‘लंदन ठुमकदा’ पर अमेरिका के सुपर मार्केट में जमकर नाचे लोग, वीडियो वायरल

‘लंदन ठुमकदा’ पर अमेरिका के सुपर मार्केट में जमकर नाचे लोग, वीडियो वायरल

london thumakda viral video

कैलिफॉर्निया/दक्षिण भारत। अमेरिका के कैलिफॉर्निया में एक सुपर मार्केट में बॉलीवुड फिल्म ‘क्वीन’ के गाने ‘लंदन ठुमकदा’ पर जोरदार डांस किया गया। इसका एक वीडियो सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रहा है। बताया गया कि यह डांस वीडियो एक महिला के लिए बनाया गया जिसे गंभीर बीमारी थी। उसे बॉलीवुड फिल्में और गाने बेहद पसंद हैं। वीडियो में देखा गया कि सुपर मार्केट में लोग आम दिनों की तरह ही खरीदारी में व्यस्त हैं। तभी संगीत की धुन गूंजने लगती है और लोग खरीदारी छोड़ डांस करने आ जुटते हैं।

इस ग्रुप के एक सदस्य ने जानकारी दी कि कैंसर और ल्यूकोमिया जैसी बीमारियों को हराकर दोबारा स्वस्थ होने वाले लोगों के लिए हम ऐसे आयोजन करते रहते हैं। उनकी एक दोस्त को ल्यूकोमिया था। इलाज और इच्छाशक्ति के बाद अब वे सामान्य ज़िंदगी जी रही हैं। चूंकि उन्हें बॉलीवुड में दिलचस्पी है, इसलिए ‘क्वीन’ फिल्म के गाने का चयन किया गया।

उन्होंने बताया कि यह अचानक होने वाला आयोजन है। इसके लिए पहले से ​कोई बड़ी तैयारी नहीं की जाती। इसमें शामिल होने के लिए कोई सख्त नियम भी नहीं हैं। कोई भी व्यक्ति इसमें शामिल होकर दूसरों के साथ खुशियां बांट सकता है। इसका मकसद दूसरों के जीवन में खुशियां बांटना है। सोशल मीडिया में वीडियो खूब पसंद किया जा रहा है।

Google News
Tags:

About The Author

Related Posts

Post Comment

Comment List

Advertisement

Latest News

बीते 10 वर्षों में जनजातीय समाज, गरीबों, युवाओं, महिलाओं को सर्वोच्च प्राथमिकता बनाकर काम किया: मोदी बीते 10 वर्षों में जनजातीय समाज, गरीबों, युवाओं, महिलाओं को सर्वोच्च प्राथमिकता बनाकर काम किया: मोदी
प्रधानमंत्री ने कहा कि मैंने संकल्प लिया था कि सिंदरी के इस खाद कारखाने को जरूर शुरू करवाऊंगा
विधानसभा अध्यक्ष के आदेश के खिलाफ ठाकरे गुट की याचिका पर 7 मार्च को सुनवाई करेगा उच्चतम न्यायालय
बांग्लादेश: ढाका की बहुमंजिला इमारत में आग लगने से 45 लोगों की मौत
हिंसा का चक्र कब तक?
उदित राज ने भाजपा पर दलितों, पिछड़ों, महिलाओं और आदिवासियों की अनदेखी का आरोप लगाया
केंद्रीय कैबिनेट ने 75 हजार करोड़ रुपए की रूफटॉप सोलर योजना को मंजूरी दी
मंदिर संबंधी विधेयक कर्नाटक विधानसभा से फिर पारित हुआ