कर्नाटक के मुख्यमंत्री को लेकर कांग्रेस में मंथन जारी, आज या कल हो सकता फैसला

सुरजेवाला ने संवाददाताओं से कहा, अभी कोई फैसला नहीं हुआ है

कर्नाटक के मुख्यमंत्री को लेकर कांग्रेस में मंथन जारी, आज या कल हो सकता फैसला

'अगले 48 से 72 घंटे के बीच कर्नाटक में नई कैबिनेट होगी’

नई दिल्ली/भाषा। कर्नाटक में कांग्रेस विधायक दल का नेता चुनने के लिए जारी मंत्रणा के बीच पार्टी ने बुधवार को कहा कि आज या कल तक फैसला हो सकता है तथा अगले 48 घंटे से 72 घंटे के बीच प्रदेश में नई कैबिनेट होगी।

पार्टी महासचिव और कर्नाटक प्रभारी रणदीप सुरजेवाला ने यह भी कहा कि ‘भारतीय जनता पार्टी द्वारा फैलाई जा रहीं’ अफवाहों पर ध्यान देने की जरूरत नहीं हैं, क्योंकि अब तक कोई फैसला नहीं हुआ है।

उनका कहना था कि विधायक दल की बैठक में प्रस्ताव पारित कर कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे को फैसले के लिए अधिकृत किया गया था और ऐसे में वह सहमति और एकजुटता के आधार पर निर्णय लेंगे।

सुरजेवाला ने संवाददाताओं से कहा, ‘अभी कोई फैसला नहीं हुआ है। बातचीत चल रही है। अफवाहों पर विश्वास न किया जाए।’

उन्होंने कहा, ‘फैसला आज हो या कल हो, आप लोगों को बताया जाएगा ... अगले 48 से 72 घंटे के बीच कर्नाटक में नई कैबिनेट होगी।’

सुरजेवाला ने आरोप लगाया कि हार से बौखलाई भाजपा अफवाहें फैला रही है।

सुरजेवाला ने कहा, ‘कांग्रेस पार्टी 6.5 करोड़ कर्नाटकवासियों के हित में काम करने और पांचों गारंटी लागू करने के लिए प्रतिबद्ध है।’

उनका कहना था कि सरकार गठन के बाद कैबिनेट की पहली बैठक में पांचों ‘गारंटी’ पर अमल शुरू हो जाएगा।

इससे पहले, पूर्व मुख्यमंत्री सिद्दरामैया और प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष डीके शिवकुमार ने बुधवार को पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी से अलग-अलग मुलाकात की।

कांग्रेस संसदीय दल की प्रमुख सोनिया गांधी के आवास 10 जनपथ पर राहुल गांधी से दोनों नेताओं की मुलाकात को मुख्यमंत्री पद पर सहमति बनाने के प्रयास के रूप में देखा जा रहा है।

सिद्दरामैया ने करीब आधे घंटे तक राहुल गांधी के साथ चर्चा की तो शिवकुमार ने उनसे एक घंटे से अधिक देर तक बातचीत की।

राहुल गांधी से मुलाकात के बाद शिवकुमार ने कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे के आवास पर जाकर उनसे मुलाकात की।

सिद्दरामैया और शिवकुमार दोनों ही राज्य के मुख्यमंत्री पद के प्रबल दावेदार हैं, हालांकि सिद्धरमैया को इस दौड़ में सबसे आगे माना जा रहा है।

कर्नाटक का अगला मुख्यमंत्री चुनने के लिए कांग्रेस में मंगलवार को भी गहन मंथन जारी रहा और पार्टी अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे ने पहले राहुल गांधी के साथ चर्चा की तथा फिर पद के प्रबल दावेदार माने जा रहे दोनों नेताओं सिद्दरामैया और डीके शिवकुमार से मुलाकात की थी।

खरगे ने सोमवार को भी पार्टी के तीनों पर्यवेक्षकों और वरिष्ठ नेताओं के साथ विस्तृत चर्चा की थी। पर्यवेक्षकों ने नवनिर्वाचित विधायकों की राय के आधार पर उन्हें अपनी रिपोर्ट भी सौंपी थी।

इस बीच, कर्नाटक प्रदेश कांग्रेस कमेटी के पूर्व अध्यक्ष जी परमेश्वर ने वस्तुत: अपनी दावेदारी पेश करते हुए कहा कि अगर पार्टी आलाकमान उन्हें मुख्यमंत्री पद की जिम्मेदारी देता है तो वह इसे संभालने के लिए तैयार हैं।

कांग्रेस विधायक दल की गत रविवार शाम बेंगलुरु के एक निजी होटल में हुई बैठक में सर्वसम्मति से एक प्रस्ताव पारित कर पार्टी अध्यक्ष खरगे को विधायक दल का नेता चुनने का अधिकार दिया गया, जो कर्नाटक का अगला मुख्यमंत्री बनेगा।

राज्य में 224 सदस्यीय विधानसभा के लिए 10 मई को हुए चुनाव में कांग्रेस ने शानदार जीत हासिल करते हुए 135 सीटें अपने नाम कीं, जबकि सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) और पूर्व प्रधानमंत्री एचडी देवेगौड़ा नीत जनता दल (सेक्युलर) ने क्रमश: 66 और 19 सीटें जीतीं।

About The Author

Post Comment

Comment List

Advertisement

Advertisement