कारोबार सुगमता सूची में भारत ने लगाई 14 स्थान की छलांग, विश्व में 63वीं रैंक

कारोबार सुगमता सूची में भारत ने लगाई 14 स्थान की छलांग, विश्व में 63वीं रैंक

सांकेतिक चित्र

वॉशिंगटन/भाषा। विश्वबैंक की कारोबार सुगमता सूची में भारत ने 14 स्थान की छलांग लगाई है और अब वह दुनिया का 63वां ऐसा देश है जहां कारोबार करना सुगम है। विश्वबैंक ने यह सूची बृहस्पतिवार को जारी की।

भारत उन शीर्ष दस देशों में शामिल है जिन्होंने इस सूची में सबसे बेहतर प्रदर्शन किया है। यह तीसरी दफा है जब भारत सबसे शानदार प्रदर्शन करने वाले देशों में शीर्ष दस में शामिल रहा है। इसकी प्रमुख वजह दिवाला एवं ऋणशोधन अक्षमता संहिता को कुशल और सफल तरीके से लागू करना है।

इससे पिछली सूची में 190 देशों में भारत 77वें स्थान पर था। कारोबार सुगमता सूची में न्यूजीलैंड शीर्ष पर बना हुआ है। इसके बाद क्रमश: सिंगापुर, हांगकांग का स्थान है। दक्षिण कोरिया सूची में पांचवे और अमेरिका छठे स्थान पर है।

भारत के लिए इस सूची में स्थान सुधरना एक राहत भरा मौका है। यह सूची ऐसे समय में आई है जब भारतीय रिजर्व बैंक, विश्वबैंक और अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष ने देश की आर्थिक वृद्धि दर के अनुमान में कमी की है।

कारोबार सुगमता सूची-2020 में विश्वबैंक ने भारत की अर्थव्यवस्था के आकार को देखते हुए सरकार द्वारा किए गए सुधार प्रयासों की सराहना की है।

विश्वबैंक में विकास अर्थशास्त्र के निदेशक सिमोन जानकोव ने एक साक्षात्कार में कहा, यह लगातार तीसरा साल है जब भारत ‘कारोबार सुगमता’ की दिशा में सबसे बेहतर प्रदर्शन करने वाले शीर्ष दस देशों में शामिल रहा है। पिछले 20 साल में ऐसा करने में कुछ देश ही सफल रहे हैं। अविश्वसनीय रूप से ऐसा करने वाले अन्य देश जनसंख्या और आकार इत्यादि के मामले में बेहद छोटे (भारत के मुकाबले) हैं।

उन्होंने कहा कि भारत ऐसा पहला देश है जिसने ऐसा कीर्तिमान हासिल किया है। इस साल उसकी रैंकिंग में 14 स्थान का सुधार हुआ है।

सबसे बेहतर प्रदर्शन करने वाले 10 शीर्ष देशों में चीन, बहरीन, सऊदी अरब, जॉर्डन, कुवैत, तोगो, तजाकिस्तान, पाकिस्तान और नाइजीरिया हैं।

Google News
Tags:

About The Author

Post Comment

Comment List

Advertisement

Latest News

विपक्ष पर मोदी का प्रहार- इस बार तो इन्हें जमानत बचाने के लिए ही बहुत संघर्ष करना पड़ेगा विपक्ष पर मोदी का प्रहार- इस बार तो इन्हें जमानत बचाने के लिए ही बहुत संघर्ष करना पड़ेगा
प्रधानमंत्री ने कहा कि छह दशक के परिवारवाद, भ्रष्टाचार और तुष्टीकरण ने उप्र को विकास में पीछे रखा
प्रधानमंत्री मोदी के कुशल नेतृत्व ने भारत को नई ऊंचाइयों पर पहुंचाया: नड्डा
अगले पांच वर्षों में देश आत्मविश्वास से विकास को नई रफ्तार देगा, यह मोदी की गारंटी: प्रधानमंत्री
मुख्य चुनाव आयुक्त ने तमिलनाडु में लोकसभा चुनाव की तैयारियों की समीक्षा शुरू की
तेलंगाना: बीआरएस विधायक नंदिता की सड़क दुर्घटना में मौत; मुख्यमंत्री, केसीआर ने जताया शोक
अमेरिका की इस निजी कंपनी ने चंद्रमा पर पहला वाणिज्यिक अंतरिक्ष यान उतारकर इतिहास रचा
पश्चिम बंगाल: भाजपा प्रतिनिधिमंडल संदेशखाली का दौरा करेगा