मायावती ने अपना 'उत्तराधिकारी' घोषित किया

पार्टी में महत्त्वपूर्ण भूमिका में आने के बाद अब देखना यह होगा कि लोकसभा चुनाव में कितना कमाल कर पाते हैं

मायावती ने अपना 'उत्तराधिकारी' घोषित किया

Photo: twitter.com/Mayawati

लखनऊ/दक्षिण भारत। बहुजन समाज पार्टी (बसपा) सुप्रीमो और उत्तर प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री मायावती ने रविवार को लखनऊ में पार्टी की बैठक में बड़ी घोषणा की। उन्होंने भतीजे आकाश आनंद को अपना उत्तराधिकारी कर दिया है।

बता दें कि आकाश आनंद बसपा सुप्रीमो के छोटे भाई आनंद कुमार के बेटे हैं। आनंद बसपा में मायावती के बाद सबसे प्रभावशाली व्यक्ति माने जाते हैं। साल 2016 में बसपा से जुड़ने के बाद आकाश आनंद साल 2019 में लोकसभा चुनाव के दौरान पार्टी के स्टार प्रचारकों में शामिल रहे हैं।

पार्टी में महत्त्वपूर्ण भूमिका में आने के बाद अब देखना यह होगा कि आकाश अगले लोकसभा चुनाव में पार्टी के लिए कितना कमाल कर पाते हैं। चूंकि अभी लोकसभा चुनाव लगभग पांच महीने दूर हैं। इस अवधि में आकाश के सामने संगठन को मजबूत करने और चुनाव में बेहतर प्रदर्शन करने की जिम्मेदारी होगी। 

आकाश आनंद ने डॉ. बीआर अंबेडकर की जयंती पर अलवर में 13 किलोमीटर की 'स्वाभिमान संकल्प यात्रा' में भाग लिया था। वे साल 2018 में राजस्थान में बसपा के लिए चुनाव प्रचार करते भी नजर आए थे। हालांकि उस विधानसभा चुनाव में पार्टी सिर्फ छह सीटें जीत पाई थी।

Google News

About The Author

Post Comment

Comment List

Advertisement

Latest News

विपक्ष पर मोदी का प्रहार- इस बार तो इन्हें जमानत बचाने के लिए ही बहुत संघर्ष करना पड़ेगा विपक्ष पर मोदी का प्रहार- इस बार तो इन्हें जमानत बचाने के लिए ही बहुत संघर्ष करना पड़ेगा
प्रधानमंत्री ने कहा कि छह दशक के परिवारवाद, भ्रष्टाचार और तुष्टीकरण ने उप्र को विकास में पीछे रखा
प्रधानमंत्री मोदी के कुशल नेतृत्व ने भारत को नई ऊंचाइयों पर पहुंचाया: नड्डा
अगले पांच वर्षों में देश आत्मविश्वास से विकास को नई रफ्तार देगा, यह मोदी की गारंटी: प्रधानमंत्री
मुख्य चुनाव आयुक्त ने तमिलनाडु में लोकसभा चुनाव की तैयारियों की समीक्षा शुरू की
तेलंगाना: बीआरएस विधायक नंदिता की सड़क दुर्घटना में मौत; मुख्यमंत्री, केसीआर ने जताया शोक
अमेरिका की इस निजी कंपनी ने चंद्रमा पर पहला वाणिज्यिक अंतरिक्ष यान उतारकर इतिहास रचा
पश्चिम बंगाल: भाजपा प्रतिनिधिमंडल संदेशखाली का दौरा करेगा