तीसरी बड़ी अर्थव्यवस्था बनाने के लिए मोदी सरकार ने कसी कमर

'निवेश और विकास पर कैबिनेट समिति' में राजनाथ सिंह, अमित शाह, प्रह्लाद जोशी समेत कई मंत्री शामिल

तीसरी बड़ी अर्थव्यवस्था बनाने के लिए मोदी सरकार ने कसी कमर

भारत 5वीं सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बन गया है

नई दिल्ली/दक्षिण भारत। लगातार तीसरी बार सत्ता में आने के लगभग एक महीने बाद मोदी सरकार ने सुरक्षा, अर्थव्यवस्था और वरिष्ठ नियुक्तियों सहित विभिन्न क्षेत्रों में प्रमुख नीतिगत मुद्दों पर विचार करने के लिए कैबिनेट समितियों का गठन किया है।

इस समय जब देश को तीसरी बड़ी अर्थव्यवस्था बनाने का मुद्दा चर्चा में है तो सबकी निगाहें 'निवेश और विकास पर कैबिनेट समिति' पर है, जिसमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के अलावा केंद्रीय मंत्री राजनाथ सिंह, अमित शाह, नितिन गडकरी, निर्मला सीतारमण, पीयूष गोयल, प्रह्लाद जोशी, गिरिराज सिंह, अश्विनी वैष्णव, ज्योतिरादित्य सिंधिया, हरदीप सिंह पुरी और चिराग पासवान को शामिल किया गया है।

बता दें कि निवेश पर कैबिनेट समिति उन जरूरी परियोजनाओं की पहचान करेगी, जिनका निर्दिष्ट समयसीमा के भीतर क्रियान्वयन किया जाना है। इसमें 1,000 करोड़ रुपए या उससे अधिक के निवेश के साथ-साथ अन्य महत्त्वपूर्ण परियोजनाएं भी शामिल हैं।

यह जरूरी मंजूरी जारी करने के लिए समयसीमा निर्धारित करने, चिह्नित परियोजनाओं की प्रगति की निगरानी एवं समीक्षा करने जैसे काम देखेगी। समिति समय पर प्रगति सुनिश्चित करने के लिए विभिन्न कदम उठाएगी।

समिति द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार, भारत 5वीं सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बन गया है और जल्द ही दुनिया की तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बन जाएगा। भारत में गरीबी साल 2011-12 के 21.2 प्रतिशत आंकड़े से घटकर साल 2022-24 में 8.5 प्रतिशत हो गई है।

Google News

About The Author

Post Comment

Comment List

Advertisement

Latest News

बेंगलूरु: आईआईएमबी में 'लक्ष्य 2के24' में कई महत्त्वपूर्ण विषयों पर हुई चर्चा बेंगलूरु: आईआईएमबी में 'लक्ष्य 2के24' में कई महत्त्वपूर्ण विषयों पर हुई चर्चा
वक्ताओं ने कहा कि अधिकांश कंपनियां अनुभवी प्रतिभाओं की तलाश कर रही हैं
केरल सरकार 100 दिनों में 13,013 करोड़ रु. की परियोजनाएं लागू करेगी: विजयन
भाजपा की गलत नीतियों का खामियाज़ा हमारे जवान और उनके परिवार भुगत रहे हैं: राहुल गांधी
बिहार: विकासशील इंसान पार्टी के प्रमुख मुकेश सहनी के पिता की हत्या हुई
जम्मू-कश्मीर: मुठभेड़ में एक अधिकारी और 4 जवान शहीद
फिर वही ग़लती?
'मेक-इन इंडिया' के सपने को साकार करने में एचएएल की बहुत बड़ी भूमिका: रक्षा राज्य मंत्री