बिहार में लोहे का पुल चोरी होने के बाद अब बेंगलूरु में बस स्टॉप शेल्टर 'गायब'!

इस शेल्टर पर 10 लाख रुपए की लागत आई थी

बिहार में लोहे का पुल चोरी होने के बाद अब बेंगलूरु में बस स्टॉप शेल्टर 'गायब'!

यह स्थापित ​किए जाने के एक सप्ताह बाद अपने स्टील के ढांचे सहित चोरी हो गया

बेंगलूरु/दक्षिण भारत। बिहार में लोहे का पुल चोरी होने के बाद अब कर्नाटक की राजधानी में एक बस स्टॉप शेल्टर 'गायब' होने की घटना सामने आई है। जानकारी के अनुसार, इस शेल्टर पर 10 लाख रुपए की लागत आई थी। यह बेंगलूरु में कनिंघम रोड पर स्थापित ​किए जाने के एक सप्ताह बाद अपने स्टील के ढांचे सहित चोरी हो गया। शेल्टर का प्रबंधन बेंगलूरु मेट्रोपॉलिटन ट्रांसपोर्ट कॉर्पोरेशन (बीएमटीसी) द्वारा किया जा रहा था।

इस संंबंध में कंपनी के एसोसिएट उपाध्यक्ष एन रवि रेड्डी ने घटना के करीब एक महीने बाद 30 सितंबर को शिकायत की, जिसके आधार पर पुलिस ने चोरी का मामला दर्ज कर लिया है।

बता दें कि शहर में यह इस तरह की पहली घटना नहीं है। इसी साल मार्च में एचआरबीआर लेआउट में तीन दशक पुराना बस स्टैंड भी रातोंरात 'गायब' हो गया था। बताया गया कि कल्याण नगर में उक्त बस स्टैंड साल 1990 में दान में दिया गया था। उसके बाद किसी कारोबारी प्रतिष्ठान के लिए रास्ता बनाने के प्रयास में उसे रातोंरात हटा दिया गया था।

इसी तरह साल 2015 में लोग उस समय हैरान रह गए थे, जब एक स्कूल के पास डूपनहल्ली बस स्टॉप भी रातोंरात गायब हो गया था। वहीं, साल 2014 में राजराजेश्वरीनगर में एक बस स्टॉप गायब हुआ था, जो वहां करीब दो दशकों से मौजूद था। 

अब एक और बस स्टॉप शेल्टर 'गायब' होने की घटना सोशल मीडिया पर खूब चर्चा में है।

Google News

About The Author

Post Comment

Comment List

Advertisement

Latest News