रईसी के हेलीकॉप्टर से नहीं मिले ये सबूत, जांच में हुए कई खुलासे

एक जांच टीम ने संभावित जिम्मेदार कारकों के संबंध में महत्त्वपूर्ण जानकारी इकट्ठी की है

रईसी के हेलीकॉप्टर से नहीं मिले ये सबूत, जांच में हुए कई खुलासे

साभार: TEHRAN TIMES के प्रथम पृष्ठ पर छपी तस्वीर। इसमें बताया गया है कि ईरान के सर्वोच्च नेता अयातुल्ला खामेनेई नमाज़-ए-जनाज़ा पढ़ा रहे हैं।

तेहरान/दक्षिण भारत। ईरानी सशस्त्र बलों ने उस हेलीकॉप्टर दुर्घटना पर प्रारंभिक रिपोर्ट जारी की है, जिसमें राष्ट्रपति इब्राहिम रईसी और उनके साथ आए प्रतिनिधिमंडल की मौत हो गई थी।

जारी रिपोर्ट के अनुसार, सोमवार को दुर्घटनास्थल पर भेजी गई एक जांच टीम ने संभावित जिम्मेदार कारकों के संबंध में महत्त्वपूर्ण जानकारी इकट्ठी की है।

तेहरान टाइम्स के अनुसार, रिपोर्ट से पता चलता है कि हेलीकॉप्टर अपने निर्धारित उड़ान पथ का अनुसरण कर रहा था, जब वह पहाड़ी इलाके में दुर्घटनाग्रस्त हो गया। टकराते ही उसमें आग लग गई, लेकिन मलबे पर गोलीबारी या अन्य बाहरी क्षति का कोई सबूत नहीं मिला।

तेहरान टाइम्स के अनुसार, ईरानी ड्रोन ने सोमवार को स्थानीय समयानुसार सुबह 05:00 बजे दुर्घटनास्थल का पता लगाया और उसके तुरंत बाद बचाव दल पहुंच गए। घटना से पहले विमान और ग्राउंड कंट्रोल के बीच संचार में कोई अनियमितता नहीं दिखी।

सशस्त्र बल इस बात पर जोर देते हैं कि जांच जारी है और किसी भी आगामी निष्कर्ष के बारे में जनता को सूचित किया जाएगा।

उक्त हेलीकॉप्टर दुर्घटना में ईरानी राष्ट्रपति रईसी, विदेश मंत्री हुसैन अमीर अब्दुल्लाहियन और छह अन्य की जान चली गई थी। यह रविवार को उत्तर-पश्चिमी ईरान में हुई, जब राष्ट्रपति रईसी एक बांध के उद्घाटन के बाद लौट रहे थे।

Google News

About The Author

Post Comment

Comment List

Advertisement

Latest News

'हिंदी के साथ हमारे स्वाभिमान और राष्ट्रीय एकता का जुड़ाव है' 'हिंदी के साथ हमारे स्वाभिमान और राष्ट्रीय एकता का जुड़ाव है'
राजभाषा के प्रयोग-प्रसार एवं कार्यान्वयन से संबंधित उपलब्धियों को प्रदर्शित करने वाली प्रदर्शनी भी लगाई गई
यूक्रेन को मिलेगी राहत? शांतिवार्ता के लिए पुतिन ने रखीं ये शर्तें
बीएचईएल को थर्मल पावर प्लांट के लिए दो बैक-टू-बैक ऑर्डर मिले
जी-7 शिखर सम्मेलन: मैक्रों समेत इन नेताओं से मिले मोदी, कई मुद्दों पर हुई चर्चा
येडियुरप्पा के खिलाफ गैर-जमानती वारंट पर बोले कुमारस्वामी- पिछले 4 महीनों में पुलिस विभाग क्या कर रहा था?
ऐसा मैसेज आए तो रहें सावधान, यहां सॉफ्टवेयर इंजीनियर और उसके परिवार ने गंवा दिए 5.14 करोड़ रु.
मोदी के नेतृत्व में अंतरराष्ट्रीय मंच पर शानदार प्रदर्शन कर रहा भारत, कांग्रेस को हो रही ईर्ष्या: भाजपा