मुजफ्फरपुर में एसके एमसी अस्पताल के पास मानव कंकाल के अवशेष मिले

मुजफ्फरपुर में एसके एमसी अस्पताल के पास मानव कंकाल के अवशेष मिले

यहां मिले थे मानव कंकाल

मुजफ्फरपुर/भाषा। बिहार के मुजफ्फरपुर में श्री कृष्ण मेडिकल कॉलेज अस्पताल (एसकेएमसीएच) के पोस्टमॉर्टम खंड के निकट कचरे के ढेर में मानव कंकाल के अवशेष मिलने का मामला सामने आया है। एक जून से चमकी बुखार से 100से ज्यादा बच्चों की मौत को लेकर एसकेएमसीएच खबरों में है।

अस्पताल के अधीक्षक सुनील कुमार शाही ने कहा कि लावारिस शवों का पोस्टमॉर्टम के बाद नियत समय में अंतिम संस्कार कर दिया जाता है। ये मानव कंकाल के ये अवशेष उस स्थान से मिले हैं जहां अंतिम संस्कार किए जाते हैं। लेकिन मैं मानता हूं कि यह काम बेहद मानवीय तरीके से होना चाहिए।

शाही ने संवाददाताओं से कहा, पोस्टमॉर्टम खंड अस्पताल से संबद्ध मेडिकल कॉलेज के प्रार्चाय के प्रशासनिक नियंत्रण में आता है। मैंने उनसे मामले की जांच के लिए एक समिति गठित करने और प्रतिकारक कदम उठाने के लिए कहा है। चमकी बुखार से बच्चों की मौतों के कारण महामारी जैसी स्थिति की कवरेज के लिए पहुंचे पत्रकारों द्वारा पूछे गए सवालों के जवाब में शाही ने यह बात कही।

न्यूज चैनलों में अवशेषों की तस्वीरें दिखाई जाने के बाद जिला प्रशासन तत्काल हरकत में आया और अनुमंडल अधिकारी (पूर्व) कुंदन कुमार और पुलिस अधीक्षक (शहर) नीरज कुमार घटनास्थल पर पहुंचे।पुलिस अधीक्षक ने इस संबंध में पूछे जाने पर कहा, जांच पूरी होने तक हम इस बारे में कोई टिप्पणी नहीं करेंगे।

वहीं स्थानीय लोगों का कहना है कि शवों का अंतिम संस्कार ठीक ढंग से नहीं किया जाना लंबे समय से क्षेत्र की समस्या बनी हुई है। यहां आवारा कुत्तों को अधजले शवों पर झपटते देखा जा सकता है।

Google News
Tags:

About The Author

Post Comment

Comment List

Advertisement

Latest News

राहुल ने फिर उठाया 'जाति और आबादी' का मुद्दा, कहा- सरकार नहीं चाहती 'भागीदारी' बताना राहुल ने फिर उठाया 'जाति और आबादी' का मुद्दा, कहा- सरकार नहीं चाहती 'भागीदारी' बताना
Photo: IndianNationalCongress FB page
बेंगलूरु में बोले मोदी- कांग्रेस ने टैक्स सिटी को टैंकर सिटी बना दिया
भाजपा के 'न्यू इंडिया' में असहमति की आवाजें खामोश कर दी जाती हैं: प्रियंका वाड्रा
कांग्रेस एक ऐसी बेल, जिसकी अपनी न कोई जड़ और न जमीन है: मोदी
जो वोटबैंक के लालच के कारण रामलला के दर्शन नहीं करते, उन्हें जनता माफ नहीं करेगी: शाह
इंडि गठबंधन वालों को इस चुनाव में लड़ने के लिए उम्मीदवार ही नहीं मिल रहे: मोदी
नरेंद्र मोदी की लोकप्रियता दस वर्ष बाद भी बरकरार है: विजयेन्द्र येडीयुरप्पा