तृणकां और इंडि जमात वाले बंगाल को विपरीत दिशा में लेकर जा रहे हैं: मोदी

प्रधानमंत्री ने पश्चिम बंगाल के मथुरापुर में भाजपा की चुनावी जनसभा को संबोधित किया

तृणकां और इंडि जमात वाले बंगाल को विपरीत दिशा में लेकर जा रहे हैं: मोदी

प्रधानमंत्री ने कहा कि तृणकां बंगाल की पहचान को खत्म करने में लगी है

मथुरापुर/दक्षिण भारत। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को पश्चिम बंगाल के मथुरापुर में भाजपा की चुनावी जनसभा को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि आपका उत्साह मुझे बताता है कि भाजपा इस चुनाव में भारी बहुमत हासिल करने जा रही है। तूफ़ान और कठिन परिस्थितियों के बावजूद, आप सभी ने यहां आकर एक विशाल रैली करने का फैसला किया। मैं आप सभी को हमारे प्रति दिए गए समर्थन के लिए धन्यवाद देता हूं।

प्रधानमंत्री ने कहा कि मैं आज आपके साथ ही कोलकाता के भी लोगों का आभार व्यक्त करूंगा। कल शाम कोलकाता के लोगों ने रोड शो में, उसके पहले भी और बाद भी जो प्रेम, स्नेह और आशीर्वाद दिए, वह मैं कभी भूल नहीं सकता।

प्रधानमंत्री ने कहा कि साल 2024 का यह लोकसभा चुनाव कई मायनों में अलग है, अद्भुत है। यह चुनाव खुद आगे बढ़कर देश की जनता लड़ रही है, क्योंकि उसी जनता ने 10 साल की विकास यात्रा भी देखी है और 60 वर्षों की दुर्गति भी देखी है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि आप याद कीजिए, देश के करोड़ों गरीब लोग जीवन की मूलभूत सुविधाओं से वंचित थे। भारत जैसे देश में भुखमरी की खबरें आम होती थीं। करोड़ों लोगों के सिर पर छत नहीं थी। महिलाएं खुले में शौच जाने के लिए मजबूर थीं। पीने के लिए पानी नहीं था। 18 हजार से ज्यादा गांवों में बिजली नहीं थी। उद्योगों के लिए संभावनाएं भी नहीं थीं। सबसे बड़ा दुर्भाग्य यह भी था कि सुधार के लिए चर्चा भी नहीं होती थी।

प्रधानमंत्री ने कहा कि भारत आज जब नई रफ्तार से आगे बढ़ रहा है तो पूरी दुनिया देख रही है। आज पूरी दुनिया में भारत का डंका बज रहा है। यह सब आपके एक वोट की ताकत से संभव हुआ है। आपके वोट ने मोदी को मजबूत बनाया। मोदी की मजबूत सरकार ने दुनिया में भारत का झंडा लहरा दिया।

प्रधानमंत्री ने कहा कि आज हर कोई भारत को सम्मान की दृष्टि से देखता है, चाहे वह अमेरिका हो, यूरोप हो, जापान हो। आपके वोट ने यह संभव किया है। आने वाले पांच साल स्वर्णिम भारत के निर्माण में निर्णायक भूमिका निभाएंगे। यह एक बहुत बड़ा टर्निंग पॉइंट है और इसकी शुरुआत 4 जून को होने जा रही है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि विकसित भारत के लिए विकसित बंगाल का निर्माण जरूरी है। यह तभी होगा, जब आप ऐसे सांसद चुनें, जो इस विजन को लेकर चलें। इसलिए मुझे बंगाल से ज्यादा से ज्यादा कमल जिताकर भेजेंगे, इसका आशीर्वाद चाहिए।

प्रधानमंत्री ने कहा कि मैं आपको भरोसा और गारंटी देता हूं कि विकसित बंगाल बनाने के लिए पूरी ताकत लगा दूंगा। तृणकां और इंडि जमात वाले बंगाल को विपरीत दिशा में लेकर जा रहे हैं। भाजपा से बंगाल के लोगों का प्यार तृणकां को बर्दाश्त नहीं हो रहा है। इसलिए तृणकां बुरी तरह बौखलाई हुई है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि तृणकां की जिद का बहुत बड़ा नुकसान इस क्षेत्र के लाखों मछुआरों को हो रहा है। केंद्र सरकार मछुआरे भाइयों-बहनों के लिए इतनी सारी योजनाएं चला रही है। हमने मछुआरों को किसान क्रेडिट कार्ड की सुविधा दी, पीएम मत्स्य संपदा योजना शुरू की, जिसके लिए 20 हजार करोड़ रुपए से ज्यादा का फंड दिया गया, लेकिन यहां भी तृणकां सरकार का वही रवैया रहा कि हम यह होने नहीं देंगे।

प्रधानमंत्री ने कहा कि तृणकां बंगाल की पहचान को खत्म करने में लगी है। ये बंगाल के मठों को, साधु-संतों तक को नहीं छोड़ रहे। तृणकां इस्कॉन, रामकृष्ण मठ और भारत सेवाश्रम जैसी संस्थाओं को गाली दे रही है। इसके गुंडे मठों पर हमला कर रहे हैं।

प्रधानमंत्री ने कहा कि 500 साल बाद अयोध्या में प्रभु राम का मंदिर बना। राम मंदिर हमारी आस्था का केंद्र है। तृणकां के लोग राम मंदिर को अपवित्र बताते हैं। ऐसी पार्टी कभी भी बंगाल की संस्कृति की रक्षा नहीं कर सकती।

प्रधानमंत्री ने कहा कि आपका एक वोट तृणकां के कुशासन को खत्म करेगा। हम विकसित और सुरक्षित बंगाल की यात्रा शुरू करेंगे। बंगाल के वे क्षेत्र, जो अन्य देशों के साथ सीमा साझा करते हैं, घुसपैठ की समस्या से ग्रस्त हैं। तृणकां सीएए के कार्यान्वयन का विरोध कर रही है। वह धार्मिक रूप से सताए गए अल्पसंख्यकों को नागरिकता देने के विचार के खिलाफ है। हालांकि, जब घुसपैठिए बंगाल में प्रवेश करते हैं और इसकी जनसांख्यिकी को बदल देते हैं, तो उसे कोई पछतावा नहीं होता।

Google News

About The Author

Post Comment

Comment List