भारत करेगा विकासशील देशों से सहयोग : कनिमोई

भारत करेगा विकासशील देशों से सहयोग : कनिमोई

चेन्नई/संयुक्त राष्ट्र/दक्षिण भारतभारत ने कहा कि सतत विकास लक्ष्य हासिल करने के लिए विकासशील देशों के आपसी सहयोग की भावना के तहत वह विकासशील देशों के साथ सहयोग करना जारी रखेगा। यह बात द्रमुक सांसद कनिमोई ने यहां कही। भारतीय सांसदों का एक प्रतिनिधिमंडल संयुक्त राष्ट्र महासभा की छह समितियों के विभिन्न सत्रों में शामिल होने संयुक्त राष्ट्र आया हुआ है। कनिमोई इस प्रतिनिधिमंडल में शामिल हैं।भारत से विभिन्न दलों के सांसदों का एक समूह हर साल कुछ सप्ताह के लिए संयुक्त राष्ट्र का दौरा करता है। ये सांसद यहां विभिन्न सत्रों में हिस्सा लेते हैं और सामयिक मुद्दों पर भारत की स्थिति बताते हैं। कनिमोई ने सोमवार को कहा, भारत ने सतत विकास के लिए २०३० के एजेंडे को अंतिम रूप देने में सक्रिय भूमिका निभाई थी। समावेशी और सतत विकास के लिए जारी हमारे राष्ट्रीय प्रयास वैश्विक एजेंडे के साथ मेल बैठाते हुए चल रहे हैं। महासभा की दूसरी समिति, जो आर्थिक एवं वित्तीय मुद्दों से संबंधित है, में सतत विकास सत्र में बोलते हुए उन्होंने कहा, भारत अपने लोगों के सतत विकास की दिशा में अपने मजबूत प्रयासों तथा सतत विकास लक्ष्य हासिल करने के लिए विकासशील देशों के बीच सहयोग की भावना के तहत विकासशील देशों से सहयोग करना जारी रखेगा। सतत विकास के तहत गरीबी रेखा से नीचे लाखों लोगों की आशाओं और आकांक्षाओं का समाधान करना होगा तथा गरीबों और वंचित तबके को केंद्र में रखना होगा। कनिमोई ने कहा कि भारत दृ़ढ राजनीतिक प्रतिबद्धता के साथ प्रत्येक सतत विकास लक्ष्य पर आगे ब़ढ रहा है। भारत ने महासचिव के संयुक्त राष्ट्र विकास प्रणाली के समग्र सुधार प्रस्तावों का पूरा समर्थन किया है। उचित कदमों के जरिए सतत विकास के तहत जलवायु परिवर्तन की समस्या का समाधान करना होगा, कनिमोई ने कहा कि भारत जलवायु परिवर्तन पर फोकस को नया रूप देने की महासचिव की पहल का स्वागत करता है।

Google News
Tags:

About The Author

Post Comment

Comment List

Advertisement

Latest News