सिविल सेवा समेत कई सरकारी नौकरियों की परीक्षा दे चुका युवक दंपति को ब्लैकमेल करने के आरोप में गिरफ्तार

आरोपी ने दंपति के​ निजी पलों का बना लिया था वीडियो

सिविल सेवा समेत कई सरकारी नौकरियों की परीक्षा दे चुका युवक दंपति को ब्लैकमेल करने के आरोप में गिरफ्तार

Photo: Chhattisgarh Police

दुर्ग/दक्षिण भारत। छत्तीसगढ़ के दुर्ग जिले में ब्लैकमेलिंग का एक विचित्र मामला सामने आया है। यहां सरकारी नौकरी पाने के लिए कई बार परीक्षाएं दे चुका युवक एक दंपति से 10 लाख रुपए ऐंठने की कोशिश के आरोप में गिरफ्तार किया गया है।

जानकारी के अनुसार, 28 वर्षीय शख्स ने सिविल सेवा परीक्षा पास करने के लिए कई बार कोशिशें की, लेकिन उसे कामयाबी नहीं मिली। इसके बाद उसने एक दंपति के घर में उनके निजी पलों का वीडियो बनाकर उन्हें ब्लैकमेल करना शुरू कर दिया।

जानकारी के अनुसार, आरोपी विनय कुमार साहू पिछले महीने की शुरूआत में चोरी के इरादे से दंपति के घर में घुसा था। वहां उसने चोरी करने के बजाय अपने मोबाइल फोन से दंपति के निजी पलों का वीडियो रिकॉर्ड कर लिया। इसके बाद वह उन्हें धमकी देने लगा कि अगर रुपए न दिए तो वीडियो को सार्वजनिक कर दूंगा।

इस संबंध में जानकारी देते हुए पुलिस उपविभागीय अधिकारी (धमधा) संजय पुंढीर ने बताया कि नंदिनी थाना क्षेत्र स्थित अहिवारा गांव निवासी दंपति की शिकायत के आधार पर आरोपी को 25 जून को गिरफ्तार कर लिया गया। आरोपी के खिलाफ आईपीसी की धारा 384 के तहत मामला दर्ज हुआ है। 

बताया गया कि 17 जून को पीड़ित व्यक्ति ने पुलिस से शिकायत की कि उसे किसी अज्ञात नंबर से वॉट्सऐप पर ऐसी वीडियो क्लिप मिली है। उसके बाद किसी अज्ञात व्यक्ति ने उसे फोन किया और क्लिप को सोशल मीडिया पर जारी न करने के बदले 10 लाख रुपए की मांग की।

इसके बाद नंदिनी पुलिस और एसीसीयू की संयुक्त टीम बनाई गई। पुलिस ने तकनीकी साक्ष्य और सीसीटीवी फुटेज के आधार पर आरोपी को ढूंढ़ा और उसे गिरफ्तार कर लिया।

पूछताछ के दौरान आरोपी साहू ने चौंकाने वाले खुलासे किए। उसने बताया कि वह पहले भी दो बार दंपति के घर में चोरी कर चुका है। वह तीसरी बार चोरी करने के लिए 5 मई को उसी घर में घुसा था।

इस दौरान उसने कोई सामान चुराने के बजाय दंपति का वीडियो रिकॉर्ड कर लिया। कुछ दिन बाद उसने वीडियो वॉट्सऐप पर भेजकर 10 लाख रुपए की मांग करते हुए ब्लैकमेल करना शुरू कर दिया।

आरोपी साहू से तीन मोबाइल फोन और कई सिम कार्ड बरामद हुए हैं। वह इंजीनियरिंग में स्नातक की पढ़ाई पूरी करने के बाद सिविल सेवा परीक्षा की तैयारी कर रहा था। उसने सरकारी नौकरी पाने की बहुत कोशिशें कीं। उसने राज्य लोक सेवा आयोग सहित कई परीक्षाएं दीं, लेकिन कहीं भी कामयाबी नहीं मिली। इसके बाद वह अपने इलाके में मोबाइल फोन और अन्य सामान चुराने लगा। इसी सिलसिले में वह दंपति के घर पहुंचा और वीडियो बनाकर ब्लैकमेल करने लगा, लेकिन पुलिस की सूझबूझ से पकड़ा गया।

Google News

About The Author

Post Comment

Comment List

Advertisement

Latest News

'मेक-इन इंडिया' के सपने को साकार करने में एचएएल की बहुत बड़ी भूमिका: रक्षा राज्य मंत्री 'मेक-इन इंडिया' के सपने को साकार करने में एचएएल की बहुत बड़ी भूमिका: रक्षा राज्य मंत्री
उन्होंने एचएएल के शीर्ष प्रबंधन को संबोधित किया
हर साल 4000 से ज्यादा विद्यार्थियों को ऑटोमोटिव कौशल सिखा रही टाटा मोटर्स की स्किल लैब्स पहल
भोजशाला: सर्वेक्षण के खिलाफ याचिका सूचीबद्ध करने पर विचार के लिए उच्चतम न्यायालय सहमत
इमरान ख़ान की पार्टी पर प्रतिबंध लगाएगी पाकिस्तान सरकार!
भोजशाला मामला: एएसआई ने सर्वेक्षण रिपोर्ट मध्य प्रदेश उच्च न्यायालय को सौंपी
उच्चतम न्यायालय ने सीबीआई की एफआईआर को चुनौती देने वाली शिवकुमार की याचिका खारिज की
ईश्वर ही था, जिसने अकल्पनीय घटना को रोका, अमेरिका को एकजुट करें: ट्रंप