कर्नाटक: प्रधानमंत्री मोदी के आरोपों पर क्या बोले मुख्यमंत्री सिद्दरामैया?

मोदी ने रविवार को दावा किया कि कांग्रेस ने कर्नाटक को नुकसान पहुंचाया है और राज्य में विकास रुक गया है

कर्नाटक: प्रधानमंत्री मोदी के आरोपों पर क्या बोले मुख्यमंत्री सिद्दरामैया?

सिद्दरामैया ने कहा कि मोदी सबूत या दस्तावेजों के साथ आरोप लगा सकते हैं और एक प्रधानमंत्री होने के नाते उन्हें ...

बेंगलूरु/भाषा। कर्नाटक के मुख्यमंत्री सिद्दरामैया ने उन पर और उनकी सरकार पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा लगाए गए आरोपों को ‘झूठ का पुलिंदा’ बताकर सोमवार को खारिज कर दिया और कहा कि उन्हें प्रधानमंत्री से ऐसी बातों की अपेक्षा नहीं थी। मुख्यमंत्री ने इन आरोपों के समर्थन में सबूत की भी मांग की।

चुनावी राज्य मध्य प्रदेश के खंडवा में एक जनसभा को संबोधित करते हुए मोदी ने रविवार को दावा किया कि कांग्रेस ने कर्नाटक को नुकसान पहुंचाया है और राज्य में विकास रुक गया है। उन्होंने यह भी कहा था कि कर्नाटक के मुख्यमंत्री को नहीं पता कि वह कब तक राज्य के मुखिया रहेंगे।

मोदी ने दावा किया था, 'कांग्रेस भ्रष्टाचार करती है और जिन राज्यों में सरकार बनाती है, उन्हें बर्बाद कर देती है। वे आपसी कलह में लगे रहते हैं और उनके पास लोगों के लिए समय नहीं है।'

प्रधानमंत्री ने आरोप लगाया, 'जहां भी कांग्रेस की सरकार गलती से बन जाती है, वहां के मुख्यमंत्री और उपमुख्यमंत्री के बीच राज्य को लूटने की होड़ लग जाती है और कर्नाटक से लगातार ऐसी खबरें आ रही हैं।'

मोदी पर पलटवार करते हुए सिद्दरामैया ने प्रधानमंत्री के बयान को 'राजनीतिक और झूठ से भरा चुनावी भाषण' करार दिया।

उन्होंने कहा, 'यह पूरी तरह से झूठ का पुलिंदा है। वे (प्रधानमंत्री मई में कर्नाटक विधानसभा चुनाव) हारने के बाद निराश हैं। वे 48 बार राज्य में आए, लेकिन जहां भी वह प्रचार के लिए गए, रोड शो किए और रैलियों को संबोधित किया, वहां वे (भाजपा) हार गए। यही कारण है कि उन्होंने आज तक (विधानसभा में) विपक्ष का नेता नियुक्त नहीं किया है।'

प्रधानमंत्री द्वारा कांग्रेस नेताओं पर लूट का आरोप लगाने के सवाल के जवाब में मुख्यमंत्री ने पूछा कि जब कर्नाटक में 40 प्रतिशत कमीशन की लूट हुई थी तो किस पार्टी की सरकार थी? उन्होंने कहा, 'हम इसकी जांच करा रहे हैं ... प्रधानमंत्री के रूप में नरेंद्र मोदी को इस बारे में बोलना चाहिए, है ना?'

सिद्दरामैया ने कहा कि मोदी सबूत या दस्तावेजों के साथ आरोप लगा सकते हैं और एक प्रधानमंत्री होने के नाते उन्हें झूठ नहीं बोलना चाहिए या हल्की बात नहीं करनी चाहिए।

उन्होंने कहा, 'अगर कोई सबूत या दस्तावेज हैं - उनके पास आईबी, रॉ, सीबीआई, खुफिया जानकारी है - तो उन्हें बताएं।'

मुख्यमंत्री ने कहा, 'मैंने कभी देश के प्रधानमंत्री से इस तरह के बयान की उम्मीद नहीं की थी। यह उन्हें शोभा नहीं देता है।”

सिद्दरामैया ने कहा कि मोदी ने चुनावी राज्य मध्य प्रदेश में ‘राजनीतिक और चुनावी भाषण दिया है।'

मुख्यमंत्री ने दावा किया कि देश ‘आर्थिक रूप से दिवालिया’ हो गया है। उन्होंने केंद्र सरकार पर कर्नाटक सरकार के प्रति ‘सौतेला रवैया’ रखने का आरोप लगाया और कहा कि वे राज्य के बकाया का भुगतान करने में असमर्थ हैं।

उन्होंने कहा, 'केंद्र सरकार अभी तक सूखा राहत राशि जारी नहीं कर पाई है।'

प्रधानमंत्री के इस आरोप कि कांग्रेस चुनाव पूर्व दी गई पांच ‘गारंटी योजनाओं’ को लागू नहीं कर सकती है, सिद्दरामैया ने कहा कि कांग्रेस सरकार ने उन्हें लागू किया है और दिखाया है कि यह किया जा सकता है।

Google News

About The Author

Post Comment

Comment List

Advertisement

Latest News