हम लोग हर समय चुनाव के लिए तैयार हैं: नीतीश कुमार

जनता दल (यूनाइटेड) (जद-यू) के शीर्ष नेता ने एक साल पहले भाजपा से नाता तोड़ लिया था

हम लोग हर समय चुनाव के लिए तैयार हैं: नीतीश कुमार

उन्होंने कहा, ‘गरीब राज्य रहते हुए हम लोगों ने मेहनत करके बिहार में विकास का काम किया है'

पटना/भाषा। बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने सोमवार को यह दावा किया कि केंद्र में सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) लोकसभा चुनाव समय से पहले कराने की योजना बना रही है और कहा, ‘हम लोग हर समय चुनाव के लिए तैयार हैं।’

जनता दल (यूनाइटेड) (जद-यू) के शीर्ष नेता ने एक साल पहले भाजपा से नाता तोड़ लिया था और विपक्षी गठबंधन ‘इंडियन नेशनल डेवलपमेंटल इंक्लूसिव अलायंस’ (इंडिया) के गठन में विभिन्न विपक्षी दलों को एक साथ लाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है।

बिहार में जल्द चुनाव से संबंधित केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के बयान के बारे में पूछे जाने पर नीतीश ने कहा, ‘वे लोग तो पूरे देश में जल्द चुनाव कराना चाहते हैं। जितना जल्दी चुनाव करा दें, उतना अच्छा है, हम लोग तो इंतजार कर रहे हैं। हम लोग हर समय चुनाव के लिए तैयार हैं। भारत सरकार को अधिकार है कि संसद का चुनाव पहले भी करा सकती है।’

शाह ने कहा था कि जदयू और राजद का गठबंधन तेल और पानी के समान है, वे आपस में कभी नहीं मिल सकते हैं, इस पर मुख्यमंत्री ने कहा, ‘जो ऐसा कहते हैं उन्हें बता दीजिए कि यहां कितना विकास हुआ है। पूरे बिहार का विकास देखिए। बिहार में कितनी अच्छी सड़कें बन गई हैं, पुल बना है। लोगों के हर घर तक नल का जल पहुंच गया। हर घर तक बिजली पहुंचा दी गई है और इसका संचालन बेहतर ढंग से हो रहा है।’

उन्होंने कहा, ‘गरीब राज्य रहते हुए हम लोगों ने मेहनत करके बिहार में विकास का काम किया है। बिहार के बारे में आज कुछ लोग उल्टा-सीधा बोलते हैं। हम लोग एक साथ हैं तो कुछ लोगों को बेचैनी हो रही है। हम लोग एक-एक चीज पर योजना बनाते हैं और फिर उस पर विकास का काम होता है।’

भाजपा के ‘इंडिया’ गठबंधन को कोई चुनौती नहीं माने जाने के बारे में पत्रकारों के सवाल पर मुख्यमंत्री ने कहा, ‘हम जनता के सेवक हैं। हम किसी को चुनौती नहीं देते हैं। हम जनता के बीच में सारी बात कहते हैं। जो अच्छा काम नहीं करेगा लोग उसके बारे में फैसला लेंगे। ‘इंडिया’ गठबंधन पूरी तरह एकजुट हैं। कोई दिक्कत नहीं है।’

नीतीश ने कहा है कि मीडिया वर्तमान व्यवस्था के तहत बेड़ियों में जकड़ा हुआ है और शासन में बदलाव से पत्रकार बिरादरी को ‘मुक्ति’ मिलेगी।

उन्होंने कहा, ‘आप लोगों की मजबूरी है। जितना काम हम लोग करते हैं, उतना आप लोग प्रचार नहीं करते हैं। जब आप लोगों को मौजूदा केंद्र की सरकार से मुक्ति मिलेगी तो आप लोग आजाद होकर अपने मन का लिखिएगा। जो अच्छा लगेगा, वो बोलिएगा। हम आप लोगों के पक्ष में हैं। यह आप लोगों का अधिकार है। जैसे लोगों को राजनीति करने का अधिकार है, वैसे ही पत्रकारों को भी जो देखते हैं उसे लिखने-बोलने का अधिकार है।’

उन्होंने आरोप लगाया, ‘उन लोगों (भाजपा) ने सब लोगों को नियंत्रित कर लिया है। आप लोगों (पत्रकारों) से मेरा पुराना रिश्ता है। जब हम लोग लोकनायक जय प्रकाश नारायणजी के नेतृत्व में आंदोलन चलाए तो आप लोगों ने हमारा साथ दिया था।’

संसद का विशेष सत्र बुलाने के केंद्र के फैसले के बारे में पूछे जाने पर नीतीश ने कहा, ‘संसद का विशेष सत्र आज से शुरू हो रहा है लेकिन एजेंडा पता नहीं चल रहा है। वे लोग क्या लाने जा रहे हैं या क्या होगा ये तो बाद में पता चलेगा … हमारे सदस्य वहां हैं, वे महत्त्वपूर्ण मुद्दे जोरदार तरीके से उठाएंगे।’ लोकसभा में जदयू के 16 सदस्य हैं।

संसद का विशेष सत्र आज से शुरू हो गया है। इस अवसर पर मौजूद बिहार के उपमुख्यमंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (राजद) नेता तेजस्वी प्रसाद यादव ने संवाददाताओं से कहा, ‘हम एकजुट होकर आगामी चुनाव लड़ेंगे।’

Google News
Tags:

About The Author

Post Comment

Comment List

Advertisement

Latest News