्य होता था। सरकार शादीशुदा है और उसके तीन बच्चे हैं।

Google News
Tags:

About The Author

Post Comment

Comment List

Advertisement

Latest News