हिंदुस्तान पेट्रोलियम कॉर्पोरेशन लि. ने शानदार वित्तीय प्रदर्शन किया

वित्तीय वर्ष 2023-24 के दौरान स्टैंडअलोन पीएटी भी अब तक का सबसे अधिक 14,694 करोड़ रुपए था

हिंदुस्तान पेट्रोलियम कॉर्पोरेशन लि. ने शानदार वित्तीय प्रदर्शन किया

Photo: hpcl FB page

नई दिल्ली/दक्षिण भारत। हिंदुस्तान पेट्रोलियम कॉर्पोरेशन लिमिटेड (एचपीसीएल) ने वित्तीय वर्ष 2023-24 के दौरान 16,015 करोड़ रुपए के रिकॉर्ड समेकित कर पश्चात लाभ (पिछले वित्तीय वर्ष के दौरान 6,980 करोड़ रुपए का समेकित शुद्ध घाटा) के साथ शानदार वित्तीय प्रदर्शन दर्ज किया है।

वित्तीय वर्ष 2023-24 के दौरान स्टैंडअलोन पीएटी भी अब तक का सबसे अधिक 14,694 करोड़ रुपए (पिछले वित्तीय वर्ष के दौरान 8,974 करोड़ रुपए का स्टैंडअलोन शुद्ध घाटा) था। जनवरी-मार्च 2024 की अवधि के लिए स्टैंडअलोन पीएटी 2,843 करोड़ रुपए है, जो पिछली तिमाही अक्टूबर-दिसंबर 2023 के दौरान रिपोर्ट किए गए 529 करोड़ रुपए के पीएटी से 437 प्रतिशत ज्यादा है। जनवरी-मार्च 2023 के दौरान पीएटी 3,223 करोड़ रुपए था।

कंपनी ने जनवरी-मार्च 2024 तिमाही के लिए परिचालन से 1,21,532 करोड़ रुपए का राजस्व दर्ज किया, जो पिछले वर्ष की इसी तिमाही के 1,14,445 करोड़ रुपए के परिचालन राजस्व से 6.2 प्रतिशत ज्यादा है। वित्तीय वर्ष 2023-24 के लिए, परिचालन से राजस्व 4,61,638 करोड़ रुपए (पिछले वर्ष के दौरान 4,66,192 करोड़ रुपए) था।

वित्तीय वर्ष 2023-24 के लिए औसत जीआरएम (निर्यात शुल्क का सकल) 9.08 डॉलर प्रति बैरल (पिछले वित्तीय वर्ष के दौरान डॉलर 12.09 प्रति बैरल) था। जीआरएम में कमी अंतरराष्ट्रीय प्रॉडक्ट क्रैक्स की प्रवृत्ति के अनुरूप है।

निदेशक मंडल ने 1:2 के अनुपात में बोनस शेयर जारी करने की सिफारिश की है, यानी कंपनी के सदस्यों की मंजूरी के अधीन, 10 रुपए के प्रत्येक पूर्ण भुगतान वाले दो मौजूदा इक्विटी शेयरों के लिए 10 रुपए का एक नया बोनस इक्विटी शेयर जारी किया जाएगा। 

Google News

About The Author

Post Comment

Comment List

Advertisement

Latest News

अंजलि हत्याकांड: कर्नाटक के गृह मंत्री ने परिवार को इन्साफ मिलने का भरोसा दिलाया अंजलि हत्याकांड: कर्नाटक के गृह मंत्री ने परिवार को इन्साफ मिलने का भरोसा दिलाया
Photo: DrGParameshwara FB page
तृणकां-कांग्रेस मिलकर घुसपैठियों के कब्जे को कानूनी बनाना चाहती हैं: मोदी
अहमदाबाद: आईएसआईएस के 4 'आतंकवादियों' की गिरफ्तारी के बारे में गुजरात डीजीपी ने दी यह जानकारी
5 महीने चलीं उन फांसियों का रईसी से भी था गहरा संबंध! इजराइली मीडिया ने ​फिर किया जिक्र
ईरानी राष्ट्रपति का निधन, अब कौन संभालेगा मुल्क की बागडोर, कितने दिनों में होगा चुनाव?
बेंगलूरु में रेव पार्टी: केंद्रीय अपराध शाखा ने छापेमारी की तो मिलीं ये चीजें!
ओडिशा को विकास की रफ्तार चाहिए, यह बीजद की ढीली-ढाली नीतियों वाली सरकार नहीं दे सकती: मोदी