‘सैंट्रो’ रवि को पूछताछ के बाद न्यायाधीश के समक्ष पेश किया जाएगा: मैसूरु पुलिस

मुख्यमंत्री बोम्मई ने जांच का आदेश दिया है और कहा है कि विपक्षी दलों के नेताओं के भी उसके साथ संबंध थे

‘सैंट्रो’ रवि को पूछताछ के बाद न्यायाधीश के समक्ष पेश किया जाएगा: मैसूरु पुलिस

पुलिस ने शुक्रवार को कहा था कि आने वाले दिनों में आरोपी से संबंधित राजनीतिक सहित अन्य सभी मामलों को देखा जाएगा

मैसूरु/दक्षिण भारत/भाषा। पुलिस ने कहा कि मानव तस्करी का सरगना होने के आरोपी केएस मंजूनाथ उर्फ 'सैंट्रो' रवि को मैसूरु लाया गया है और प्रक्रियाएं पूरी करने एवं प्रारंभिक पूछताछ के बाद उसे अदालत में पेश किया जाएगा।

उसे कर्नाटक पुलिस ने शुक्रवार को गुजरात के अहमदाबाद से गिरफ्तार किया था।

पुलिस ने बताया कि 51 वर्षीय 'सैंट्रो' रवि को उसकी पत्नी द्वारा मैसूरु में दायर एक मामले के सिलसिले में गिरफ्तार किया गया है।

रवि की पत्नी ने शिकायत में आरोप लगाया है कि उसे 2019 में नशीला पदार्थ दिया गया, उसके साथ दुष्कर्म किया गया और शादी के लिए मजबूर किया गया।

मैसूर के पुलिस आयुक्त रमेश भनोट ने कहा, ‘जैसा कि आप जानते हैं कि हमने उसे कल पकड़ लिया था, हम उसे लेकर आज सुबह यहां पहुंचे। हमने उसकी चिकित्सकीय जांच कराई है, अब प्रक्रिया और शुरुआती पूछताछ जारी है।’

उन्होंने यहां पत्रकारों से बातचीत में कहा कि पूछताछ के बाद उसे अदालत में पेश किया जाएगा।

भनोट ने कहा, ‘यात्रा के समय को छोड़कर, हमें उसे 24 घंटे के भीतर न्यायाधीश के समक्ष पेश करना होगा, औपचारिकताएं पूरी करने के बाद, हम उसे पेश करेंगे।’

पिछले कुछ हफ्तों में रवि के खिलाफ आरोपों और मामलों ने राजनीतिक गलियारों में खलबली मचा दी है। विपक्षी दलों ने तस्वीरें जारी की हैं और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के नेताओं पर उसके साथ मेलजोल रखने का आरोप लगाया है।

साथ ही, 'सैंट्रो' रवि की ऑडियो-क्लिप भी वायरल हो रही हैं, जिसमें वह सरकार और पुलिस अधिकारियों से अपनी निकटता होने का दावा करता सुना जा सकता है।

मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई ने जांच का आदेश दिया है और कहा है कि विपक्षी दलों के नेताओं के भी उसके साथ संबंध थे।

पुलिस ने शुक्रवार को कहा था कि आने वाले दिनों में आरोपी से संबंधित राजनीतिक सहित अन्य सभी मामलों को देखा जाएगा।

About The Author

Related Posts

Post Comment

Comment List