अक्षय ने बताया- इस वजह से बनवाया था कनाडा का पासपोर्ट!

अक्षय ने बताया- इस वजह से बनवाया था कनाडा का पासपोर्ट!

Akshay Kumar

नई दिल्ली/भाषा। बॉलीवुड अभिनेता अक्षय कुमार ने कहा कि उन्होंने कभी सोचा नहीं था कि उन्हें अपनी भारतीयता साबित करने के लिए दस्तावेज की जरूरत पड़ेगी। कुमार ने कहा कि नागरिकता संबंधी विवाद के बाद वह अपने कनाडाई पासपोर्ट को छोड़कर भारतीय पासपोर्ट ले रहे हैं।

52 वर्षीय अभिनेता ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का अप्रैल में साक्षात्कार लिया था और लोकसभा चुनाव के दौरान मुंबई में वोट नहीं डाला था। इसके बाद उनकी नागरिकता को लेकर कयासों का दौर शुरू हो गया था। उन्होंने उस वक्त एक बयान में कहा था कि इस बात से कभी इनकार नहीं किया कि उनके पास कनाडाई पासपोर्ट है।

कुमार ने यहां एक कार्यक्रम में कनाडा का पासपोर्ट लेने के पीछे की परिस्थितियों के बारे में बताया। कुमार ने कहा, एक समय था जब मेरी 14 फिल्में फ्लॉप हुई थीं और मैंने सोचा कि मुझे कुछ और काम करना होगा। मेरा एक करीबी दोस्त कनाडा में रहता है और उसने मुझे वहां आने के लिए कहा। उन्होंने कहा कि हम किसी चीज पर साथ काम करेंगे। वह भी भारतीय है लेकिन वहां रहता है।

अभिनेता ने कहा, फिर मैंने अपनी प्रक्रिया शुरू कर दी, मुझे अपना पासपोर्ट और अन्य सामान मिल गया क्योंकि मुझे लगा कि मेरा करियर समाप्त हो गया है। मुझे अब यहां काम नहीं मिलेगा। मेरी 15वीं फिल्म सफल हुई और उसके बाद मैंने कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा। मैं आगे बढ़ता रहा और मैंने अपने पासपोर्ट को बदलवाने के बारे में कभी नहीं सोचा।

उन्होंने कहा कि विवाद के बाद उन्होंने भारतीय पासपोर्ट के लिए आवेदन करने का फैसला किया है। कुमार ने कहा, मैंने अब इसके लिए (पासपोर्ट) आवेदन किया है क्योंकि मुझे दुख होता है कि लोग इस बात पर अड़ गए हैं कि मुझे भारतीय होने का प्रमाण देने के लिए अपना पासपोर्ट दिखाना होगा। यह मुझे दुःख देता है। इसलिए मैं किसी को मौका नहीं देना चाहता और इसलिए मैंने इसके लिए (पासपोर्ट) आवेदन किया है। उन्होंने कहा कि उनकी पत्नी, बच्चे और परिवार के अन्य सदस्य सब भारतीय हैं। वे यहीं रहते हैं और यहीं टैक्स देते हैं।

Tags:

About The Author

Post Comment

Comment List

Advertisement

Advertisement

Latest News

एग्जिट पोल: गुजरात की तरह कर्नाटक​ में भी सत्ता में वापसी कर सकेगी भाजपा? बोम्मई ने दिया यह जवाब एग्जिट पोल: गुजरात की तरह कर्नाटक​ में भी सत्ता में वापसी कर सकेगी भाजपा? बोम्मई ने दिया यह जवाब
मुख्यमंत्री ने कहा, बेशक, कर्नाटक में भी अच्छे परिणाम होंगे
कर्नाटक सरकार राज्य के अंदर और बाहर कन्नडिगों के हितों की रक्षा के लिए प्रतिबद्ध: बोम्मई
अफगानिस्तान: सड़क किनारे बम धमाका कर पेट्रोलियम कंपनी के 7 कर्मचारियों को बस समेत उड़ाया
भारतीय अर्थव्यवस्था के लिए अच्छी खबर, विश्व बैंक ने वृद्धि दर अनुमान इतना बढ़ाया
सीमा विवाद: महाराष्ट्र के मंत्रियों के बेलगावी जाने की संभावना नहीं!
बाबरी विध्वंस के तीन दशक बाद अब क्या कहते हैं अयोध्या के लोग?
जनता की प्रतिक्रिया