पोस्टमार्टम रिपोर्ट में खुलासा, इस वजह से हुई थी विकास दुबे की मौत

पोस्टमार्टम रिपोर्ट में खुलासा, इस वजह से हुई थी विकास दुबे की मौत

कानपुर/भाषा। कानपुर के निकट पुलिस मुठभेड़ में मारे गए कुख्यात अपराधी विकास दुबे की पोस्टमार्टम रिपोर्ट में यह पुष्टि हुई है कि अत्यधिक खून बहने की वजह से उसकी मौत हुई।

विकास दुबे की पोस्टमार्टम रिपोर्ट सोमवार को सार्वजनिक हुई। इसमें पुष्टि की गई है कि कुख्यात अपराधी को तीन गोलियां लगी थीं और तीनों ही गोलियां उसके शरीर के आर-पार हो गई थीं।

विकास के शव का पोस्टमार्टम तीन चिकित्सकों की टीम ने किया था और पूरी प्रक्रिया की वीडियो रिकार्डिंग कराई गई। शव का पोस्टमार्टम डॉ. एके अवस्थी, डॉ. एसके मिश्रा और डॉ. वी चतुर्वेदी के पैनल ने किया।

एक अधिकारी ने बताया कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट के मुताबिक विकास के शरीर में कुल दस जख्म पाए गए। छह जख्म गोलियों के शरीर से आर-पार होने के हैं जबकि अन्य चार जख्म शरीर के दाहिने हिस्से में हैं, जो गोली लगने के बाद विकास के गिरने से हुए।

उन्होंने बताया कि पहली गोली उसके दाहिने कंधे पर लगी जबकि बाकी दो गोलियां उसके बाएं सीने पर लगी हैं। रिपोर्ट में कहा गया कि विकास की मौत अत्यधिक खून बहने के कारण हुई है। रिपोर्ट के मुताबिक शरीर के दाहिने हिस्से में सिर, कोहनी, पसली और पेट में जख्म के साथ हल्की सूजन पाई गई है।

पोस्टमार्टम रिपोर्ट में हालांकि यह बात सामने नहीं आई है कि गोली पास से चलाई गई है या दूर से या फिर कितनी दूर से चलाई गई है।

Google News
Tags:

About The Author

Post Comment

Comment List

Advertisement

Latest News

ममता सरकार को बड़ा झटका, एसएलएसटी की चयन प्रक्रिया को उच्च न्यायालय ने अमान्य घोषित किया ममता सरकार को बड़ा झटका, एसएलएसटी की चयन प्रक्रिया को उच्च न्यायालय ने अमान्य घोषित किया
कोलकाता/दक्षिण भारत। कलकत्ता उच्च न्यायालय ने सोमवार को पश्चिम बंगाल सरकार द्वारा प्रायोजित और सहायता प्राप्त स्कूलों में राज्य स्तरीय...
गाजीपुर लैंडफिल में आग 'आप' के 'भ्रष्टाचार' का उदाहरण: दिल्ली भाजपा अध्यक्ष
केंद्रीय मंत्री शोभा करंदलाजे क्या अपनी सीट आसानी से निकाल लेंगी?
यह उदासीनता क्यों?
हुब्बली में नड्डा की हुंकार- खोखले नारों का सहारा नहीं लेते, मोदी की गारंटी पर है लोगों का विश्वास
हुब्बली: नेहा की हत्या के विरोध में मुस्लिम संगठनों ने किया बंद का आह्वान
कर्नाटक: सोमनायक्कनपट्टी-बेंगलूरु सेक्शन का रियर विंडो निरीक्षण किया