जद (एस) नेता कुमारस्वामी ने महिलाओं के संबंध में दिए गए बयान पर खेद जताया

उन्होंने कहा - 'महिलाओं का सम्मान करना उन्हें कम से कम कांग्रेस से तो सीखने की जरूरत नहीं है'

जद (एस) नेता कुमारस्वामी ने महिलाओं के संबंध में दिए गए बयान पर खेद जताया

Photo: hdkumaraswamy FB page

बेंगलूरु/दक्षिण भारत। जनता दल (सेक्यूलर) के नेता एचडी कुमारस्वामी ने सोमवार को ग्रामीण महिलाओं को लेकर की गई अपनी टिप्पणी के लिए खेद व्यक्त किया है, लेकिन साथ ही सफाई भी दी कि उनके बयान को तोड़-मरोड़ कर पेश किया गया| 

कुमारस्वामी ने कथित तौर पर कहा था कि कर्नाटक की कांग्रेस सरकार की पांच गारंटी योजना की वजह से ग्रामीण क्षेत्र की महिलाएं ‘अपना रास्ता भटक गई’ हैं| पूर्व मुख्यमंत्री ने कांग्रेस की कर्नाटक इकाई के अध्यक्ष और उप मुख्यमंत्री डी.के.शिवकुमार पर उनके बयान को गलत तरीके से पेश करने का आरोप लगाया| 

उन्होंने साथ ही रेखांकित किया कि हाल में कांग्रेस नेताओं ने भी महिलाओं के खिलाफ टिप्पणी की थी| उन्होंने कहा, मैंने कौनसी अश्लील टिप्पणियां की हैं? मैंने महिलाओं से निर्णय लेते समय सतर्क रहने और रास्ता नहीं भटकने के लिए कहा है... मेरा मतलब यह है कि गारंटी योजना के झांसे में आकर कांग्रेस को वोट न दें... इसको लेकर कांग्रेस ने राज्यव्यापी विरोध प्रदर्शन का फैसला किया है| उनके पास मेरे खिलाफ बोलने के लिए और कुछ नहीं है|’

उन्होंने यहां संवाददाताओं से कहा कि महिलाओं का सम्मान करना उन्हें कम से कम कांग्रेस से तो सीखने की जरूरत नहीं है|

कुमारस्वामी ने कहा, ‘‘मैं अब भी वही कह रहा हूं, जो मैंने उस दिन कहा था| मैंने उन्हें (महिलाओं को) आगाह किया था और उनसे सावधानी से निर्णय लेने के लिए कहा था क्योंकि वे (गारंटी के नाम पर कांग्रेस) आपकी आजीविका को नष्ट कर देंगे...| अगर मेरी टिप्पणी से कांग्रेस की महिला पदाधिकारियों को ठेस पहुंची है और अगर मेरे बयान से किसी को दुख पहुंचा है, तो मैं उस पर खेद व्यक्त करता हूं|’’

जद (एस) नेता एवं मंड्या सीट से प्रत्याशी कुमारस्वामी ने कहा कि उन्होंने विधानसभा के पटल पर स्वीकार किया था कि अतीत में वह (खुद)भी रास्ता भटक गए थे और उनकी पत्नी ने उन्हें सुधारा और सही रास्ते पर लाई थीं| 

उन्होंने कहा, अगर मेरे हाल के बयान से किसी महिला को ठेस पहुंची है, तो मैं खेद जताता हूं हालांकि मेरे बयान को तोड़-मरोड़कर पेश किया गया है| यदि मेरी माताओं को ठेस पहुंची है, तो मैं प्रदेश की सभी महिलाओं के प्रति खेद व्यक्त करता हूं| उस दिन भी जब मैंने बोला, तो महिलाओं को माता के रूप में संबोधित किया, जबकि कांग्रेस के नेता अपने भाषणों में अप्रिय टिप्पणियां करते रहते हैं|

गौरतलब है कि कुमारस्वामी ने शनिवार को सवाल किया कि ‘‘सरकार किसकी जेब से गारंटी योजनाओं का वित्तपोषण कर रही है? उन्होंने टुमकूरु में एक रोड शो के दौरान कहा, इस (राज्य) सरकार ने पिछले चुनाव में पांच गारंटी की घोषणा की थी, (जिसकी वजह से), गांवों में हमारी माताएं रास्ता भटक गईं| उन्हें यह सोचना चाहिए कि उनकी और उनके परिवारों की आजीविका का क्या होगा?’’

Google News

About The Author

Post Comment

Comment List

Advertisement

Latest News

'मेट्रो सेवा को नहीं हो रहा कोई नुकसान...', शिवकुमार ने क्यों​ किया 'शक्ति योजना' का जिक्र? 'मेट्रो सेवा को नहीं हो रहा कोई नुकसान...', शिवकुमार ने क्यों​ किया 'शक्ति योजना' का जिक्र?
Photo: DKShivakumar.official FB page
इंडि गठबंधन वाले हैं घोटालेबाजों की जमात, इन्हें किसी भी कीमत पर सत्ता चाहिए: मोदी
देवराजे गौड़ा के आरोपों पर बोले शिवकुमार- केवल पेन-ड्राइव के बारे में चर्चा कर रहे हैं ...
वीडियो ने साबित कर दिया कि स्वाति मालीवाल के सभी आरोप झूठे थे: आप
इंडि गठबंधन ने बुलडोजर संबंधी टिप्पणी के लिए मोदी की आलोचना की, कहा- धार्मिक स्वतंत्रता की रक्षा करेंगे
मोदी के तीसरी बार प्रधानमंत्री बनने पर भारत तीसरी बड़ी अर्थव्यवस्था बनेगा: नड्डा
मालीवाल मामले में दिल्ली पुलिस ने विभव कुमार को गिरफ्तार किया