विश्व को ऐसे ज्ञान की जरूरत, जो धरती पर शांतिपूर्ण तरीके से रहने में सहायता कर सके: प्रो. ब्रायन

इन्फोसिस साइंस फाउंडेशन का सम्मान समारोह आयोजित

विश्व को ऐसे ज्ञान की जरूरत, जो धरती पर शांतिपूर्ण तरीके से रहने में सहायता कर सके: प्रो. ब्रायन

'इन्फोसिस प्राइज 2023' के विजेताओं को पुरस्कृत किया गया

बेंगलूरु/दक्षिण भारत। इन्फोसिस साइंस फाउंडेशन (आईएसएफ) ने शनिवार को बेंगलूरु में एक सम्मान समारोह के दौरान 'इन्फोसिस प्राइज 2023' के विजेताओं को पुरस्कृत किया। 

विजेताओं को इंजीनियरिंग एवं कंप्यूटर साइंस, ह्यूमैनिटीज, लाइफ साइंसेज, मैथमेटिकल साइंसेज, फिजिकल साइंसेज और सोशल साइंसेज में उनके उल्लेखनीय योगदान के लिए पुरस्कृत किया गया है। विजेताओं को मुख्य अतिथि, नोबेल पुरस्कार विजेता प्रोफेसर ब्रायन श्मित द्वारा स्वर्ण पदक, प्रशस्ति पत्र और 1,00,000 डॉलर की राशि पुरस्कार स्वरूप प्रदान की गई।

कार्यक्रम में दुनियाभर के प्रतिष्ठित वैज्ञानिकों, शिक्षाविदों, उद्योग जगत की हस्तियों, युवा शोधकर्ताओं और विद्यार्थियों ने भाग लिया। इन्फोसिस साइंस फाउंडेशन के ट्रस्टी क्रिस गोपालकृष्णन, नारायण मूर्ति, श्रीनाथ बाटनी, के दिनेश, नंदन नीलेकणि, मोहनदास पई, सलिल पारेख और एसडी शिबूलाल भी पुरस्कार समारोह में मौजूद थे।

इस अवसर पर प्रो. ब्रायन श्मित ने कहा, इन्फोसिस प्राइज सेरेमनी का हिस्सा बनना वास्तव में एक सम्मानजनक बात है। यह पुरस्कार शोध के माध्यम से ज्ञान को विस्तार देने की दिशा में भारतीयों के उल्लेखनीय योगदान को सामने लाता है। विभिन्न क्षेत्रों से चुने गए ये विजेता शोध तथा इससे मानवता को पहुंचने वाले लाभ के मामले में वैश्विक स्तर पर अग्रणी हैं। विश्व को ऐसे ज्ञान की जरूरत है, जो हमें इस धरती पर शांतिपूर्ण तरीके से रहने में सहायता कर सके।

क्रिस गोपालकृष्णन ने कहा, वैज्ञानिक शोध को मुख्य धारा के विमर्श का हिस्सा बनाना समय की आवश्यकता है। हमें इस दिशा में मिलकर प्रयास करना होगा, ताकि देश का वैज्ञानिक वातावरण समृद्ध हो। इन विजेताओं के कार्य भारत की विकास गाथा में उल्लेखनीय हैं और उन्हें सम्मानित करना हमारे लिए गर्व की बात है।

बता दें कि इंजीनियरिंग एवं कंप्यूटर साइंस के क्षेत्र में प्रो. सच्चिदानंद त्रिपाठी, ह्यूमैनिटीज में जाह्नवी फाल्के, लाइफ साइंसेज में प्रो. अरुण कुमार शुक्ला, मैथमेटिकल साइंसेज में प्रो. भार्गव भट्ट, फिजिकल साइंसेज में प्रो. मुकुंद थट्टाई और सोशल साइंसेज के क्षेत्र में प्रो. करुणा मंटेना को पुरस्कृत किया गया है।

Google News

About The Author

Post Comment

Comment List

Advertisement

Latest News

मंत्रिमंडल ने केंद्रीय बजट 2024-25 को मंजूरी दी मंत्रिमंडल ने केंद्रीय बजट 2024-25 को मंजूरी दी
नई दिल्ली/दक्षिण भारत। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में केंद्रीय मंत्रिमंडल ने मंगलवार को वर्ष 2024-25 के पूर्ण बजट को...
लगातार 7वां बजट पेश कर इतिहास रचेंगी निर्मला सीतारमण
सबसे तेजी से बढ़ती अर्थव्यवस्था के लिए बजट, इन आंकड़ों पर रहेगी सबकी नजर
निर्मला सीतारमण फिर टैबलेट के जरिए पेपरलेस बजट पेश करेंगी
पाकिस्तानी गायक राहत फतेह अली खान दुबई हवाईअड्डे से गिरफ्तार!
सरकार ने पीएम-सूर्य घर योजना के तहत डिस्कॉम को 4,950 करोड़ रु. के प्रोत्साहन के लिए दिशा-निर्देश जारी किए
किसान को मॉल में प्रवेश न देने की घटना के बाद दिशा-निर्देश जारी करेगी कर्नाटक सरकार