उस पुरानी धारणा को बदलना है कि पहाड़ का पानी और पहाड़ की जवानी पहाड़ के काम नहीं आते: मोदी

प्रधानमंत्री ने उत्तराखंड रोजगार मेले को संबोधित किया

उस पुरानी धारणा को बदलना है कि पहाड़ का पानी और पहाड़ की जवानी पहाड़ के काम नहीं आते: मोदी

प्रधानमंत्री ने कहा कि अपने सेवाभाव से आपको राज्य और राष्ट्र में विकास और विश्वास के प्रयासों में अपना भरपूर योगदान देना है

नई दिल्ली/दक्षिण भारत। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को उत्तराखंड रोजगार मेले को वीसी से संबोधित किया। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि रोजगार मेले के लिए आप सभी को बहुत-बहुत बधाई। जिनको आज नियुक्ति पत्र मिल रहे हैं, उनके लिए यह नई शुरुआत का अवसर है। 

प्रधानमंत्री ने कहा कि अपने सेवाभाव से आपको राज्य और राष्ट्र में विकास और विश्वास के प्रयासों में अपना भरपूर योगदान देना है। उत्तराखंड में इस संकल्प को जमीन पर उतारने का दायित्व आप जैसे मेरे युवा साथियों के कंधे पर है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति के माध्यम से भारत के युवाओं को नई सदी के लिए तैयार करने का संकल्प आज देश ने लिया है। बीते कुछ ही महीनों में केंद्र सरकार ने देश के लाखों युवाओं को नियुक्ति पत्र दिए हैं।

प्रधानमंत्री ने कहा कि हमारा यह निरंतर प्रयास है कि हर युवा को उसकी रुचि और योग्यता के अनुसार नए अवसर मिलें, सभी को आगे बढ़ने का उचित माध्यम मिले। सरकारी सेवाओं में भर्ती का यह अभियान भी इसी दिशा में आगे बढ़ने के लिए उठाया गया कदम है। 

प्रधानमंत्री ने कहा कि आज उत्तराखंड में इंफ्रास्ट्रक्चर पर इतना निवेश हो रहा है कि दूर-सुदूर तक आना-जाना तो आसान हो ही रहा है, रोजगार के भी नए अवसर पैदा हो रहे हैं। हमें उस पुरानी धारणा को बदलना है कि पहाड़ का पानी और पहाड़ की जवानी पहाड़ के काम नहीं आते। इसलिए हमारा निरंतर यह प्रयास रहा है कि पहाड़ में रोजगार और स्वरोजगार के अवसर पैदा किए जाएं। 

प्रधानमंत्री ने कहा कि मुद्रा योजना भी रोजगार व स्वरोजगार में बड़ी मदद कर रही है। पूरे देश में 38 करोड़ मुद्रा ऋण दिए जा चुके हैं। उत्तराखंड के हमारे हजारों साथी भी इसका लाभ ले चुके हैं।

प्रधानमंत्री ने कहा कि आज जैसे-जैसे उत्तराखंड के दूर-सुदूर के इलाके रोड, रेल और इंटरनेट से जुड़ रहे हैं, वैसे-वैसे पर्यटन का भी विस्तार हो रहा है। नए पर्यटन स्थल पर्यटन के मानचित्र पर आ रहे हैं। 

इससे उत्तराखंड के युवाओं को वही रोजगार मिल रहे हैं, जिसके लिए वो पहले बड़े शहरों का रुख करते थे। भारत के युवाओं के लिए यह अद्भुत संभावनाओं का 'अमृतकाल' है। आपको इसे अपनी सेवाओं के माध्यम से निरंतर गति देनी है।

Google News

About The Author

Post Comment

Comment List

Advertisement

Latest News

तटीय कर्नाटक में रेलवे विकास कार्यों में तेजी लाई जाएगी: केंद्रीय मंत्री सोमन्ना तटीय कर्नाटक में रेलवे विकास कार्यों में तेजी लाई जाएगी: केंद्रीय मंत्री सोमन्ना
Photo: VSomannaBJP FB page
ट्रंप पर हमले में ईरान का हाथ? जनरल सुलेमानी की हत्या होने के बाद खाई थी यह कसम!
कर्नाटक: वाल्मीकि निगम घोटाला मामले में ईडी ने पूर्व मंत्री नागेंद्र की पत्नी से पूछताछ की
बांग्लादेश में लगी आरक्षण आंदोलन की आग, झड़पों में कई लोगों की मौत
कई नेताओं ने छोड़ी अजित पवार की राकांपा, सु​प्रिया बोलीं- 'लोग बड़ी उम्मीदों से देख रहे'
कर्नाटक ने निजी क्षेत्र में कन्नड़ लोगों के लिए 100% कोटा अनिवार्य करने वाले विधेयक को मंजूरी दी
यह कैसा शांतिकाल?