चंद्रबाबू नायडू की गिरफ्तारी के विरोध में तेदेपा के बंद का आंध्र प्रदेश में कितना असर हुआ?

लिस ने कानून-व्यवस्था बनाए रखने के लिए विशाखापत्तनम जिले में व्यापक सुरक्षा इंतजाम किए हैं

चंद्रबाबू नायडू की गिरफ्तारी के विरोध में तेदेपा के बंद का आंध्र प्रदेश में कितना असर हुआ?

नायडू को कथित कौशल विकास निगम घोटाला मामले में शनिवार सुबह नंदयाल से गिरफ्तार किया गया था

अमरावती/भाषा। आंध्र प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री एन चंद्रबाबू नायडू की गिरफ्तारी के विरोध में तेलुगु देशम पार्टी (तेदेपा) द्वारा बुलाए गए राज्यव्यापी बंद के आह्वान को सोमवार को कुछ खास प्रतिक्रिया नहीं मिली और राज्य के कई हिस्सों में सुबह कारोबार सामान्य रहा।

अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक (एडीजीपी) (कानून एवं व्यवस्था) शंख ब्रत बागची के अनुसार, राज्य में स्थिति शांतिपूर्ण है और किसी अप्रिय घटना की सूचना नहीं है।

बागची ने बताया, ‘स्थिति शांतिपूर्ण है, हालात के आधार पर स्थानीय अधिकारियों ने निषेधाज्ञा लागू कर दी है।’

विजयवाड़ा की एक स्थानीय अदालत ने तेदेपा प्रमुख चंद्रबाबू नायडू को करोड़ों रुपए के कथित भ्रष्टाचार घोटाले में रविवार को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया।

तेलुगु देशम पार्टी ने अपने नेता की गिरफ्तारी के विरोध में सोमवार को राज्यव्यापी बंद का आह्वान किया था।

पूर्वी गोदावरी के पुलिस अधीक्षक (एसपी) पी जगदीश ने कहा कि जिले के राजामहेंद्रवरम और केंद्रीय कारागार के आसपास सुरक्षा कड़ी कर दी गई है, जहां नायडू इस समय बंद हैं।

पुलिस को राज्य में कुछ स्थानों पर सड़कों पर विरोध प्रदर्शन कर रहे तेदेपा कार्यकर्ताओं को तितर-बितर करते देखा गया।

तेदेपा के अध्यक्ष के अत्चन्नायडू सहित कई वरिष्ठ नेताओं को उनके संबंधित स्थानों से ऐहतियातन हिरासत में ले लिया गया है।

आंध्र प्रदेश के सबसे बड़े शहर विशाखापत्तनम में सुबह के समय बंद का सामान्य जनजीवन पर कोई असर नहीं देखा गया। सरकारी और निजी वाहन आम दिनों की तरह चलते दिखे।

आंध्र प्रदेश राज्य सड़क परिवहन निगम (एपीएसआरटीसी) के सूत्रों के अनुसार, शहर के लिए और लंबे मार्गों सहित निगम की बसें सामान्य दिनों की तरह चल रही हैं और जिले में किसी अप्रिय घटना की सूचना नहीं है।

सार्वजनिक क्षेत्र के बैंक और सरकारी कॉलेज सहित सरकारी कार्यालय खुले रहे।

आंध्र विश्वविद्यालय के सूत्रों के अनुसार, विश्वविद्यालय और उसके संबद्ध कॉलेज में कामकाज हो रहा है। हालांकि, कुछ निजी स्कूल ने बंद को देखते हुए छुट्टी की घोषणा की है।

पुलिस ने कानून-व्यवस्था बनाए रखने के लिए विशाखापत्तनम जिले में व्यापक सुरक्षा इंतजाम किए हैं।

पुलिस उपायुक्त (कानून एवं व्यवस्था) वी विद्यासागर नायडू ने कहा कि स्थिति शांतिपूर्ण है और जिले में किसी अप्रिय घटना की सूचना नहीं है। पुलिस ने जगह-जगह सुरक्षा व्यवस्था कड़ी कर दी है।

नायडू को कथित कौशल विकास निगम घोटाला मामले में शनिवार सुबह नंदयाल से गिरफ्तार किया गया था। अपराध जांच विभाग (सीआईडी) की टीम ने उन्हें उस समय गिरफ्तार किया गया था, जब वे सभी सुविधाओं से लैस अपनी विशेष बस में सो रहे थे।

Google News

About The Author

Post Comment

Comment List

Advertisement

Latest News