शेयर बाजार में तेजी रहेगी या पलटेगा रुख? मोदी सरकार के बारे में क्या कहते हैं ये आंकड़े?

एग्जिट पोल में अनुमान लगाया गया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी लगातार तीसरी बार सत्ता में बने रहेंगे

शेयर बाजार में तेजी रहेगी या पलटेगा रुख? मोदी सरकार के बारे में क्या कहते हैं ये आंकड़े?

सरकार द्वारा अर्थव्यवस्था को बढ़ावा देने के लिए उठाए गए कदम जारी रहेंगे?

मुंबई/दक्षिण भारत। लोकसभा चुनावों में भाजपा नीत राजग की भारी जीत के पूर्वानुमान के बाद सेंसेक्स और निफ्टी सोमवार को शुरुआती कारोबार में करीब 4 प्रतिशत बढ़कर अपने सर्वकालिक उच्च स्तर पर पहुंच गए।

शुरुआती कारोबार में 30 शेयरों वाला बीएसई सेंसेक्स 2,777.58 अंक या 3.75 प्रतिशत उछलकर 76,738.89 अंक के रिकॉर्ड स्तर पर पहुंच गया। वहीं एनएसई निफ्टी 808 अंक या 3.58 प्रतिशत चढ़कर 23,338.70 अंक के नए सर्वकालिक उच्च स्तर पर पहुंच गया।

शनिवार को आए एग्जिट पोल में अनुमान लगाया गया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी लगातार तीसरी बार सत्ता में बने रहेंगे और भाजपा के नेतृत्व वाले राजग को लोकसभा चुनावों में भारी बहुमत मिलने की उम्मीद है।

शेयर बाजार के विशेषज्ञों का कहना है कि एग्जिट पोल के पूर्वानुमान और बाजार की स्थिति ने पुष्टि कर दी है कि मौजूदा मोदी सरकार के सत्ता में लौटने की प्रबल संभावना है।

उन्होंने कहा कि यह निरंतरता दर्शाती है कि सरकार द्वारा अर्थव्यवस्था को बढ़ावा देने के लिए उठाए गए कदम जारी रहेंगे। जब सरकार अपनी पहली 100-दिवसीय योजनाओं की घोषणा करेगी तो बाजार में और तेजी आएगी।

उन्होंने कहा कि संभावना है कि बाजार बंद होने तक मुनाफावसूली हो सकती है। अगर वास्तविक नतीजे एग्जिट पोल के करीब रहे तो बाजार में तेजी जारी रहेगी।

Google News

About The Author

Post Comment

Comment List

Advertisement

Latest News

जमीन से जुड़ाव जरूरी जमीन से जुड़ाव जरूरी
कम-से-कम अगले लोकसभा चुनाव तक तो इनकी चर्चा जारी रहेगी
'हिंदी के साथ हमारे स्वाभिमान और राष्ट्रीय एकता का जुड़ाव है'
यूक्रेन को मिलेगी राहत? शांतिवार्ता के लिए पुतिन ने रखीं ये शर्तें
बीएचईएल को थर्मल पावर प्लांट के लिए दो बैक-टू-बैक ऑर्डर मिले
जी-7 शिखर सम्मेलन: मैक्रों समेत इन नेताओं से मिले मोदी, कई मुद्दों पर हुई चर्चा
येडियुरप्पा के खिलाफ गैर-जमानती वारंट पर बोले कुमारस्वामी- पिछले 4 महीनों में पुलिस विभाग क्या कर रहा था?
ऐसा मैसेज आए तो रहें सावधान, यहां सॉफ्टवेयर इंजीनियर और उसके परिवार ने गंवा दिए 5.14 करोड़ रु.