कर्नाटक: राज्यसभा चुनाव में किसने दिया अपनी ही पार्टी को झटका?

पूर्व उपमुख्यमंत्री ने कहा, 'मैंने वकील विवेक रेड्डी से सलाह ली, जो हमारे राज्य कानूनी सेल के अध्यक्ष और उच्च न्यायालय के वकील हैं'

कर्नाटक: राज्यसभा चुनाव में किसने दिया अपनी ही पार्टी को झटका?

फोटो: संबंधित पार्टियों के फेसबुक पेजों से

बेंगलूरु/दक्षिण भारत। भाजपा-जद (एस) गठबंधन को झटका देते हुए, (भाजपा के) विधायक एसटी सोमशेखर ने कांग्रेस उम्मीदवार अजय माकन को वोट दिया, जबकि एक अन्य विधायक अरबैल शिवराम हेब्बार ने मंगलवार को कर्नाटक में चार सीटों के लिए राज्यसभा चुनाव में मतदान से परहेज किया।

भाजपा से नाराज चल रहे सोमशेखर और हेब्बार हाल के महीनों में कांग्रेस के करीब आते दिखे थे। सोमशेखर यशवंतपुर विधानसभा क्षेत्र का प्रतिनिधित्व करते हैं और हेब्बार येल्लापुर क्षेत्र से।

नेता प्रतिपक्ष आर अशोक ने यहां संवाददाताओं से कहा, 'हमें जानकारी मिली है कि सोमशेखर ने क्रॉस वोटिंग की है। मेरा मानना है कि लोगों को बार-बार धोखा देना पसंद नहीं है।'

पूर्व उपमुख्यमंत्री ने कहा, 'मैंने वकील विवेक रेड्डी से सलाह ली, जो हमारे राज्य कानूनी सेल के अध्यक्ष और उच्च न्यायालय के वकील हैं। हम अध्यक्ष से उनके (सोमशेखर) खिलाफ कार्रवाई शुरू करने और कानून के अनुसार कदम उठाने की संभावनाएं तलाशने के लिए कहेंगे।'

बता दें कि सोमशेखर कांग्रेस छोड़कर भाजपा में शामिल हो गए थे। उन्होंने (भाजपा सरकार में) मंत्री के रूप में कार्य किया और उन्हें मैसूरु जिले का प्रभारी बनाया गया था।

अशोक ने सोमशेखर के फैसले को 'राजनीतिक आत्महत्या' करार दिया। मतदान के तुरंत बाद सोमशेखर ने संवाददाताओं से कहा कि उन्होंने अपनी अंतरात्मा की आवाज पर मतदान किया।

Google News

About The Author

Post Comment

Comment List

Advertisement

Latest News

'इंडि' गठबंधन के पक्ष में जन समर्थन की एक अदृश्य लहर है: खरगे का दावा 'इंडि' गठबंधन के पक्ष में जन समर्थन की एक अदृश्य लहर है: खरगे का दावा
खरगे ने अपने दामाद राधाकृष्ण दोड्डामणि के समर्थन में एक जनसभा को संबोधित किया
आज का भारत मोदी के नेतृत्व में न तो किसी के पास गिड़गिड़ाता है, न ही पिछलग्गू है: नड्डा
अदालत ने कविता को 15 अप्रैल तक सीबीआई हिरासत में भेजा
मोदी का आरोप- कांग्रेस की सोच विकास विरोधी, ये सीमावर्ती गांवों को 'आखिरी गांव' कहते हैं
नरम पड़े मालदीव के तेवर, भारत से आयात के लिए स्थानीय मुद्रा में भुगतान को लेकर कर रहा बात
ठगों से सावधान: आरबीआई में नौकरी के नाम लगा दिया 2 करोड़ रु. से ज्यादा का चूना
यह चुनाव सिर्फ सांसद चुनने का नहीं, बल्कि देश में मजबूत सरकार बनाने का है: मोदी