भारत तब विकसित होगा, जब पूर्वोत्तर विकसित होगा: शाह

अमित शाह ने असम के उत्तर लखीमपुर में भाजपा की जनसभा को संबोधित किया

भारत तब विकसित होगा, जब पूर्वोत्तर विकसित होगा: शाह

शाह ने कहा कि असम में मोदी के 10 साल, विकास के 10 साल रहे हैं

लखीमपुर/दक्षिण भारत। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने मंगलवार को असम के उत्तर लखीमपुर में भाजपा की जनसभा को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि 19 जून को आप सभी को यह तय करना होगा कि किसे संसद सदस्य के रूप में चाहते हैं, किस पार्टी को सत्तारूढ़ सरकार बनानी चाहिए और आपका प्रधानमंत्री कौन होगा?

उन्होंने कहा कि चुनाव में आपके सामने दो विकल्प हैं। एक- राहुल बाबा के नेतृत्व में इंडि गठबंधन है। दूसरी ओर नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में भाजपा है। आपको यह तय करने के लिए मतदान करना है कि आने वाले 5 साल के लिए मोदी तीसरी बार प्रधानमंत्री बनेंगे और 400 पार के लक्ष्य के साथ फिर एक बार भाजपा की सरकार बनेगी।

शाह ने कहा कि कुछ दिन पहले राहुल गांधी कह रहे थे कि हमें असम की संस्कृति को बचाना है। मैं उन्हें याद दिलाना चाहता हूं कि उनकी दादी ने असम के साथ क्या किया था? जबकि नरेंद्र मोदी ने दस से अधिक शांति समझौतों पर हस्ताक्षर किए और असम में स्थिरता लेकर आए। 9,000 से अधिक लोग आत्मसमर्पण कर मुख्यधारा में शामिल हो चुके हैं।

शाह ने कहा कि असम में मोदी के 10 साल, विकास के 10 साल रहे हैं। असम में पिछले 10 सालों में अनेक शांति समझौते हुए, विकास का काम हुआ। आने वाले दिनों में असम, देश के बाकी राज्यों की तरह एक विकसित राज्य बनेगा, इसका मुझे पूरा भरोसा है।

शाह ने कहा कि वर्ष 2004 से 2014 तक 10 साल तक देश में संप्रग और कांग्रेस की सरकार थी। उस सरकार ने 10 वर्षों में सिर्फ 1 लाख 62 हजार करोड़ रुपए असम के विकास के लिए दिए थे। जबकि दूसरी ओर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 4 लाख 15 हजार करोड़ रुपए असम को देने का काम किया है।

शाह ने कहा कि मोदी के 10 साल असम में परिवर्तन का दशक रहे हैं। पिछले 10 वर्षों में, हमने विभिन्न शांति समझौते और विकास परियोजनाएं संपन्न की हैं। मुझे यकीन है कि आने वाले वर्षों में असम एक विकसित राज्य बन जाएगा।

शाह ने कहा कि भारत तब विकसित होगा, जब पूर्वोत्तर विकसित होगा। असम के 80 प्रतिशत से अधिक क्षेत्रों से एएफएसपीए हटा दिया गया है। कांग्रेस ने असम को क्या दिया? साल 2004 से 2014 तक, असम के लिए आवंटित धन राशि केवल 1,62,000 करोड़ रुपए थी। जबकि, साल 2014 से अब तक 4,15,000 करोड़ रुपए का फंड आवंटित किया गया है।

शाह ने कहा कि कांग्रेस के घोषणापत्र में कहा गया है कि मुस्लिम पर्सनल लॉ की स्थापना की जाएगी। वहीं, हम यूसीसी को उत्तराखंड में लेकर आए। कांग्रेस कश्मीर में अनुच्छेद 370 का समर्थन करती है और उनके नेता देश के बाकी हिस्सों में इसे हटाने के प्रभावों पर सवाल उठाते हैं।

शाह ने कहा कि असम पूर्वोत्तर का दिल है और इसका विकास भारत के विकास से गहन रूप से जुड़ा हुआ है। मोदी एकमात्र ऐसे प्रधानमंत्री हैं, जिन्होंने 70 से अधिक बार पूर्वोत्तर का दौरा किया है। अब समय आ गया है। आप असम के बेहतर भविष्य के लिए हमारे उम्मीदवारों को जिताएं।

Google News

About The Author

Post Comment

Comment List

Advertisement

Latest News

सपा-कांग्रेस के 'शहजादों' को अपने परिवार के आगे कुछ भी नहीं दिखता: मोदी सपा-कांग्रेस के 'शहजादों' को अपने परिवार के आगे कुछ भी नहीं दिखता: मोदी
प्रधानमंत्री ने कहा कि सपा सरकार में माफिया गरीबों की जमीनों पर कब्जा करता था
केजरीवाल का शाह से सवाल- क्या दिल्ली के लोग पाकिस्तानी हैं?
किसी युवा को परिवार छोड़कर अन्य राज्य में न जाना पड़े, ऐसा ओडिशा बनाना चाहते हैं: शाह
बेंगलूरु हवाईअड्डे ने वाहन प्रवेश शुल्क संबंधी फैसला वापस लिया
जो काम 10 वर्षों में हुआ, उससे ज्यादा अगले पांच वर्षों में होगा: मोदी
रईसी के बाद ईरान की बागडोर संभालने वाले मोखबर कौन हैं, कब तक पद पर रहेंगे?
'न चुनाव प्रचार किया, न वोट डाला' ... भाजपा ने इन वरिष्ठ नेता को दिया 'कारण बताओ' नोटिस