राजकोट: एसआईटी ने बैठक की, पीड़ितों की पहचान के लिए डीएनए नमूने लिए

मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल ने रविवार सुबह नाना-मावा रोड पर घटना स्थल और एक अस्पताल का दौरा किया

राजकोट: एसआईटी ने बैठक की, पीड़ितों की पहचान के लिए डीएनए नमूने लिए

गेम जोन के मालिक और मैनेजर को गिरफ्तार कर लिया गया है

राजकोट/दक्षिण भारत। विशेष जांच दल (एसआईटी) के सदस्यों ने रविवार तड़के गुजरात के राजकोट शहर में एक गेम जोन में लगी आग के संबंध में स्थानीय प्रशासन के साथ बैठक की। उक्त घटना में 27 लोगों की मौत हो गई और तीन घायल हो गए।

शव बुरी तरह जले हुए थे। अधिकारियों ने बताया कि मृतकों की पहचान के लिए शवों और पीड़ित के रिश्तेदारों के डीएनए नमूने एकत्र किए गए हैं। मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल ने रविवार सुबह नाना-मावा रोड पर घटना स्थल और एक अस्पताल का दौरा किया, जहां घायल व्यक्तियों को भर्ती कराया गया है।

अधिकारियों ने बताया कि गेम जोन के मालिक और मैनेजर को गिरफ्तार कर लिया गया है। अधिकारियों के अनुसार, शनिवार शाम को गर्मी की छुट्टियों का आनंद ले रहे लोगों से भरे एक खेल क्षेत्र में लगी भीषण आग में मारे गए 27 लोगों में 12 साल से कम उम्र के चार बच्चे भी शामिल थे।

घटना की जांच करने और 72 घंटे के भीतर रिपोर्ट सौंपने के लिए राज्य सरकार द्वारा गठित पांच सदस्यीय एसआईटी शनिवार देर रात राजकोट पहुंची और स्थानीय प्रशासन के साथ बैठक की।

गृह राज्य मंत्री हर्ष सांघवी भी शनिवार देर रात राजकोट पहुंचे और बैठक में शामिल हुए। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री ने मुख्यमंत्री से घटना की जानकारी ली और दुख व्यक्त किया है। प्रधानमंत्री ने निर्देश दिया है कि दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाए।

Google News

About The Author

Post Comment

Comment List

Advertisement

Latest News

'हिंदी के साथ हमारे स्वाभिमान और राष्ट्रीय एकता का जुड़ाव है' 'हिंदी के साथ हमारे स्वाभिमान और राष्ट्रीय एकता का जुड़ाव है'
राजभाषा के प्रयोग-प्रसार एवं कार्यान्वयन से संबंधित उपलब्धियों को प्रदर्शित करने वाली प्रदर्शनी भी लगाई गई
यूक्रेन को मिलेगी राहत? शांतिवार्ता के लिए पुतिन ने रखीं ये शर्तें
बीएचईएल को थर्मल पावर प्लांट के लिए दो बैक-टू-बैक ऑर्डर मिले
जी-7 शिखर सम्मेलन: मैक्रों समेत इन नेताओं से मिले मोदी, कई मुद्दों पर हुई चर्चा
येडियुरप्पा के खिलाफ गैर-जमानती वारंट पर बोले कुमारस्वामी- पिछले 4 महीनों में पुलिस विभाग क्या कर रहा था?
ऐसा मैसेज आए तो रहें सावधान, यहां सॉफ्टवेयर इंजीनियर और उसके परिवार ने गंवा दिए 5.14 करोड़ रु.
मोदी के नेतृत्व में अंतरराष्ट्रीय मंच पर शानदार प्रदर्शन कर रहा भारत, कांग्रेस को हो रही ईर्ष्या: भाजपा