'लक्ष्मण रेखा' का उल्लंघन करने पर किसी को बख्शा नहीं जाएगा: अन्नामलाई

उन्होंने कहा कि पार्टी के अनुशासन का उल्लंघन करने वालों को बख्शूंगा नहीं जाएगा

'लक्ष्मण रेखा' का उल्लंघन करने पर किसी को बख्शा नहीं जाएगा: अन्नामलाई

'कोई भी हो, पार्टी की लक्ष्मण रेखा के विपरीत जाने पर उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी'

चेन्नई/दक्षिण भारत। पार्टी अनुशासन का उल्लंघन करने के आरोप में छह महीने के लिए गायत्री रघुराम को पद से हटाने के एक दिन बाद, राज्य भाजपा अध्यक्ष के अन्नामलाई ने कहा कि वे पार्टी की 'लक्ष्मण रेखा' का उल्लंघन करने वाले को नहीं बख्शेंगे। उन्होंने संकेत दिया कि डांस कोरियोग्राफर से राजनेता बने रघुराम के खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई सिर्फ एक शुरुआत है। उन्होंने कहा कि अनुशासन का उल्लंघन करने वालों को आने वाले दिनों में पार्टी से बाहर करने के लिए कार्रवाई जारी रहेगी।

उन्होंने कहा कि पार्टी के अनुशासन का उल्लंघन करने वालों को मैं बख्शूंगा नहीं। कोई भी हो, पार्टी की लक्ष्मण रेखा के विपरीत जाने पर उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। अन्नामलाई ने बुधवार को चेन्नई में कहा कि अगले 10 दिनों में, परेशानी पैदा करने वाले व्यक्तियों को हटाने और पार्टी को आगे बढ़ाने के लिए कार्रवाई की जाएगी।

गायत्री रघुराम ने बयान दिया कि अन्नामलाई ने उन्हें मुख्यमंत्री एमके स्टालिन के दामाद सबरीसन से मिलने के लिए पार्टी से निकाल दिया। नेता ने कहा कि यह उनका बयान था और उनके पास इस बारे में टिप्पणी करने के लिए कुछ नहीं है।

ओबीसी स्टेट विंग के नेता सूर्य शिव और स्टेट माइनॉरिटी विंग की नेता डेजी सरन के बीच टेलीफोन पर हुई विवादित बातचीत की जांच पर उन्होंने कहा कि उन्होंने गुरुवार शाम तक रिपोर्ट मांगी है। दोनों को समिति के समक्ष पेश होने को कहा गया है। कमेटी की रिपोर्ट आने के बाद कार्रवाई की जाएगी।

अन्नामलाई ने पार्टी को एक बस, ड्राइवर को प्रदेश अध्यक्ष और महासचिवों को कंडक्टर की बराबरी करते हुए कहा कि अगर पार्टी को आगे बढ़ना है तो ड्राइवर और कंडक्टर को अच्छा प्रदर्शन करना चाहिए। उन्हें नए यात्रियों (दूसरे दलों से आए नए लोगों) के लिए जगह बनानी होगी। कोई भी लंबी दूरी और समय के लिए सीट पर कब्जा नहीं कर सकता है।

About The Author

Post Comment

Comment List