जनता दल-एस अकेले दम पर लड़ेगा विधानसभा चुनाव

जनता दल-एस अकेले दम पर लड़ेगा विधानसभा चुनाव

मेंगलूरु। जनता दल (एस) ने राज्य विधानसभा चुनाव में सभी २२४ सीटों पर अपने प्रत्याशी ख़डे करने का निर्णय लिया है। पार्टी सुप्रीमो और पूर्व प्रधानमंत्री एचडी देवेगौ़डा ने सोमवार को यहां पत्रकारों से बातचीत में कहा कि पार्टी यह चुनाव अकेले दम पर ल़डेगी। बहरहाल, चुनाव के समय तक पार्टी अपनी प्रत्याशी सूची में वामपंथी पार्टियों के लिए कुछ स्थान छो़डेगी। अगर वामपंथी दल अंतिम समय तक भी जनता दल (एस) के साथ चुनावी समझौता करना चाहें तो उनका स्वागत किया जाएगा। उन्होंने कहा कि कांग्रेस या भाजपा के साथ किसी चुनावी गठजो़ड का कोई सवाल ही नहीं उठता है। वहीं, सोशल डेमोक्रेटिक पार्टी ऑफ इंडिया (एसडीपीआई) के साथ भी किसी प्रकार की समझबूझ कायम होने की गुंजाइश से देवेगौ़डा ने इन्कार कर दिया। चुनाव परिणाम में त्रिशंकु विधानसभा की स्थिति उत्पन्न होने पर कांग्रेस को जनता दल (एस) के समर्थन की संभावना के बारे में पत्रकारों द्वारा पूछे गए एक प्रश्न के उत्तर में देवेगौ़डा ने कहा, ’’वर्ष २००४ के विधानसभा चुनाव में जनता दल (एस) को ५८ सीटों पर जीत मिलने के बावजूद कांग्रेस को अपना समर्थन देकर मैं अपनी उंगली जला चुका हूं। अब इस प्रकार के गठजो़ड का सवाल नहीं उठता। पार्टी हर जिले में कम से कम एक सीट जीतने का प्रयास करेगी ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि विधानसभा में हर जिले का समुचित प्रतिनिधित्व हो।’’देवेगौ़डा ने कहा कि आगामी चुनाव के लिए फरवरी के अंत तक वह अपनी पार्टी के प्रत्याशियों की अंतिम सूची जारी कर देंगे। जनता दल (एस) अपने विचारों और सिद्धांतों के दम पर चुनाव में जीत दर्ज करना चाहेगी। अपनी ही नीतियों और कार्यक्रमों के लिए जनता से वोट मांगा जाएगा। चुनाव प्रचार में कांग्रेस या भाजपा पर हमला करने की कोई मंशा पार्टी की नहीं है। उन्होंने कहा कि जनता दल (एस) फरवरी के दूसरे हफ्ते मेंगलूरु में एक रैली आयोजित करेगा। एक प्रश्न के उत्तर में देवेगौ़डा ने कहा कि महादयी नदी के जल बंटवारे पर गोवा से कर्नाटक के विवाद पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की चुप्पी से उन्हें निराशा हुई है। उन्हें यह मुद्दा सुलझाने के लिए हस्तक्षेप करना चाहिए, ताकि यह विवाद जल विवाद पंचाट से बाहर दोनों राज्यों की आपसी बातचीत से सुलझाया जा सके।

Google News
Tags:

About The Author

Post Comment

Comment List

Advertisement

Latest News

पहले की सरकारें ग्रामीण अर्थव्यवस्था की जरूरतों को टुकड़ों में देखती थीं: मोदी पहले की सरकारें ग्रामीण अर्थव्यवस्था की जरूरतों को टुकड़ों में देखती थीं: मोदी
प्रधानमंत्री ने कहा कि पिछले 10 वर्षों में भारत में दूध उत्पादन में करीब 60 प्रतिशत वृद्धि हुई है
ईडी ने अरविंद केजरीवाल को नया समन जारी किया
सीबीआई ने सत्यपाल मलिक के परिसरों सहित 30 से अधिक स्थानों पर छापे मारे
निवेश पर उच्च रिटर्न का वादा कर एक शख्स से 1.19 करोड़ रु. ठगे
नशे की प्रवृत्ति पर लगाम जरूरी
कर्नाटक सरकार ने अधिवक्ताओं के खिलाफ प्राथमिकी पर उप-निरीक्षक को निलंबित किया
'हार रहे उम्मीदवारों को जिताया' ... पाक के चुनावों में 'धांधली' के आरोपों पर क्या बोला अमेरिका?