अनुच्छेद 370 पर उच्चतम न्यायालय के फैसले पर क्या कहते हैं पूर्व सैनिक?

'उच्चतम न्यायालय का यह फैसला पाकिस्तान, अलगाववादियों और लोगों को बांटने वाली पार्टियों को करारा तमाचा है'

अनुच्छेद 370 पर उच्चतम न्यायालय के फैसले पर क्या कहते हैं पूर्व सैनिक?

Photo: @bsf_jammu

जम्मू/दक्षिण भारत। उच्चतम न्यायालय द्वारा अनुच्छेद 370 को निरस्त करने के सरकार के फैसले को सही ठहराने के बाद पूर्व सैनिकों में भी खुशी की लहर है। अखिल भारतीय पूर्व सैनिक सेवा परिषद (एबीपीएसएसपी) से जुड़े सेवानिवृत्त सैन्य कर्मियों के एक समूह ने मंगलवार को इसका जश्न मनाया। उन्होंने कहा कि जम्मू-कश्मीर के बाहर के सैनिकों के साथ इन्साफ़ हुआ है।

उनका कहना है कि उच्चतम न्यायालय का यह फैसला पाकिस्तान, अलगाववादियों और लोगों को बांटने वाली पार्टियों को करारा तमाचा है।

संगठन से जुड़े व कर्नल रैंक से सेवानिवृत्त एक पदाधिकारी बताते हैं कि वे सर्वोच्च न्यायालय के ऐतिहासिक फैसले से खुश हैं, क्योंकि मणिपुर से लेकर राजस्थान और लद्दाख से लेकर केरल तक, जम्मू-कश्मीर में सेवारत सैनिकों ने यहां अपने जीवन का बलिदान दिया है।

उन्होंने कहा कि यह विडंबना थी कि उनके परिवारों को यहां बसने के लिए जमीन का एक टुकड़ा खरीदने की अनुमति नहीं थी।

Google News

About The Author

Post Comment

Comment List

Advertisement

Latest News