सिद्दरामैया ने प्रधानमंत्री से मुलाकात की, सूखा राहत के तौर पर केंद्र से इतनी राशि मांगी

कर्नाटक सरकार ने 236 तालुकों में से 223 को सूखाग्रस्त घोषित किया है

सिद्दरामैया ने प्रधानमंत्री से मुलाकात की, सूखा राहत के तौर पर केंद्र से इतनी राशि मांगी

Photo: Siddaramaiah.Official FB page

बेंगलूरु/दक्षिण भारत। कर्नाटक के मुख्यमंत्री सिद्दरामैया ने मंगलवार को नई दिल्ली में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात की। उन्होंने इस दौरान केंद्र से 18,177.44 करोड़ रुपए की सूखा राहत राशि जल्द जारी करने का अनुरोध किया। साथ ही कहा कि राज्य के किसान गहरे संकट में हैं।

बता दें कि राज्य की कांग्रेस सरकार बार-बार अनुरोध करने और अधिकारियों की केंद्रीय टीम द्वारा विभिन्न प्रभावित क्षेत्रों का दौरा करने और निरीक्षण करने के बाद भी राज्य को सूखा राहत राशि जारी करने में कथित देरी का आरोप लगाते हुए केंद्र सरकार की आलोचना करती रही है।

कर्नाटक सरकार ने 236 तालुकों में से 223 को सूखाग्रस्त घोषित किया है।

सिद्दरामैया ने प्रधानमंत्री को दिए ज्ञापन में कहा कि पता चला है कि केंद्रीय कृषि सचिव की अध्यक्षता में राष्ट्रीय कार्यकारी समिति की उप-समिति ने 13 नवंबर को बैठक की और कर्नाटक के ज्ञापनों और अंतर-मंत्रालयी केंद्रीय टीम (आईएमसीटी) की रिपोर्ट पर विचार किया। यह भी पता चला है कि उप-समिति ने अपनी रिपोर्ट गृह मंत्रालय को सौंप दी है, जिसे केंद्रीय गृह मंत्री की अध्यक्षता वाली उच्च-स्तरीय समिति के समक्ष रखे जाने की उम्मीद है।

मुख्यमंत्री ने कहा, हमें अपना पहला ज्ञापन सौंपे लगभग तीन महीने हो गए हैं और आईएमसीटी को अपना क्षेत्रीय दौरा किए हुए दो महीने हो गए हैं। कर्नाटक के किसान गहरे संकट में हैं। चूंकि फसलें बर्बाद हो गई हैं, इसलिए यह जरूरी है कि हम किसानों को इनपुट सब्सिडी का भुगतान शीघ्र करें, ताकि उनकी कठिनाई और पीड़ा को कम किया जा सके।

प्रधानमंत्री से मुलाकात के दौरान सिद्दरामैया के साथ कर्नाटक के राजस्व मंत्री कृष्णा बायरे गौड़ा भी थे।

Google News

About The Author

Post Comment

Comment List

Advertisement

Latest News