अगले लोकसभा चुनावों में भाजपा को तमिलनाडु में ‘कमल खिलने’ की उम्मीद

तमिलनाडु भाजपा में मतभेद सामने आए

अगले लोकसभा चुनावों में भाजपा को तमिलनाडु में ‘कमल खिलने’ की उम्मीद

'2024 के लोकसभा चुनाव और 2026 के विधानसभा चुनावों में भी भाजपा तथा द्रमुक के बीच सीधा मुकाबला होगा'

चेन्नई/दक्षिण भारत/भाषा। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की तमिलनाडु इकाई में मतभेद सामने आने के बावजूद पार्टी के प्रदेश प्रमुख के. अन्नामलाई को अगले लोकसभा चुनाव में राज्य में ‘कमल खिलने’ की उम्मीद है।

अन्नामलाई ने पार्टी के नेताओं को यह भी स्पष्ट कर दिया है कि या तो वे बेहतर प्रदर्शन करें, या प्रतिभाशाली लोगों को आगे आने का मौका दें, भले ही वे नए क्यों नहीं हों।

पार्टी के प्रदेश उपाध्यक्ष एम चक्रवर्ती ने कहा, ‘अन्नामलाई का यह बयान कि बस से कुछ यात्रियों के उतर जाने पर नए यात्रियों को जगह मिलेगी, पार्टी सदस्यों के को बेहतर प्रदर्शन करने की चेतावनी के तौर पर देखा जा रहा है।’

उन्होंने कहा, ‘2024 के लोकसभा चुनाव और 2026 के विधानसभा चुनावों में भी भाजपा तथा द्रमुक के बीच सीधा मुकाबला होगा।’

पार्टी को नुकसान पहुंचाने वाले कुछ कार्यकर्ताओं के विरुद्ध अपनी कड़ी कार्रवाई का जिक्र करते हुए अन्नामलाई ने हाल में कहा था, ‘कुछ यात्रियों के बस से उतरने पर ही नये यात्रियों को जगह मिला करती है।’

उन्होंने यहां मीडियाकर्मियों से व्यंग्यात्मक अंदाज में कहा था, ‘क्या भरी हुई बस में और यात्रियों को सवार किया जा सकता है? देखिए, जब मैं आपसे बात कर रहा हूं, तो बस में कई यात्री सवार हैं।’

भाजपा कार्यकर्ता तिरुचि सूर्या शिवा और पार्टी के अल्पसंख्यक मोर्चा के नेता डी. सरन के बीच कथित बातचीत का ऑडियो लीक होने के विषय पर अन्नामलाई ने कहा कि भाजपा हर किसी की पार्टी है।

उन्होंने कहा, ‘जो भी गलती करेगा, मैं उसे नहीं छोडूंगा। सिक्के के दो पहलू होते हैं। इसकी जांच की जानी चाहिए। राजनीतिक मर्यादा होनी चाहिए। भाजपा एक अलग तरह की पार्टी है। मैं अनुशासनहीनता नहीं बर्दाश्त करूंगा।’

सोशल मीडिया पर सामने आये इस ऑडियो में सुना जा सकता है कि सरन को सूर्या धमकी दे रहे हैं और अशिष्ट भाषा का भी इस्तेमाल कर रहे हैं। सूर्या, द्रमुक सांसद तिरुचि शिवा के पुत्र हैं।

सरन को सूर्या द्वारा कथित रूप से जान से मारने की धमकी दिए जाने के बारे में पूछे जाने पर भाजपा की प्रदेश इकाई के अध्यक्ष ने कहा कि कठोर अनुशासनात्मक कार्रवाई जारी रहेगी। उन्होंने कहा, ‘जो लोग भी लक्ष्मण रेखा पार करेंगे, उन्हें दंडित किया जाएगा ... यह महज शुरुआत है। यह पार्टी हर किसी की है।’

ऑडियो के लीक होने के बाद भाजपा ने सूर्या को पार्टी के अन्य पिछड़ा वर्ग मोर्चा के महासचिव पद से हटा दिया है और जांच लंबित रहने तक उनपर पार्टी के कार्यक्रमों में शामिल होने पर रोक लगा दी है। सूर्या इस साल मई में भाजपा में शामिल हुए थे।

अभिनय से राजनीति में आईं गायत्री रघुरामम ने आरोप लगाया कि उन्हें काशी तमिल संगमम में शामिल होने का न्योता नहीं दिया गया। इस पर, भाजपा के एक वरिष्ठ नेता ने कहा कि पार्टी आलाकमान ने इस धरोहर कार्यक्रम से पार्टी को अलग रखा था। रघुरामम का यह भी आरोप है कि वरिष्ठ नेताओं को दरकिनार किया जा रहा है तथा नए लोगों को बढ़ावा दिया जा रहा है।

अन्नामलाई ने उन्हें भाजपा को बदनाम करने को लेकर छह माह के लिए पार्टी से निलंबित कर दिया।

Google News

About The Author

Post Comment

Comment List

Advertisement

Latest News