गायक-संगीतकार बप्पी लाहिड़ी का निधन

गायक-संगीतकार बप्पी लाहिड़ी का निधन

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बप्पी लाहिड़ी के निधन पर शोक व्यक्त करते हुए कहा कि उनका संगीत विविध भावनाओं को खूबसूरती से व्यक्त करता है


मुंबई/भाषा/दक्षिण भारत। भारत में 80 और 90 के दशक में डिस्को संगीत को लोकप्रिय बनाने वाले गायक-संगीतकार बप्पी लाहिड़ी का स्वास्थ्य संबंधी कई दिक्कतों के बाद निधन हो गया है। उनका इलाज कर रहे एक डॉक्टर ने बुधवार को यह जानकारी दी। लाहिड़ी का जुहू के क्रिटिकेयर हॉस्पिटल में मंगलवार रात को निधन हो गया। वह 69 वर्ष के थे।

अस्पताल के निदेशक डॉ. दीपक नमजोशी ने कहा, ‘लाहिड़ी करीब एक महीने से अस्पताल में भर्ती थे और उन्हें सोमवार को अस्पताल से छुट्टी दी गई थी, लेकिन उनकी सेहत मंगलवार को बिगड़ गई और उनके परिवार ने एक डॉक्टर को घर बुलाया। उन्हें अस्पताल लाया गया। उन्हें स्वास्थ्य संबंधी कई दिक्कतें थी। उनकी देर रात ओएसए (ऑब्सट्रक्टिव स्लीप एप्निया) के कारण मौत हो गई।’

सोने की मोटी चेन और चश्मा पहनने के लिए पहचाने जाने वाले गायक-संगीतकार ने 70-80 के दशक में कई फिल्मों में गाने गाए जो काफी हिट रहे। इन फिल्मों में ‘चलते-चलते’, ‘डिस्को डांसर’ और ‘शराबी’ शामिल हैं। उनका आखिरी बॉलीवुड गीत 2020 में आई फिल्म ‘बागी 3’ के लिए ‘भंकस’ था।

प्रधानमंत्री ने किया शोक व्यक्त 
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बप्पी लाहिड़ी के निधन पर शोक व्यक्त करते हुए कहा कि उनका संगीत विविध भावनाओं को खूबसूरती से व्यक्त करता है।

प्रधानमंत्री ने ट्वीट किया, ‘बप्पी लाहिड़ीजी के संगीत ने विविध भावनाओं को खूबसूरती से व्यक्त किया। कई पीढ़ियों के लोग उनके संगीत से जुड़ाव महसूस कर सकते हैं। हर कोई उनकी जिंदादिली को याद करेगा। मैं उनके निधन से दुखी हूं। मैं उनके परिवार और प्रशंसकों के प्रति संवेदना व्यक्त करता हूं। ओम शांति।’

लाहिड़ी ने पश्चिम बंगाल में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के टिकट पर चुनाव लड़ा था, लेकिन वह जीत नहीं पाए थे।

देश-दुनिया के समाचार FaceBook पर पढ़ने के लिए हमारा पेज Like कीजिए, Telagram चैनल से जुड़िए

Tags:

About The Author

Post Comment

Comment List

Advertisement

Advertisement