अखिलेश का इन्वेस्टर्स समिट को समर्थन

अखिलेश का इन्वेस्टर्स समिट को समर्थन

लखनऊ। समाजवादी पार्टी (सपा) अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा है कि उनकी पार्टी का विकास के मुद्दे पर आगामी २१ और २२ फरवरी को यहां आयोजित ’’इन्वेस्टर्स समिट’’ को पूरा समर्थन है लेकिन लोगों को यह भी नहीं भूलना चाहिये कि निवेश से ज्यादा पैसा बैंक से बाहर चला गया। श्री यादव ने कहा, ’’’’हम लोग विकास के मुद्दे पर किसी के खिलाफ नहीं हैं। विकास उनकी प्राथमिकता में है। इन्वेस्टर्स समिट के जरिये उत्तर प्रदेश में निवेश होता है तो इससे अच्छी और क्या बात हो सकती है। विकास में राजनीति को बाधा नहीं बनने देना चाहिये।‘उन्होंने कहा कि उनके मुख्यमंत्रित्वकाल में बना आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस वे विकास के मामले में मील का पत्थर साबित हो रहा है हालांकि भाजपा सरकार उस पर थो़डा बहुत काम करवाकर उसके निर्माण का पूरा श्रेय खुद लेना चाहती है। उनका कहना था कि एक्सप्रेस वे के माध्यम से इन्वेस्टर्स समिट का पूरा लाभ लिया जा सकता है। पंजाब नेशनल बैंक में हुए घोटाले को लेकर भाजपा सरकार पर हमलावर श्री यादव ने कटाक्ष किया, ‘ अब तो बैंक भी कैशलेस हो रहे हैं।‘ सपा अध्यक्ष ने कहा कि जनता ने केन्द्र सरकार के पांच और राज्य सरकार के दो बजट को देख लिया है। जनता सब जानती है। सही समय पर सटीक जवाब देगी। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री ने कहा था कि बाहर गया पैसा वापस लायेंगे लेकिन हो रहा है इसका उल्टा, देश का पैसा जा रहा है बाहर। सपा अध्यक्ष ने कहा कि निवेशकों के यहां आने का ढिंढोरा पीटा जा रहा है लेकिन १५००० से ज्यादा उद्योगपति विदेश चले गये। पैसा भी चला गया। बैंक डूब रहे हैं। भाजपा सरकार आंक़डों का खेल खेल रही है। किसान कर्ज से मर रहे हैं। किसानों का कोई पुरसाहाल नहीं है। उन्होंने कहा कि देश में राजनीतिक से ज्यादा सामाजिक समस्या है। पिछडे, दलित , अल्पसंख्यक और अन्य दबे कुचले लोगों की आवाज दबाने की कोशिश की जा रही है। भाजपा भटकाने में माहिर है। हिन्दु मुसलमान के नाम पर झगडे कराने की कोशिश की जा रही है। कासगंज इसका उदाहरण है। उन्होंने कहा कि २०१७ में भाजपा ने जातिवाद के लिये सपा को घेरा था, यादव बिरादरी को ही लैपटाप दिये जाने का आरोप लगाया था। सपा सरकार में ही आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस वे बना था तो क्या उसपर सिर्फ यादवों के चलने के लिये कोई अलग से लेन बनायी गयी है। उन्होंने कहा कि भाजपा गलत आरोप लगाती है। उनके मुख्यमंत्रित्वकाल में विकास की योजनायें सभी के लिये थीं। श्री यादव ने लखनऊ में कल तेंदुए को मारे जाने को लेकर व्यंग्य किया कि कानून व्यवस्था को चुस्त दुरुस्त बताने वाली सरकार को तेंदुए को मारने के लिये सेना तक की मदद लेनी प़डी। राज्य में हो रही मुठभेडों पर चुटकी लेते हुए उन्होंने कहा, ‘ हो सकता है कि तेंदुए ने भी कट्टा ले रखा हो।‘

Google News
Tags:

About The Author

Post Comment

Comment List

Advertisement

Latest News

जनरल डिब्बे में कर रहे हैं यात्रा, तो इस योजना से ले सकते हैं कम कीमत पर खाना जनरल डिब्बे में कर रहे हैं यात्रा, तो इस योजना से ले सकते हैं कम कीमत पर खाना
Photo: RailMinIndia FB page
विजयेंद्र बोले- ईश्वरप्पा को भाजपा से निष्कासित किया गया, क्योंकि वे ...
तुष्टीकरण और वोटबैंक की राजनीति कांग्रेस के डीएनए में हैं: मोदी
संदेशखाली में वोटबैंक के लिए ममता दीदी ने गरीब माताओं-बहनों पर अत्याचार होने दिया: शाह
इंडि गठबंधन पर नड्डा का प्रहार- परिवारवादी पार्टियां अपने परिवारों को बचाने में लगी हैं
'सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों के पास डिफॉल्टरों के खिलाफ लुक आउट सर्कुलर जारी करने की शक्ति नहीं'
कांग्रेस के राज में हनुमान चालीसा सुनना भी गुनाह हो जाता है: मोदी