विजय शेखर शर्मा ने पेटीएम पेमेंट्स बैंक लि. बोर्ड से इस्तीफा दिया

ओसीएल ने शेयर बाजारों को सूचित किया

विजय शेखर शर्मा ने पेटीएम पेमेंट्स बैंक लि. बोर्ड से इस्तीफा दिया

Photo: @vijayshekhar X account

नई दिल्ली/दक्षिण भारत। विजय शेखर शर्मा ने पेटीएम पेमेंट्स बैंक लिमिटेड (पीपीबीएल) के बोर्ड से इस्तीफा दे दिया है। वन97 कम्युनिकेशंस (ओसीएल) ने 26 फरवरी को स्टॉक एक्सचेंजों को यह सूचना दी है।

बताया गया कि बोर्ड के पुनर्गठन को सक्षम करने के लिए विजय शेखर शर्मा ने पेटीएम पेमेंट्स बैंक के बोर्ड से इस्तीफा दे दिया। ओसीएल ने शेयर बाजारों को सूचित किया और कहा कि पीपीबीएल ने हमें सूचित किया है कि वे एक नए अध्यक्ष की नियुक्ति की प्रक्रिया शुरू करेंगे।

वन97 कम्युनिकेशंस लिमिटेड की एक प्रेस विज्ञप्ति में कहा गया है कि सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया के पूर्व अध्यक्ष श्रीनिवासन श्रीधर, सेवानिवृत्त आईएएस अधिकारी देबेंद्रनाथ सारंगी, बैंक ऑफ बड़ौदा के पूर्व कार्यकारी निदेशक अशोक कुमार गर्ग और सेवानिवृत्त आईएएस रजनी सेखरी सिब्बल पीपीबीएल बोर्ड में शामिल हो गए हैं। वे स्वतंत्र निदेशक के रूप में शामिल हुए हैं।

उनके अलावा, बोर्ड में स्वतंत्र निदेशक के रूप में पंजाब एंड सिंध बैंक के पूर्व कार्यकारी निदेशक अरविंद कुमार जैन और पेटीएम पेमेंट्स बैंक के एमडी और सीईओ सुरिंदर चावला शामिल होंगे।

बयान में कहा गया है, ओसीएल अपने नामांकित व्यक्ति को हटाकर केवल स्वतंत्र और कार्यकारी निदेशकों वाले बोर्ड को चुनने के पीपीबीएल के कदम का समर्थन करता है।

बता दें कि आरबीआई ने 31 जनवरी को पीपीबीएल पर प्रमुख व्यावसायिक प्रतिबंध लगाए थे, जिसमें 29 फरवरी के बाद नई जमा स्वीकार करने और क्रेडिट लेनदेन करने पर रोक भी शामिल थी। उसने समय सीमा 15 मार्च तक बढ़ा दी है।

Google News

About The Author

Post Comment

Comment List

Advertisement

Latest News

आज का भारत मोदी के नेतृत्व में न तो किसी के पास गिड़गिड़ाता है, न ही पिछलग्गू है: नड्डा आज का भारत मोदी के नेतृत्व में न तो किसी के पास गिड़गिड़ाता है, न ही पिछलग्गू है: नड्डा
नड्डा ने कहा कि इंडि गठबंधन का काम है- लोगों को सिर्फ गुमराह करना
अदालत ने कविता को 15 अप्रैल तक सीबीआई हिरासत में भेजा
मोदी का आरोप- कांग्रेस की सोच विकास विरोधी, ये सीमावर्ती गांवों को 'आखिरी गांव' कहते हैं
नरम पड़े मालदीव के तेवर, भारत से आयात के लिए स्थानीय मुद्रा में भुगतान को लेकर कर रहा बात
ठगों से सावधान: आरबीआई में नौकरी के नाम लगा दिया 2 करोड़ रु. से ज्यादा का चूना
यह चुनाव सिर्फ सांसद चुनने का नहीं, बल्कि देश में मजबूत सरकार बनाने का है: मोदी
रामेश्वरम कैफे मामला: एनआईए को मिली बड़ी कामयाबी, मास्टरमाइंड समेत 2 को गिरफ्तार किया