खुद को यूएई का अधिकारी बताकर होटल को लगाया 23 लाख का चूना, गिरफ्तार

आरोपी ने ‘महामहिम शेख फलाह बिन जायद अल नाहयान के कार्यालय’ का खास अधिकारी बताकर होटल प्रशासन को धोखा दिया

खुद को यूएई का अधिकारी बताकर होटल को लगाया 23 लाख का चूना, गिरफ्तार

वह नवंबर में बिना बिल चुकाए ही गायब हो गया था

नई दिल्ली/दक्षिण भारत। एक शख्स खुद को संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) के शाही परिवार का अधिकारी बताकर दिल्ली के नामी पांच सितारा होटल को लाखों का चूना लगाकर फरार हो गया था। पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया है। 

बताया गया कि यह शख्स इस होटल में करीब चार महीने तक ठहरा रहा। उस पर 23 लाख रुपए से ज्यादा का बिल बकाया था, जिसे चुकाए बिना ही वह गायब हो गया था।

मामले के अनुसार, आरोपी का नाम महमेद शरीफ है, जो पिछले साल अगस्त में होटल लीला पैलेस आया और उसने खुद को यूएई के शाही परिवार का अधिकारी बताकर कमरा नं. 427 में रहने लगा। वह नवंबर में बिना बिल चुकाए ही गायब हो गया था।

इस तरह उसने होटल को करीब 23.46 लाख रुपए का चूना लगा दिया था। यही नहीं, उसने होटल के कुछ कीमती सामान पर भी हाथ साफ कर दिया था। उसे कर्नाटक के दक्षिण कन्नड़ स्थित उसके घर से 19 जनवरी को गिरफ्तार कर लिया।

बताया गया कि आरोपी ने ‘महामहिम शेख फलाह बिन जायद अल नाहयान के कार्यालय’ का खास अधिकारी बताकर होटल प्रशासन को धोखा दिया। उसने यूएई का निवास कार्ड और बिजनेस कार्ड भी दिखाया, जो कि फर्जी थे।

आरोपी ने अगस्त और सितंबर में कमरे के शुल्क के कुछ हिस्से के रूप में 11.5 लाख रुपए का भुगतान भी किया था। अभी तक कुल बकाया 23,48,413 रुपए है। इसके लिए उसने 20 लाख रुपए का ‘पोस्ट-डेटेड’ चेक जारी किया था, जो बाउंस हो गया।

पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि 20 नवंबर को दोपहर करीब एक बजे वह व्यक्ति कीमती सामान लेकर फरार हो गया था।

Google News

About The Author

Post Comment

Comment List

Advertisement

Latest News

अंजलि हत्याकांड: कर्नाटक के गृह मंत्री ने परिवार को इन्साफ मिलने का भरोसा दिलाया अंजलि हत्याकांड: कर्नाटक के गृह मंत्री ने परिवार को इन्साफ मिलने का भरोसा दिलाया
Photo: DrGParameshwara FB page
तृणकां-कांग्रेस मिलकर घुसपैठियों के कब्जे को कानूनी बनाना चाहती हैं: मोदी
अहमदाबाद: आईएसआईएस के 4 'आतंकवादियों' की गिरफ्तारी के बारे में गुजरात डीजीपी ने दी यह जानकारी
5 महीने चलीं उन फांसियों का रईसी से भी था गहरा संबंध! इजराइली मीडिया ने ​फिर किया जिक्र
ईरानी राष्ट्रपति का निधन, अब कौन संभालेगा मुल्क की बागडोर, कितने दिनों में होगा चुनाव?
बेंगलूरु में रेव पार्टी: केंद्रीय अपराध शाखा ने छापेमारी की तो मिलीं ये चीजें!
ओडिशा को विकास की रफ्तार चाहिए, यह बीजद की ढीली-ढाली नीतियों वाली सरकार नहीं दे सकती: मोदी