वीडियो ने साबित कर दिया कि स्वाति मालीवाल के सभी आरोप झूठे थे: आप

आतिशी ने स्वाति मालीवाल मामले को लेकर प्रेसवार्ता को संबोधित किया

वीडियो ने साबित कर दिया कि स्वाति मालीवाल के सभी आरोप झूठे थे: आप

Photo: @AamAadmiParty X account

नई दिल्ली/दक्षिण भारत। वरिष्ठ 'आप' नेत्री आतिशी ने शनिवार को स्वाति मालीवाल मामले को लेकर प्रेसवार्ता को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि शुक्रवार को स्वाति मालीवाल का सीएम आवास के ड्राइंग रूम का एक वीडियो सामने आया, जिसमें वे कह रही हैं कि उन्होंने 112 नंबर पर कॉल कर दिया है। 

उन्होंने कहा कि इससे साफ़ मालूम पड़ता है कि उन्होंने यह कॉल कथित रूप से हुई मारपीट के बाद की है, लेकिन इस वीडियो को देखने पर साफ़ दिखता है कि वे न तो चोटिल हैं और न ही उनके कपड़े फटे हुए दिखाई दे रहे हैं। इस वीडियो ने साबित कर दिया कि उन्होंने अपनी शिकायत में जो दावे किए, वे सरासर गलत हैं।

आतिशी ने कहा कि वीडियो ने स्वाति मालीवाल के आरोपों का पर्दाफाश कर दिया है। वे इसमें पुलिसकर्मियों और विभव कुमार को ऊंची आवाज में धमकाते हुए दिख रही हैं। वहीं आज एक और वीडियो सामने आया है, जो कि सीएम आवास के गेट का सीसीटीवी फुटेज है। यह भी उनके झूठ का पर्दाफाश कर देता है। स्वाति मालीवाल ने अपनी शिकायत में जो कुछ कहा, वह सब इस वीडियो में नहीं दिखता।  

आतिशी ने कहा कि गृह मंत्रालय से लेकर दिल्ली पुलिस तक भाजपा की पूरी मशीनरी किस तरह काम कर रही है, यह कल तीस हजारी अदालत में देखने को मिला। कल पूरा दिन अदालत विभव कुमार की मांग पर पुलिस से एफआईआर की कॉपी मांगती रही, लेकिन वह नहीं दी गई। अदालत ने आज सुबह तक का समय दिया था। आज दिल्ली पुलिस ने जवाब दिया है कि एफआईआर संवेदनशील है, इसलिए इसे अदालत में जमा नहीं किया जा सकता और आरोपी को नहीं दिया जा सकता। 

आतिशी ने कहा कि यह एफआईआर की कॉपी भाजपा ने सभी मीडिया हाउस को भेजी है, लेकिन भाजपा की पुलिस कह रही है कि हम इसे आरोपी को नहीं दे सकते। इस पूरी साज़िश को भाजपा के उच्चतम स्तर से मॉनिटर किया जा रहा है।

आतिशी ने कहा कि इन दोनों वीडियो ने साबित कर दिया है कि स्वाति मालीवाल के सभी आरोप झूठे थे। उनके आरोप एक बड़ी साजिश का हिस्सा हैं, जो कि भाजपा द्वारा रची जा रही है।

भाजपा सरकारी एजेंसियों से केस करवाकर विपक्ष के नेताओं को ब्लैकमेल करती है और उन्हें शामिल करती हैं। इसी तरह स्वाति पर दिल्ली महिला आयोग को लेकर एसीबी का एक केस चल रहा था। इस मामले में अब सजा का ऐलान होने वाला है। इसी केस को आधार बनाकर स्वाति मालीवाल को इस साजिश का हिस्सा बनाया जा रहा है।

Google News

About The Author

Post Comment

Comment List

Advertisement

Latest News

'हिंदी के साथ हमारे स्वाभिमान और राष्ट्रीय एकता का जुड़ाव है' 'हिंदी के साथ हमारे स्वाभिमान और राष्ट्रीय एकता का जुड़ाव है'
राजभाषा के प्रयोग-प्रसार एवं कार्यान्वयन से संबंधित उपलब्धियों को प्रदर्शित करने वाली प्रदर्शनी भी लगाई गई
यूक्रेन को मिलेगी राहत? शांतिवार्ता के लिए पुतिन ने रखीं ये शर्तें
बीएचईएल को थर्मल पावर प्लांट के लिए दो बैक-टू-बैक ऑर्डर मिले
जी-7 शिखर सम्मेलन: मैक्रों समेत इन नेताओं से मिले मोदी, कई मुद्दों पर हुई चर्चा
येडियुरप्पा के खिलाफ गैर-जमानती वारंट पर बोले कुमारस्वामी- पिछले 4 महीनों में पुलिस विभाग क्या कर रहा था?
ऐसा मैसेज आए तो रहें सावधान, यहां सॉफ्टवेयर इंजीनियर और उसके परिवार ने गंवा दिए 5.14 करोड़ रु.
मोदी के नेतृत्व में अंतरराष्ट्रीय मंच पर शानदार प्रदर्शन कर रहा भारत, कांग्रेस को हो रही ईर्ष्या: भाजपा