देश की नारीशक्ति 'विकसित भारत' के संकल्प की सिद्धि की सबसे बड़ी गारंटी: मोदी

प्रधानमंत्री ने केरल के थेक्किंकडु में श्रीत्री शक्ति मोदिक्कोप्पम में शिरकत कर कार्यक्रम को संबोधित किया

देश की नारीशक्ति 'विकसित भारत' के संकल्प की सिद्धि की सबसे बड़ी गारंटी: मोदी

प्रधानमंत्री ने कहा कि लेफ्ट और कांग्रेस के गठबंधन की सरकारें थीं, तब तक मुस्लिम बहनें तीन तलाक से परेशान थीं

थेक्किंकडु/दक्षिण भारत। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को केरल के थेक्किंकडु में श्रीत्री शक्ति मोदिक्कोप्पम में शिरकत कर कार्यक्रम को संबोधित किया। उन्होंने कहा कि मैं, स्त्रीशक्ति का आभारी हूं, जो मुझे आशीर्वाद देने के लिए भारी संख्या में यहां आई है। सौभाग्य से मैं शिव की नगरी कहे जाने वाले काशी संसदीय क्षेत्र से सांसद हूं। यहां वडक्कुनाथन मंदिर में भी भगवान शिव विराजमान हैं। आज केरल की सांस्कृतिक राजधानी त्रिशूर से निकलने वाली ऊर्जा पूरे केरल में नई आशा का संचार करेगी।

प्रधानमंत्री ने कहा कि आजकल देश में मोदी की गारंटी की चर्चा है, लेकिन मैं मानता हूं कि देश की नारीशक्ति 'विकसित भारत' के संकल्प की सिद्धि की सबसे बड़ी गारंटी है। दुर्भाग्य से आजादी के बाद लेफ्ट, कांग्रेस की सरकारों ने, एलडीएफ, यूडीएफ की सरकारों ने नारीशक्ति को कमजोर माना। 

लेफ्ट और कांग्रेस की सरकारों ने लोकसभा और विधानसभा में महिलाओं को आरक्षण देने वाले कानून को वर्षों तक लटकाए रखा, लेकिन मोदी ने आप सभी बहनों को आपका हक देने की गारंटी दी थी और उस गारंटी को पूरा करके दिखाया। 'नारीशक्ति वंदन अधिनियम' अब कानून बन चुका है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि आपको याद होगा, जब तक देश में लेफ्ट और कांग्रेस के गठबंधन की सरकारें थीं, तब तक मुस्लिम बहनें तीन तलाक से परेशान थीं। मोदी ने मुस्लिम बहनों को तीन तलाक से मुक्ति देने की गारंटी दी थी और उसे ईमानदारी से पूरा भी करके दिखाया।

प्रधानमंत्री ने कहा कि भाजपा के नेतृत्व वाली राजग सरकार के लिए चार जातियां सर्वोपरि हैं। जब देश के गरीब, युवा, किसान और महिलाओं का विकास होगा, तभी देश का विकास होगा। इसलिए भाजपा सरकार की योजनाओं का बड़ा लाभ इन चार जातियों को सबसे ज्यादा मिला है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि हम नारीशक्ति को एक सशक्त फोर्स बनाना चाहते हैं, इसलिए आने वाले समय में हमारी माताओं, बहनों, बेटियों के लिए अवसर ही अवसर आने वाले हैं। उन्होंने कहा कि जब केरल की नर्सें इराक में फंसी थीं, तो यह भाजपा सरकार थी, जो उन्हें सुरक्षित बाहर निकालकर केरल वापस लाई।

कल्पना कीजिए, अगर दिल्ली में लेफ्ट-कांग्रेस की कमजोर सरकार होती तो हमारी इन बेटियों का क्या होता? यह मोदी की गारंटी है कि दुनिया में संकट चाहे कितना ही बड़ा क्यों न हो, हर भारतीय की सुरक्षा की जाएगी।

प्रधानमंत्री ने कहा कि केरल में लंबे समय तक लेफ्ट और कांग्रेस ... सत्ता और विपक्ष का ढोंग रचते रहे हैं। ये सिर्फ नाम के लिए दो पार्टियां हैं। केरल में करप्शन हो, क्राइम हो या परिवारवाद ... ये दोनों सब कुछ मिलकर करते हैं। अब इंडि अलायंस बनाकर इन्होंने घोषणा कर दी है कि इनकी विचारधारा और नीतियों में कोई अंतर नहीं है।

Google News

About The Author

Post Comment

Comment List

Advertisement

Latest News