पुलिस की पूछताछ में शरजील ने किए अहम खुलासे, भारत को बनाना चाहता है इस्लामिक स्टेट!

पुलिस की पूछताछ में शरजील ने किए अहम खुलासे, भारत को बनाना चाहता है इस्लामिक स्टेट!

शरजील इमाम

नई दिल्ली/​दक्षिण भारत। नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) के विरोध के नाम पर भड़काऊ भाषण देने के आरोपी शरजील इमाम ने पुलिस की पूछताछ के दौरान कई अहम खुलासे किए हैं। एक रिपोर्ट के अनुसार, जेएनयू के छात्र शरजील ने स्वीकार किया है कि एएमयू में भड़काऊ भाषण दे रहा शख्स वह खुद है। यही नहीं, शरजील इमाम चाहता है कि भारत ‘इस्लामिक स्टेट’ बने।

रिपोर्ट के अनुसार, जब दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच के अधिकारी ने शरजील से अलीगढ़ वाले वीडियो के बारे में सवाल पूछा तो उसने जवाब दिया कि वीडियो से कोई छेड़छाड़ नहीं हुई और यह भाषण उसका ही है। इस दौरान उसने कहा कि वीडियो एक घंटे का है और भाषण देते हुए वह जोश में आकर विवादित बातें बोल गया।

हालांकि रिपोर्ट में क्राइम ब्रांच और स्पेशल सेल के अधिकारियों के हवाले से इस बात का जिक्र किया गया है कि शरजील ने विवादित शब्द खास रणनीति के तहत बोले। स्पेशल सेल के अधिकारियों का कहना है कि शरजील कट्टरपंथ से बहुत प्रभावित है। उसे अपने भाषण पर कोई पछतावा नहीं है। उसने कहा कि वह अपना ‘विरोध’ जारी रखेगा।

एएनआई की एक रिपोर्ट में बताया गया है कि शरजील इस बात में विश्वास करता है कि भारत ‘इस्लामिक स्टेट’ होना चाहिए। वहीं, शरजील के मोबाइल फोन और लैपटॉप से अहम खुलासे होने की उम्मीद जताई जा रही है। उसके मोबाइल फोन को खंगालने के लिए क्राइम ब्रांच टीम बिहार जा सकती है। हालांकि, यह भी कहा जा रहा है कि मामला पुलिस तक पहुंचने के कारण शरजील के परिजन उसका फोन छुपा सकते हैं।

भड़काऊ भाषण देकर समाज में नफरत का जहर घोलने वाले अन्य लोगों पर कार्रवाई के लिए पुलिस उन्हें चिह्नित कर नोटिस भेजने की तैयारी कर रही है ताकि उन्हें पूछताछ के लिए बुलाया जा सके।

https://platform.twitter.com/widgets.js

देश के खिलाफ दिमाग में जहर
इसके अलावा, शरजील इमाम के पीएफआई (पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया) संगठन से संबंधों की बात सामने आई है। उसकी वॉट्सएप चैट से इसकी जानकारी मिलने का दावा किया गया है। क्राइम ब्रांच के मुताबिक, पांच राज्यों में राजद्रोह के मुकदमे दर्ज होने के बाद भी शरजील को कोई मलाल नहीं और अधिकारियों द्वारा सवाल पूछे जाने पर वह बहकी-बहकी बातें करने लगा। पूछताछ के दौरान वह देशविरोधी बातें बोलता रहा और अधिकारी भी इस बात से हैरान रह गए कि उसके दिमाग में यह जहर किसने भर दिया!

शरजील इमाम के कॉल डिटेल खंगालकर पुलिस यह मालूम करने में जुटी है कि यह शख्स किन लोगों से ज्यादा संपर्क में था। उन्हें भी पूछताछ के लिए बुलाया जा सकता है। साथ ही इस बात को लेकर भी एजेंसियां जानकारी जुटा रही हैं कि विरोध प्रदर्शन के दौरान भड़काऊ भाषण एवं उत्पात मचाने के लिए कहीं पीएफआई से तो इसे धन मुहैया नहीं कराया जा रहा है! बता दें कि शरजील को शाहीन बाग धरने का मास्टरमाइंड बताया जा रहा है। उसकी आवाज के नमूने फॉरेंसिक साइंस लैब भेज दिए गए हैं जो अदालत में उसके खिलाफ एक अहम सबूत हो सकता है।

Google News
Tags:

About The Author

Post Comment

Comment List

Advertisement

Latest News