जुलाई में जीएसटी संग्रह एक लाख करोड़ रुपए के पार

जुलाई में जीएसटी संग्रह एक लाख करोड़ रुपए के पार

सांकेतिक चित्र

नई दिल्ली/भाषा। माल एवं सेवाकर (जीएसटी) का सकल संग्रह जुलाई में 1.02 लाख करोड़ रुपए रहा। यह पिछले महीने के संग्रह के मुकाबले थोड़ी बेहतर स्थिति है। यह जानकारी बृहस्पतिवार को जारी आधिकारिक आंकड़ों में सामने आई है।

हालांकि, यह एक साल पहले जुलाई के 96,483 करोड़ रुपए के जीएसटी संग्रह से 5.8 प्रतिशत अधिक है। चालू वित्त वर्ष में जीएसटी संग्रह पिछले महीने जून में पहली बार एक लाख करोड़ रुपए के स्तर से नीचे 99,939 करोड़ रुपए पर गया था।

आंकड़ों के अनुसार जुलाई 2019 में केंद्रीय जीएसटी संग्रह 17,912 करोड़ रुपए, राज्य जीएसटी 25,008 करोड़ रुपए और एकीकृत जीएसटी 50,612 करोड़ रुपए रहा। एकीकृत जीएसटी में आयात पर वसूला गया 24,246 करोड़ रुपये का जीएसटी भर शामिल है।

इसके अलावा उपकर का संग्रह 8,551 करोड़ रुपए रहा जिसमें आयात पर 797 करोड़ रुपए का उपकर भी शामिल है।जुलाई में 75.79 लाख जीएसटीआर 3बी रिटर्न दाखिल किए गए।

बयान के अनुसार राज्यों को जीएसटी में नुकसान के मुआवजे के तौर पर अप्रैल-मई अवधि के लिए 17,789 करोड़ रुपए की राशि जारी की गई है।

अप्रैल से जुलाई में सकल जीएसटी संग्रह 4,16,176 करोड़ रुपए रहा। यह पिछले वित्त वर्ष की इसी अवधि में 3,89,568 करोड़ रुपए था।

Google News
Tags:

About The Author

Post Comment

Comment List

Advertisement

Latest News

विपक्ष पर मोदी का प्रहार- इस बार तो इन्हें जमानत बचाने के लिए ही बहुत संघर्ष करना पड़ेगा विपक्ष पर मोदी का प्रहार- इस बार तो इन्हें जमानत बचाने के लिए ही बहुत संघर्ष करना पड़ेगा
प्रधानमंत्री ने कहा कि छह दशक के परिवारवाद, भ्रष्टाचार और तुष्टीकरण ने उप्र को विकास में पीछे रखा
प्रधानमंत्री मोदी के कुशल नेतृत्व ने भारत को नई ऊंचाइयों पर पहुंचाया: नड्डा
अगले पांच वर्षों में देश आत्मविश्वास से विकास को नई रफ्तार देगा, यह मोदी की गारंटी: प्रधानमंत्री
मुख्य चुनाव आयुक्त ने तमिलनाडु में लोकसभा चुनाव की तैयारियों की समीक्षा शुरू की
तेलंगाना: बीआरएस विधायक नंदिता की सड़क दुर्घटना में मौत; मुख्यमंत्री, केसीआर ने जताया शोक
अमेरिका की इस निजी कंपनी ने चंद्रमा पर पहला वाणिज्यिक अंतरिक्ष यान उतारकर इतिहास रचा
पश्चिम बंगाल: भाजपा प्रतिनिधिमंडल संदेशखाली का दौरा करेगा