सड़क लापता, बिजली लापता, आवास योजना लापता ... कांग्रेस का 'लापता मॉडल': नड्डा

जेपी नड्डा ने मध्य प्रदेश के आलोट में जनसभा को संबोधित करते हुए कांग्रेस पर खूब शब्दप्रहार किए

सड़क लापता, बिजली लापता, आवास योजना लापता ... कांग्रेस का 'लापता मॉडल': नड्डा

नड्डा ने कहा कि आज मुझे खुशी है कि मध्य प्रदेश अब बीमारू राज्य नहीं रहा, बल्कि बेमिसाल राज्य बन गया है

आलोट/दक्षिण भारत। भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने मंगलवार को मध्य प्रदेश के आलोट में जनसभा को संबोधित करते हुए कांग्रेस पर खूब शब्दप्रहार किए। उन्होंने कहा कि 17 तारीख को आप जो निर्णय लेने वाले हैं, वह केवल एक विधायक बनाने के लिए नहीं, बल्कि आपको अपने भविष्य का निर्णय लेना है।

नड्डा ने कहा कि आज मुझे खुशी है कि मध्य प्रदेश अब बीमारू राज्य नहीं रहा, बल्कि बेमिसाल राज्य बन गया है और विकास के पथ पर आगे बढ़ रहा है। प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में नीति परिवर्तन और जमीन पर काम करके हमारी भाजपा सरकार ने यहां भरपूर काम किया है।

नड्डा ने कहा कि आप कांग्रेस को पहचान लीजिए, ये नए-नए वेश में आते हैं। उन्होंने आरोप लगाया कि कांग्रेस का मतलब है- भ्रष्टाचार, अनाचार, व्यभिचार, विकास विहीन समाज, विनाशकारी नीति और परिवारवाद। जबकि भाजपा का मतलब है- विकास, तरक्की, लोगों की सरकार, हितकारी सरकार।

नड्डा ने कांग्रेस पर अगस्ता वेस्टलैंड हेलिकॉप्टर घोटाला, 2जी घोटाला, कोयला घोटाला, पनडुब्बी घोटाला और चावल घोटाले को लेकर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि ये तीनों लोक में भ्रष्टाचारी हैं, इन्होंने न अंतरिक्ष छोड़ा, न धरती छोड़ी और न ही पाताल छोड़ा।

नड्डा ने कहा कि कांग्रेस का एक मॉडल है- वो है 'लापता मॉडल'। सड़क लापता, बिजली लापता, आवास योजना लापता, घर-घर पानी लापता और विकास तो पूरी तरह लापता। इन्होंने अपने 15 महीने की सरकार में शिवराज सिंह चौहान की संबल योजना को रोक दिया था। लेकिन असंगठित मजदूरों को संबल देने की इस योजना को 600 करोड़ रुपए देकर शिवराज ने फिर से प्रारंभ किया है।

नड्डा ने आरोप लगाया कि कमलनाथ के पूर्व ओएसडी के घर से करोड़ों रुपए निकले। इनके भांजे के घर से भ्रष्टाचार का पैसा निकला। मतलब ये खुद भी लगे हैं और इनके भतीजे और भांजे भी घोटाले कर रहे हैं।

नड्डा ने कहा कि साल 2003 में यहां 60 हजार किमी पक्की सड़कें थीं, जो आज बढ़कर 5 लाख किमी हो चुकी हैं। साल 2003 में यहां 5 मेडिकल कॉलेज थे, जो आज बढ़कर मोदी के नेतृत्व में 30 हो चुके हैं। पूरे देश का ऐसा पहला मेडिकल कॉलेज मध्य प्रदेश में है, जहां छात्र-छात्राएं हिंदी में मेडिकल की पढ़ाई करेंगे।

Google News

About The Author

Post Comment

Comment List

Advertisement

Latest News